Saturday, June 12, 2021
Home राजनीति 128 मौतें, 21 शपथ, 500 मेहमान: वामपंथी पॉलिटिक्स का एक चैप्टर यह भी

128 मौतें, 21 शपथ, 500 मेहमान: वामपंथी पॉलिटिक्स का एक चैप्टर यह भी

विजयन का शपथ ग्रहण समारोह वामपंथ के वैचारिक दोगलेपन में जो नया 'नगीना' जोड़ गया है, उसकी चमक आने वाली पीढ़ियों को भी इस राजनीतिक विचारधारा को दफन करने को प्रेरित करती रहेंगी।

भारत की वामपंथी राजनीति के कई प्रतीक चिह्न हैं। चाहे वह लाल किले पर लाल सलाम का नारा हो या फिर एक माँ को अपने ही बेटे के खून से सना चावल खाने को मजबूर करना। 2021 का 20 मई इसमें एक नई तारीख जोड़ गया। चीनी वायरस से अक्रांत देश के एक प्रदेश में वामपंथ के एक ‘नायक’ ने लोकतंत्र की आड़ लेकर, जनभावनाओं को ठेंगा दिखाकर मनमर्जी का जलसा कर ही लिया।

हम बात कर रहे हैं केरल के मुख्यमंत्री और उनके 20 कैबिनेट सहयोगियों के हुए शपथ ग्रहण समारोह की। पहली नजर में सब कुछ संवैधानिक रवायतों के अनुसार हुआ लगता है। एक ऐसा समारोह जो हर साल हम देखते ही रहते हैं। मंच पर एक-एक कर आते नेता और शपथ दिलाते राज्यपाल। मंच के नीचे से उन्हें ताकते और गौरवान्वित होते चेहरे। एक मुख्यमंत्री को प्रधानमंत्री की बधाई।

लेकिन, जब हम उन हालातों पर गौर करते हैं जिसमें यह सब कुछ हुआ तो हमें विषैले वामपंथ का अहसास होता है। देश ही कोरोना से नहीं जूझ रहा। केरल भी बेदम है। अपने तथाकथित मॉडल का ढोल पीटने के बावजूद वह संक्रमण के लिहाज से देश का तीसरा सबसे बदतर राज्य है। जिस दिन पिनराई विजयन ने अपने कैबिनेट सहयोगियों के साथ शपथ ली है, उसी दिन राज्य में संक्रमण से 128 लोगों की मौत हुई है। संक्रमण के 30491 नए मामले सामने आए हैं। राज्य में संक्रमितों के कुल एक्टिव केस 3,17,850 हैं और अब तक 6852 मौतें हो चुकी हैं।

ऐसा नहीं है कि विजयन के सामने नजीर नहीं था या वे अतीत से सबक नहीं ले सकते थे। उनके साथ ही चुनावों में विजय हुईं ममता बनर्जी और हिमंत बिस्वा सरमा जैसों का शपथ ग्रहण समारोह बीते ज्यादा दिन भी नहीं हुए हैं। पश्चिम बंगाल में तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) और असम में बीजेपी भी केरल की वामपंथी मोर्चे की तरह ही सत्ता में वापसी करने में सफल रहे हैं। सरमा तो पहली बार मुख्यमंत्री बने हैं। लेकिन, महामारी के हालातों के मद्देनजर इन्होंने शपथ की संवैधानिक रवायत को पूरा किया, पर उसे जश्न का मौका नहीं बनने दिया।

विजयन चाहते तो वह जनभावनाओं की कद्र कर भी इस समारोह को टाल सकते थे। समारोह पर रोक को लेकर अदालत का भी दरवाजा खटखटाया गया था। लेकिन, यह कानून से ज्यादा नैतिकता का मसला था, जिसकी अपेक्षा सामान्य परिस्थितियों में वामपंथियों से नहीं की जाती। पर मौजूदा परिस्थिति सामान्य नहीं थी। सो यह उम्मीद लाजिमी थी कि विजयन शायद उस जनता के दर्द को समझेंगे जिसने उनको दोबारा मौका दिया है।

दिलचस्प यह भी है कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच प्रधानमंत्री की रैलियों को लेकर यही जमात हमलावर था। ये वही जमात है जिसने बिहार विधानसभा चुनाव के वक्त वचुर्अल रैली करने के चुनाव आयोग के प्रस्ताव को ठुकरा दिया था। लेकिन, इस बार जब चुनाव के दौरान हालात बिगड़ने लगे तो आयोग को कसूरवार ठहराया। उस पर बीजेपी के एजेंट होने का आरोप तक लगाया गया।

यह सही है कि विजयन लोकतंत्र की दुहाई देकर इन आरोपों को खारिज कर सकते हैं। लेकिन, उनके इस शपथ ग्रहण समारोह ने वामपंथ के वैचारिक दोगलेपन में जो नया ‘नगीना’ जोड़ा है, उसकी चमक आने वाली पीढ़ियों को भी इस राजनीतिक विचारधारा को दफन करने को प्रेरित करती रहेंगी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

अजीत झा
देसिल बयना सब जन मिट्ठा

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

न जॉब रही, न कार्टून बिक रहे… अब PM मोदी को कोस रहे: ट्विटर के मेल के सहारे वामपंथी मीडिया का प्रपंच

मंजुल के सहयोगी ने बताया कि मंजुल अपने इस गलत फैसले के लिए बाहरी कारणों को दोष दे रहे हैं और आशा है कि जो पब्लिसिटी उन्हें मिली है उससे अब वो ज्यादा पैसे कमा रहे होंगे।

UP के ‘ऑपरेशन’ क्लीन में अतीक गैंग की ₹46 करोड़ की संपत्ति कुर्क, 1 साल में ₹2000 करोड़ की अवैध प्रॉपर्टी पर हुई कार्रवाई

पिछले 1 हफ्ते में अतीक गैंग के सदस्यों की 46 करोड़ रुपए की संपत्ति कुर्क की गई और अब आगे 22 सदस्य ऐसे हैं जिनकी कुंडली प्रयागराज पुलिस लगातार खंगाल रही है।

कॉन्ग्रेस की सरकार आई तो अनुच्छेद-370 फिर से: दिग्विजय सिंह ने पाक पत्रकार को दिया संकेत, क्लब हाउस चैट लीक

दिग्विजय सिंह एक पाकिस्तानी पत्रकार से जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाए जाने के फैसले पर बोल रहे हैं। क्लब हाउस चैट का यह ऑडियो...

‘भाईजान’ के साथ निकाह से इनकार, बॉयफ्रेंड संग रहना चाहती थी समन अब्बास, अब खेत में दफन? – चचेरा भाई गिरफ्तार

तथाकथित ऑनर किलिंग में समन अब्बास के परिवार वालों ने उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी और उसके शव को खेत में दफन कर दिया?

‘नुसरत जहां कलमा पढ़े और ईमान में दाखिल हो, नाजायज संबंध थी उसकी शादी’ – मौलाना कारी मुस्तफा

नुसरत ने जिससे शादी की, उसके धर्म के मुताबिक करनी थी या फिर उसे इस्लाम में दाखिल कराके विवाह करना चाहिए था। मौलाना कारी ने...

गुजरात का वह स्थान जहाँ भगवान श्रीकृष्ण ने मानव शरीर का किया था त्याग, एक बहेलिया ने मारा था उनके पैरों में बाण

भालका तीर्थ का वर्णन महाभारत, श्रीमदभागवत महापुराण, विष्णु पुराण और अन्य हिन्दू धर्म ग्रंथों में है। मंदिर में वह पीपल भी है, जिसके नीचे...

प्रचलित ख़बरें

सस्पेंड हुआ था सुशांत सिंह का ट्रोल अकाउंट, लिबरलों ने फिर से करवाया रिस्टोर: दूसरों के अकाउंट करवाते थे सस्पेंड

जो दूसरों के लिए गड्ढा खोदता है, वो उस गड्ढे में खुद गिरता है। सुशांत सिंह का ट्रोल अकाउंट @TeamSaath के साथ यही हुआ।

सुशांत ड्रग एडिक्ट था, सुसाइड से मोदी सरकार ने बॉलीवुड को ठिकाने लगाया: आतिश तासीर की नई स्क्रिप्ट, ‘खान’ के घटते स्टारडम पर भी...

बॉलीवुड के तीनों खान-सलमान, शाहरुख और आमिर के पतन के पीछे कौन? मोदी सरकार। लेख लिखकर बताया गया है।

‘तुम्हारी लड़कियों को फँसा कर रोज… ‘: ‘भीम आर्मी’ के कार्यकर्ता का ऑडियो वायरल, पंडितों-ठाकुरों को मारने का दावा

'भीम आर्मी' के दीपू कुमार ने कहा कि उसने कई ब्राह्मण और राजपूत लड़कियों का बलात्कार किया है और पंडितों और ठाकुरों को मौत के घाट उतारा है।

11 साल से रहमान से साथ रह रही थी गायब हुई लड़की, परिवार या आस-पड़ोस में किसी को भनक तक नहीं: केरल की घटना

रहमान ने कुछ ऐसा तिकड़म आजमाया कि सजीथा को पूरे 11 साल घर में भी रख लिया और परिवार या आस-पड़ोस तक में भी किसी को भनक तक न लगी।

नुसरत जहाँ की बेबी बंप की तस्वीर आई सामने, यश दासगुप्ता के साथ रोमांटिक फोटो भी वायरल

नुसरत जहाँ की एक तस्वीर सामने आई है, जिसमें उनकी बेबी बंप साफ दिख रहा है। उनके पति निखिल जैन पहले ही कह चुके हैं कि यह उनका बच्चा नहीं है।

‘भाईजान’ के साथ निकाह से इनकार, बॉयफ्रेंड संग रहना चाहती थी समन अब्बास, अब खेत में दफन? – चचेरा भाई गिरफ्तार

तथाकथित ऑनर किलिंग में समन अब्बास के परिवार वालों ने उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी और उसके शव को खेत में दफन कर दिया?
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
103,326FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe