Wednesday, July 24, 2024
Homeराजनीतिकमलनाथ की राह पर मध्य प्रदेश कॉन्ग्रेस के पटवारी: गए थे भारत जोड़ो यात्रा...

कमलनाथ की राह पर मध्य प्रदेश कॉन्ग्रेस के पटवारी: गए थे भारत जोड़ो यात्रा की तैयारी करने, काटा तिरंगे वाला केक

पटवारी भारत जोड़ो यात्रा की तैयारी के लिए गए थे। इसी दौरान अपने जन्मदिन पर उन्होंने एक ढाबे में तिरंगे जैसा दिखने वाला केक काटा। इस दौरान कॉन्ग्रेस के कई अन्य नेता भी मौजूद थे।

कॉन्ग्रेस के मध्य प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने हाल ही में मंदिर जैसा दिखने वाला केक काटा था। इस पर हनुमान जी का भी चित्र था। अब उनके मंत्रिमंडल में रहे कॉन्ग्रेस विधायक जीतू पटवारी ने भी इसका अनुसरण किया है। उन्होंने तिरंगे जैसा दिखने वाला केक काटा है। इसका वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

जीतू पटवारी राऊ से कॉन्ग्रेस विधायक हैं। वे भारत जोड़ो यात्रा की तैयारी को लेकर बुरहानपुर में थे। शनिवार (19 नवंबर 2022) को उनके जन्मदिन पर समर्थकों ने एक ढाबे में इसका जश्न मनाया। इस दौरान पटवारी ने जो केक काटा, वह तिरंगे जैसा दिख रहा था।

वायरल वीडियो में दिख रहा है कि जीतू पटवारी जिस केक को काट रहे हैं, वह तिरंगे जैसा है। केसरिया और हरे रंग के बीच सफेद पट्टी बनी हुई है। बताया जा रहा है कि जब पटवारी केक काट रहे थे, तब कॉन्ग्रेस जिला अध्यक्ष अजय रघुवंशी समेत कई अन्य नेता भी मौजूद थे।

बता दें, इससे पहले मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कॉन्ग्रेस नेता कमलनाथ ने भी विवादित केक काटा था। इसका वीडियो भी वायरल हुआ था। वायरल वीडियो में कमलनाथ अपने जन्मदिन से पूर्व बुधवार (16 नवंबर 2022) को शिकारपुर में भगवान हनुमान के चित्र और मंदिर के आकार का बना केक काटते हुए दिखाई दिए थे।

केक चार हिस्सों में बना था। नीचे पहली लेयर पर ‘हम हैं छिंदवाड़ा वाले’ लिखा हुआ था। इससे ऊपर दूसरी लेयर पर- जीवेत शरद: शतम्, तीसरी पर माननीय कमलनाथ जी और चौथी लेयर पर जन नायक लिखा हुआ था। चौथी लेयर पर ही हनुमान जी का फोटो, राम मंदिर की तरह शिखर झंडा लगा हुआ था। कमलनाथ द्वारा इस केक को काटने के बाद मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ को बगुला भगत तो वहीं, गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने इसे ‘हिंदू आस्था से खिलवाड़’ बताया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -