ओडिशा में NDA के साथ गठबंधन में आ सकती है BJD, पार्टी ने दिया संकेत

इससे पहले, बीजेडी के उपाध्यक्ष और मंत्री एन एन पात्रो ने भी इस बात की और इशारा किया था कि बीजेडी उसी को समर्थन देगी, जो कि ओडिशा की मदद करेगा।

लोकसभा चुनाव के संपन्न होने के बाद अब चर्चा एग्जिट पोल के निष्कर्षों पर हो रही है। एग्जिट पोल आने के बाद ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के नेतृत्व वाले बीजू जनता दल (बीजेडी) ने भाजपा के साथ गठबंधन के संकेत दिए हैं। बीजेडी के प्रवक्ता अमर पटनायक ने इसे लेकर बयान दिया है। उन्होंने कहा, “अगर चुनावी एग्जिट पोल्स के हिसाब से देखें, तब केंद्र में एनडीए की सरकार बन सकती है और तब हम सरकार का हिस्सा हो सकते हैं।”

अमर पटनायक ने कहा कि उनकी पार्टी उस दल या गठबंधन को समर्थन दे सकती है, जो केंद्र में सरकार बनाएगी और उनके राज्य की भलाई के लिए काम करेगी। उन्होंने कहा कि वो उस पार्टी के साथ गठबंधन करेंगे, जो राज्य की पुरानी माँगों और विवादित मुद्दों को निपटाएगी। इससे पहले, बीजेडी के उपाध्यक्ष और मंत्री एन एन पात्रो ने भी इस बात की और इशारा किया था कि बीजेडी उसी को समर्थन देगी, जो कि ओडिशा की मदद करेगा।

रविवार (मई 19, 2019) को टीवी पर प्रसारित किए गए एग्जिट पोल के अनुसार, एनडीए एक बार फिर से सरकार बनाने में सफल रहेगी। इस एग्जिट पोल में भाजपा को ओडिशा में भी फायदा होता दिख रहा है। 2014 में भाजपा सिर्फ एक सीट जीत सकी थी, जबकि बीजेडी को 20 सीटों पर जीत मिली थी।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

हालाँकि, दोनों पार्टियों में गठबंधन के संकेत पहले से ही मिल रहे थे। कुछ दिनों पहले, लोकसभा चुनाव के दौरान ही जब ओडिशा में फोनी तूफान आया था, केंद्र की तरफ से राज्य को ₹1341 करोड़ की सहायता प्रदान की गई थी और प्रधानमंत्री मोदी खुद तूफान से होने वाले नुकासान का जायजा लेने के लिए पहुँचे थे। इस दौरान उन्होंने सीएम नवीन पटनायक की जमकर तारीफ की थी।

चुनाव के दौरान दूसरे दल के मुख्यमंत्री की तारीफ करने के साथ ही इसके राजनीतिक मायने निकालने शुरू हो गए थे। खैर, ये तो चुनाव के नतीजे सामने आने के बाद ही पता चल पाएगा कि किसकी सरकार बन रही है और कौन सी पार्टी किस पार्टी को समर्थन दे रही है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

कश्मीरी पंडित, सुनंदा वशिष्ठ
"उस रात इस्लामी आतंकियों ने 3 विकल्प दिए थे - कश्मीर छोड़ दो, धर्मांतरण कर लो, मारे जाओ। इसके बाद गिरिजा टिक्कू का सामूहिक बलात्कार कर टुकड़ों में काट दिया। बीके गंजू को गोली मारी और उनकी पत्नी को खून से सने चावल (वो भी पति के ही खून से सने) खाने को मजबूर किया।"

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

113,599फैंसलाइक करें
22,628फॉलोवर्सफॉलो करें
119,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: