Tuesday, July 16, 2024
Homeराजनीतिमणिपुर के CM बने रहेंगे बीरेन सिंह, गवर्नर के पास जाने की खबर सुनते...

मणिपुर के CM बने रहेंगे बीरेन सिंह, गवर्नर के पास जाने की खबर सुनते ही उमड़ पड़े समर्थक: महिलाओं ने फाड़ दिया इस्तीफा

अपने समर्थकों की भावनाओं को देखते हुए सीएम बीरेन सिंह ने अपना निर्णय बदल दिया है। उन्होंने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा, "इस महत्वपूर्ण मोड़ पर मैं स्पष्ट करना चाहता हूँ कि मैं मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा नहीं दूँगा।" उन्होंने राज्य के लोगों के साथ खड़े रहने का निर्णय लिया है।

हिंसाग्रस्त मणिपुर (Manipur) के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह (CM N Biren Singh) के समर्थक शुक्रवार (30 जून 2023) को उनके इस्तीफे विरोध में आ गए। उनके आवास के बाहर उनके उनके समर्थक में जमकर नारे भी लगाए गए। उन्हें अपना त्याग पत्र फाड़ने के लिए मजबूर होना पड़ा। इसके बाद सीएम ने कहा कि वह इस्तीफा नहीं देंगे।

सीएम बीरेन सिंह की इस्तीफे की खबर के बाद उनके समर्थक उनके आवास के बाहर इकट्ठा हो गए। राजधानी इंफाल में मुख्यमंत्री आवास के बाहर उनके समर्थक उनके समर्थन में नारे लगाए और इस्तीफा नहीं देने की गुजारिश की।

सीएम बीरेन सिंह के समर्थन में इकट्ठा हुए मणिपुर के स्थानीय लोगों का कहना है, “हम नहीं चाहते कि सीएम इस्तीफा दें, उन्हें इस्तीफा नहीं देना चाहिए। वह हमारे लिए बहुत काम कर रहे हैं। इसलिए हम सीएम को समर्थन दे रहे हैं।”

रिपोर्ट के मुताबिक, सीएम बीरेन सिंह मणिपुर हिंसा को लेकर नैतिक के आधार पर मुख्यमंत्री का पद छोड़ने का निर्णय लिया। इसके बाद वे अपना इस्तीफा लेकर राज्यपाल अनुसूइया उइके के ऑफिस जाने लगे। इसकी जानकारी मिलते ही हजारों की संख्या में समर्थक इकट्ठा हो गए।

कुछ रिपोर्टों में कहा गया है कि सीएम ने एक त्याग पत्र टाइप किया था, लेकिन समर्थकों के दबाव में उन्हें इसे फाड़ना पड़ा। कुछ रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि महिला समर्थकों ने त्याग पत्र को फाड़कर फेंक दिया।

इससे पहले दोपहर में काली शर्ट पहने सैकड़ों युवक और महिलाएँ सीएम आवास के सामने बैठ गए और इस्तीफा नहीं देना चाहिए। जब समर्थकों को बताया गया कि वे इस्तीफा नहीं देंगे, तब भीड़ छँटी।

अपने समर्थकों की भावनाओं को देखते हुए सीएम बीरेन सिंह ने अपना निर्णय बदल दिया है। उन्होंने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा, “इस महत्वपूर्ण मोड़ पर मैं स्पष्ट करना चाहता हूँ कि मैं मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा नहीं दूँगा।” उन्होंने राज्य के लोगों के साथ खड़े रहने का निर्णय लिया है।

सीएम बीरेन सिंह का कथित त्याग पत्र सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। तस्वीर में त्याग पत्र की टाइप कॉपी तुड़ा-मुड़ा और फटा हुआ दिख रहा है। बता दें कि एक दिन कॉन्ग्रेस नेता राहुल गाँधी मणिपुर के चुड़ाचाँदपुर में जाने की कोशिश कर रहे थे। इस दौरान स्थानीय लोग उनका विरोध कर रहे थे। भाजपा ने उन पर चिंगारी भड़काने का आरोप लगाया था।

दरअसल, गुरुवार को कांगपोकपी जिले के हरओथेल गाँव में सुरक्षा बलों और हथियारबंद दंगाइयों के बीच गोलीबारी हो गई थी। इसमें दो लोगों की मौत हो गई थी। जबकि एक व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया था। शुक्रवार को मृतकों की संख्या बढ़कर तीन हो गई।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: दौलत के 5 साल...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -