Monday, July 22, 2024
HomeराजनीतिCBI के बाद ED ने भी मनीष सिसोदिया पर कसा शिकंजा, जेल में पूछताछ:...

CBI के बाद ED ने भी मनीष सिसोदिया पर कसा शिकंजा, जेल में पूछताछ: शराब घोटाले में ‘साउथ ग्रुप’ का अरुण पिल्लई भी गिरफ्तार, तेलंगाना CM की बेटी का है करीबी

शराब घोटाला मामले में मनीष सिसोदिया पर शिकंजा कसता जा रहा है। केंद्रीय जाँच एजेंसी के बाद अब प्रवर्तन निदेशालय उनसे पूछताछ कर रहा है। वहीं, दूसरी ओर ईडी ने इस मामले में ईडी ने हैदराबाद के व्यवसायी अरुण रामचंद्र पिल्लई को गिरफ्तार किया है।

दिल्ली के शराब घोटाला मामले में मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) पर शिकंजा कसता जा रहा है। केंद्रीय जाँच एजेंसी (CBI) के बाद अब प्रवर्तन निदेशालय (ED) उनसे पूछताछ कर रहा है। वहीं, दूसरी ओर ईडी ने इस मामले में हैदराबाद के व्यवसायी अरुण रामचंद्र पिल्लई को गिरफ्तार किया है। शराब घोटाले में यह 11वीं गिरफ्तारी है।

मीडिया रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की एक टीम मंगलवार (7 मार्च 2023) को तिहाड़ जेल पहुँची है। जहाँ सेल नंबर 1 में रखे गए मनीष सिसोदिया से पूछताछ हो रही है। ईडी की यह पूछताछ शराब घोटाला मामले में हुई मनी लांड्रिंग को लेकर की जा रही है।

कहा जा रहा है कि आबाकरी नीति को लेकर दी गई 100 करोड़ रुपए की रिश्वत को लेकर भी ईडी सिसोदिया से पूछताछ करेगी। इससे पहले ईडी ने सिसोदिया से पूछताछ करने के लिए राउज एवेन्यू कोर्ट से अनुमति माँगी थी। इसका मतलब यह है कि यदि सिसोदिया को सीबीआई से राहत मिल भी जाती है तो भी उन्हें ईडी के शिकंजे में रहना पड़ सकता है।

बता दें कि शराब घोटाला मामले में सीबीआई ने दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को 26 फरवरी 2023 को गिरफ्तार किया था। गिरफ्तारी के बाद से सिसोदिया ने जमानत के लिए निचली अदालत से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक का दरवाजा खटखटाया है। हालाँकि उन्हें कहीं भी जमानत नहीं मिल सकी। वहीं, दिल्ली की राउज रेवेन्यू कोर्ट ने उन्हें सोमवार (6 मार्च 2023) को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। इसका मतलब यह है कि सिसोदिया को आगामी 20 मार्च तक जेल में रहना होगा। हालाँकि उनकी जमानत याचिका पर 10 मार्च को सुनवाई होनी है।

अरुण रामचंद्र पिल्लई गिरफ्तार

मनीष सिसोदिया से पूछताछ करने के साथ ही ईडी ने हैदराबाद के व्यवसायी अरुण रामचंद्र पिल्लई को गिरफ्तार किया है। यह गिरफ्तारी धन शोधन निवारण अधिनियम (PMLA) के तहत सोमवार (6 मार्च 2023) शाम हुई। इस मामले में ईडी अरुण पिल्लई को मंगलवार (7 मार्च 2023) को कोर्ट में पेश कर रिमांड की माँग करेगी।

बता दें कि शराब घोटाला मामले में अरुण रामचंद्र पिल्लई की गिरफ्तारी ईडी द्वारा अब तक की गई 11वीं गिरफ्तारी है। कहा जा रहा है कि पिल्लई की गिरफ्तारी अमनदीप ढल के बयानों के आधार पर की गई है। ईडी ने ढल को 2 मार्च 2023 को गिरफ्तार किया था। ढल से हुई पूछताछ में ईडी को पता चला है कि पिल्लई ‘साउथ ग्रुप’ का नेतृत्व कर रहे थे।

दरअसल, शराब घोटाले को लेकर ‘साउथ ग्रुप’ द्वारा कथित तौर पर आप नेताओं को 100 करोड़ रुपए की रिश्वत दी गई थी। ऐसा कहा जाता है कि रिश्वत की इस राशि का उपयोग गोवा विधानसभा चुनाव में किया गया था।

पिल्लई पर आरोप है कि दिल्ली शराब घोटाले मामले में उन्होंने तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव की बेटी कविता के साथ मिलकर काम किया है। यही नहीं, पिल्लई ने ही दिल्ली की शराब नीति के निर्माण और इसको लागू करने के समय ‘साउथ ग्रुप’ तथा घोटाले के अन्य आरोपितों की बीच बैठकें कराईं थीं। ईडी ने अपनी चार्जशीट में कविता को भी आरोपित बनाया है। आरोप है कि शराब घोटाला में संलिप्त एक शराब कंपनी में उनकी 60 प्रतिशत से अधिक हिस्सेदारी है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आम सैनिकों जैसी ड्यूटी, सेम वर्दी, भारतीय सेना में शामिल हो चुके हैं 1 लाख अग्निवीर: आरक्षण और नौकरी भी

भारतीय सेना में शामिल अग्निवीरों की संख्या 1 लाख के पार हो गई है, 50 हजार अग्निवीरों की भर्ती की जा रही है।

भारत के ओलंपिक खिलाड़ियों को मिला BCCI का साथ, जय शाह ने किया ₹8.50 करोड़ मदद का ऐलान: पेरिस में पदकों का रिकॉर्ड तोड़ने...

बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने बताया कि ओलंपिक अभियान के लिए इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) को बीसीसीआई 8.5 करोड़ रुपए दे रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -