Saturday, July 20, 2024
Homeराजनीति'इस बार चुनाव बंगाल के भविष्य का, ऐसा करंट लगेगा कि कुर्सी से 2...

‘इस बार चुनाव बंगाल के भविष्य का, ऐसा करंट लगेगा कि कुर्सी से 2 फुट ऊपर उठ जाएँगी ममता’: नितिन गडकरी

"बस आप लोग यह करंट लगा दो। फिर देखिए पश्चिम बंगाल में विकास का बल्‍ब कैसे आपके घरों में जलता है। बंगाल में दो मई को परिवर्तन होगा। कमल जीतेगा। भारतीय जनता पार्टी को बहुमत मिलेगा। तीन मई को हमारे नेता का चुनाव होगा। 4 मई को बीजेपी के मुख्यमंत्री शपथ लेंगे। अब इसे कोई नहीं रोक सकता।"

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के पहले चरण का मतदान 27 मार्च को होने जा रहा है। चुनाव से पहले मतदाताओं को अपने पाले में करने के लिए बीजेपी के बड़े नेता लगातार यहाँ रैली कर रहे हैं। बुधवार (मार्च 3, 2021) को बांकुरा जिले के जॉयपुर में जनसभा को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने ममता बनर्जी सरकार पर जमकर निशाना साधा।

रैली में उपस्थित लोगों से गडकरी ने कहा, “चुनाव के दिन आप लोग सुबह उठिएगा…अपने भगवान को याद कीजिएगा… इसके बाद मतदान केंद्रों पर जाकर कमल का बटन दबाइए। ऐसा करंट लगेगा कि ममता जी अपनी कुर्सी से दो फुट ऊपर उठ जाएँगी।”

गडकरी ने कहा, “बस आप लोग यह करंट लगा दो। फिर देखिए पश्चिम बंगाल में विकास का बल्‍ब कैसे आपके घरों में जलता है। बंगाल में दो मई को परिवर्तन होगा। कमल जीतेगा। भारतीय जनता पार्टी को बहुमत मिलेगा। तीन मई को हमारे नेता का चुनाव होगा। 4 मई को बीजेपी के मुख्यमंत्री शपथ लेंगे। अब इसे कोई नहीं रोक सकता।”

‘बंगाल के भविष्‍य के लिए है यह चुनाव’

गडकरी ने कहा कि इस बार का चुनाव बीजेपी, टीएमसी, कॉन्ग्रेस और सीपीएम के भविष्य के बारे में नहीं है और न ही यह मोदी जी, अमित शाह, नड्डा जी, राहुल गाँधी या ममता जी के भविष्य को लेकर है। यह बंगाल के लोगों के भविष्य के बारे में है। हम बंगाल की छवि को बदलना चाहते हैं और भारत को नंबर 1 महाशक्ति बनाना चाहते हैं।

‘मुखर्जी का जन्‍म यहाँ तो हम बाहरी कैसे’

बंगाल की मुख्‍यमंत्री पर प्रहार करते हुए गडकरी ने कहा, “ममता जी कहती हैं कि हम (बीजेपी) बाहरी हैं। बीजेपी का गठन जनसंघ की विचारधारा के आधार पर किया गया था, जिसके संस्थापक और हमारे प्रेरणास्‍त्रोत श्यामा प्रसाद मुखर्जी का जन्म पश्चिम बंगाल में हुआ था, फिर हम बाहरी कैसे हैं?”

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल विधानसभा के चुनाव आठ चरणों में होंगे जबकि पिछली बार सात चरण में हुए थे। इस बार पहले चरण का मतदान 27 मार्च और अंतिम चरण के लिए वोटिंग 29 अप्रैल को होगी। वोटों की गिनती 2 मई को होगी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -