Tuesday, July 23, 2024
Homeराजनीति'वामपंथी कुपढ़ हैं और ये वाले अनपढ़ हैं': रामकथा में कवि कुमार विश्वास ने...

‘वामपंथी कुपढ़ हैं और ये वाले अनपढ़ हैं’: रामकथा में कवि कुमार विश्वास ने RSS पर की टिप्पणी, कहा – भाई पढ़ भी लो

"वो मुझसे बोला कि भैया बजट आ रहा है, कैसा आना चाहिए। मैंने कहा- तुमने तो रामराज्य की सरकार बनाई है तो रामराज्य का बजट आना चाहिए।"

मध्य प्रदेश के उज्जैन में विक्रमोत्सव 2023 कार्यक्रम में कवि और लेखक कुमार विश्वास मंगलवार (21 फरवरी, 2023) को रामकथा सुनाने पहुँचे। इस दौरान उन्होंने वामपंथियों को कुपढ़ और आरएसएस से जुड़े लोगों को अनपढ़ कह दिया। इस मौके पर उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव और सांसद अनिल फिरोजिया भी मौजूद थे।

रामकथा सुनाने के दौरान वह एक वाकया बताते हैं, “4-5 साल पहले एक दिन बजट आने वाला था। मैं अपने घर में स्टूडियो पर खड़ा था। कुछ रिकॉर्डिंग कर रहा था। तभी एक बच्चे ने मोबाइल ऑन कर दिया। वो बच्चा हमारे साथ काम करता है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) में भी काम करता है। वो मुझसे बोला कि भैया बजट आ रहा है, कैसा आना चाहिए। मैंने कहा- तुमने तो रामराज्य की सरकार बनाई है तो रामराज्य का बजट आना चाहिए। उसने कहा, रामराज्य में कहाँ बजट होता था। मैंने कहा, समस्या तुम्हारी यही है कि वामपंथी तो कुपढ़ हैं और तुम अनपढ़ हो। इस देश में दो ही लोगों का झगड़ा चल रहा है। एक वामपंथी हैं, वो कुपढ़ हैं, उन्होंने पढ़ा सब है, लेकिन सब गलत पढ़ा है। और एक ये वाले हैं, इन्होंने पढ़ा ही नहीं है। ये सिर्फ बोलते हैं- हमारे वेदों में… देखे नहीं हैं कि कैसे हैं। भाई पढ़ भी लो। तो बोले रामराज्य में किस बात का बजट।” कार्यक्रम में हजारों की संख्या में लोग मौजूद थे।

सोशल मीडिया पर कुमार विश्वास का विवादित बयान वायरल होने के बाद बवाल हो गया है। भाजपा प्रदेश प्रवक्ता राजपाल सिंह सिसोदिया ने अपने ट्विटर पर कुमार विश्वास को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि उज्जैन में कथा करने आए हो कथा करो प्रमाण पत्र मत बाँटो। उन्होंने लिखा, “तुम्हारा स्वागत करने आना पड़ेगा। उज्जैन में कथा करने आए हो कथा करो। प्रमाण पत्र मत बाँटो श्रीमान। कथा करने के लिए बुलाया गया है, वह छोड़ बाकी सब करेंगे। अधूरे पढ़े-लिखे लोग, आपसे तो हमारे कथित अनपढ़ कई गुना ज्यादा अच्छे हैं।” फिरउ न्होंने कुमार विश्वास को टैग करते हुए आगे लिखा, “अधजल गगरी छलकत जाए। मुहावरे का अर्थ है कम गुणवान व ज्ञानी व्यक्ति का बहुत अधिक गुणवान और ज्ञानी होने का दिखावा करना अर्थात् अल्पज्ञानी महा अज्ञानी।”

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता राजपाल सिंह सिसोदिया का ट्वीट

इसके बाद उन्होंने मुख्यमंत्री को टैग करते हुए लिखा, “माननीय शिवराज सिंह चौहान जी कुमार विश्वास जैसे लोग जो अपने तय एजेंडे एवं तुच्छ मानसिकता के वशीभूत हो आरएसएस जैसे राष्ट्रवादी संगठन पर टिप्पणी करते हैं। ऐसे लोगों पर प्रदेश के शासकीय कार्यक्रम में शामिल होने पर प्रतिबंध लगना चाहिए।”

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता राजपाल सिंह सिसोदिया का ट्वीट

वहीं, इस मामले को लेकर ‘समग्र हिंदू समाज’ ने मोर्चा खोल दिया है। विक्रमादित्य शोधपीठ संस्थान निदेशक को पत्र लिखकर कुमार विश्वास को माफी माँगने को कहा है। समग्र हिंदू समाज के जसविंदर सिंह का कहना है कि आरएसएस ने राम मंदिर निर्माण में महती भूमिका निभाई है। देशसेवा में आरएसएस सदैव अग्रणी रहा है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेचुरल फार्मिंग क्या है, बजट में क्यों इसे 1 करोड़ किसानों से जोड़ने का ऐलान: गोबर-गोमूत्र के इस्तेमाल से बढ़ेगी किसानों की आय

प्राकृतिक खेती एक रसायनमुक्त व्यवस्था है जिसमें प्राकृतिक संसाधनों का इस्तेमाल किया जाता है, जो फसलों, पेड़ों और पशुधन को एकीकृत करती है।

नारी शक्ति को मोदी सरकार ने समर्पित किए ₹3 लाख करोड़: नौकरी कर रहीं महिलाओं और उनके बच्चों के लिए भी रहने की सुविधा,...

बजट में महिलाओं की हिस्सेदारी कार्यबल में बढ़ाने पर काम किया गया है। इसके अलावा कामकाजी महिलाओं के लिए छात्रावास स्थापित करने का भी ऐलान हुआ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -