Thursday, July 25, 2024
HomeराजनीतिAAP के कार्यक्रम में नहीं पहुँचे विधायक, एक और बगावत के आसार: इससे पहले...

AAP के कार्यक्रम में नहीं पहुँचे विधायक, एक और बगावत के आसार: इससे पहले किसानों की बैठक छोड़ निकलना पड़ा था केजरीवाल को

माना जा रहा है कि अगर पार्टी ने जल्द ही मुख्यमंत्री को लेकर अपने पत्ते नहीं खोले तो कुछ और विधायक केजरीवाल का साथ छोड़ सकते हैं। इससे पहले भगवंत सिंह मान को अब तक मुख्यमंत्री पद का प्रत्याशी घोषित न करने से नाराज पार्टी विधायक रूपिंदर कौर रूबी के पार्टी छोड़ चुके हैं।

पंजाब में अगले साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। सभी राजनीतिक दल तैयारियों में जुट गए हैं। वहीं, आम आदमी पार्टी भी मैदान में उतर आई है, लेकिन पार्टी ने अभी तक मुख्यमंत्री पद के लिए उम्मीदवार के नाम की घोषणा नहीं की है। इससे पार्टी के विधायकों में खासा नाराजगी देखी जा रही है। मीडिया रिपोर्ट्स में तो यहाँ तक कयास लगाए जा रहे हैं कि पंजाब में आम आदमी पार्टी में एक और बगावत होने के आसार हैं।

दरसअल, मीडिया में ये कयास इसलिए लगाए जा रहे हैं, क्योंकि शनिवार (13 नवंबर 2021) को आम आदमी पार्टी की पंजाब इकाई ने चरणजीत सिंह चन्नी का विरोध करने के लिए एक कार्यक्रम रखा था, जिसमें ‘आप’ पार्टी के ही कई विधायक नहीं पहुँचे।

यहाँ तक की पार्टी के विधायकों के समर्थक तक इस कार्यक्रम में नहीं आए। ऐसे में यह माना जा रहा है कि अगर पार्टी ने जल्द ही मुख्यमंत्री को लेकर अपने पत्ते नहीं खोले तो कुछ और विधायक केजरीवाल का साथ छोड़ सकते हैं। इससे पहले भगवंत सिंह मान को अब तक मुख्यमंत्री पद का प्रत्याशी घोषित न करने से नाराज पार्टी विधायक रूपिंदर कौर रूबी के पार्टी छोड़ चुके हैं।

बता दें कि बीते दिनों पंजाब में किसानों के साथ मिलने गए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को बैठक बीच में ही छोड़ कर निकलना पड़ा था। अनुच्छेद-370 निरस्त किए जाने के समर्थन पर किसानों ने उन्हें घेरा था। हुआ यूँ कि किसान नेताओं ने अरविंद केजरीवाल से पूछा कि उन्होंने अनुच्छेद-370 को निरस्त किए जाने के मोदी सरकार के फैसले का समर्थन क्यों किया था? दिल्ली के मुख्यमंत्री ने इसे ‘राजनीतिक सवाल’ करार देते हुए कहा था कि इन सवालों पर वो बाहर जवाब देंगे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

वकील चलाता था वेश्यालय, पुलिस ने की कार्रवाई तो पहुँचा हाई कोर्ट: जज ने कहा- इसके कागज चेक करो, लगाया ₹10000 का जुर्माना

मद्रास हाई कोर्ट में एक वकील ने अपने वेश्यालय पर कार्रवाई के खिलाफ याचिका दायर की। कोर्ट ने याचिका खारिज करके ₹10,000 का जुर्माना लगा दिया।

माजिद फ्रीमैन पर आतंक का आरोप: ‘कश्मीर टाइप हिंदू कुत्तों का सफाया’ वाले पोस्ट और लेस्टर में भड़की हिंसा, इस्लामी आतंकी संगठन हमास का...

ब्रिटेन के लेस्टर में हिन्दुओं के विरुद्ध हिंसा भड़काने वाले माजिद फ्रीमैन पर सुरक्षा एजेंसियों ने आतंक को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -