Monday, July 26, 2021
HomeराजनीतिMann Ki Baat में अगले 25 साल तक का मंत्र: देश की आजादी से...

Mann Ki Baat में अगले 25 साल तक का मंत्र: देश की आजादी से लेकर बेटियों की अपनी पहचान तक की बात

"स्वाधीनता सेनानी की संघर्ष गाथा, किसी स्थान का इतिहास... या देश की कोई सांस्कृतिक कहानी... ‘अमृत महोत्सव’ ऐसे ही प्रेरणादायी अमृत बिंदुओं से भर जाएगा, जो हमें भारत की आजादी के 100 वर्ष तक प्रेरणा देगी।"

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात के जरिए राष्ट्र को संबोधित किया। बता दें कि ये साल 2021 का तीसरा और अब तक का 75 वाँ एपिसोड था। इस दौरान उन्होंने आजादी के अमृत महोत्सव का जिक्र किया। उन्होंने बताया कि यह महोत्सव 2023 तक चलेगा। पीएम मोदी ने यह भी बताया कि देश को कोरोना से जंग जीतने के लिए दवाई भी, कड़ाई भी मंत्र को जीना होगा। 

मिताली राज को दी बधाई

प्रधानमंत्री मोदी ने भारतीय महिला क्रिकेट टीम की खिलाड़ी मिताली राज को नया विश्व रिकॉर्ड बनाने की बधाई दी। उन्होंने कहा कि मिताली, हाल ही में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में दस हजार रन बनाने वाली पहली भारतीय महिला क्रिकेटर बनी हैं। दो दशकों से ज्यादा के करियर में मिताली राज ने हजारों-लाखों को प्रेरित किया है। उनके कठोर परिश्रम और सफलता की कहानी, न सिर्फ महिला क्रिकेटरों, बल्कि पुरुष क्रिकेटरों क लिए भी एक प्रेरणा है। उनकी इस उपलब्धि पर बहुत-बहुत बधाई। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज शिक्षा से लेकर आंत्रेप्रोन्योरशिप तक, सैनिक बलों से लेकर विज्ञान और तकनीकी तक, हर जगह देश की बेटियाँ अपनी अलग पहचान बना रही हैं।

त्योहारों की शुभकामनाएँ

देश के अलग-अलग क्षेत्रों में जल्द ही नया साल भी मनाया जाएगा। चाहे उगादी हो या पुथंडू, गुड़ी पड़वा हो या बिहू, नवरेह हो या पोइला बोईशाख हो या बैसाखी – पूरा देश, उमंग, उत्साह और नई उम्मीदों के रंग में सराबोर दिखेगा। इसी समय केरल भी खूबसूरत त्योहार विशु मनाता है। इसके बाद, जल्द ही चैत्र नवरात्रि का पावन अवसर भी आ जाएगा। चैत्र महीने के नौवें दिन हमारे यहाँ रामनवमी का पर्व होता है। इसे भगवान राम के जन्मोत्सव के साथ ही न्याय और पराक्रम के एक नए युग की शुरुआत के रूप में भी माना जाता है।

‘दवाई भी-कड़ाई भी’ मंत्र को रखें याद

प्रधानमंत्री मोदी ने मन की बात में कहा कि जनता को इस बात का अंदाजा नहीं कि हमारे कोरोना योद्धाओं के प्रति सम्मान, आदर, थाली बजाना, ताली बजाना, दिया जलाना उनके दिल को कितना छू गया। पीएम मोदी ने कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए एक मंत्र हमेशा याद रखने की हिदायत दी और कहा कि इन सबके बीच, कोरोना से लड़ाई का मंत्र भी जरुर याद रखिए – ‘दवाई भी – कड़ाई भी’। 

जनता कर्फ्यू के दिन अनुशासन पर पीढ़ियाँ करेंगी गर्व

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि पिछले साल मार्च का ही महीना था, जब देश ने पहली बार जनता कर्फ्यू शब्द सुना था। पीएम मोदी ने कहा कि इस महान देश की महान प्रजा की महाशक्ति के अनुभव ने जनता कर्फ्यू पूरे विश्व के लिए एक अचरज बन गया था। अनुशासन का ये अभूतपूर्व उदाहरण था, आने वाली पीढ़ियाँ इस एक बात को लेकर के जरूर गर्व करेगी।

‘अमृत महोत्सव’ आजादी के 100 साल तक देगी प्रेरणा

प्रधानमंत्री मोदी ने मन की बात में कहा कि किसी स्वाधीनता सेनानी की संघर्ष गाथा हो, किसी स्थान का इतिहास हो, देश की कोई सांस्कृतिक कहानी हो, ‘अमृत महोत्सव’ के दौरान आप उसे देश के सामने ला सकते हैं, देशवासियों को उससे जोड़ने का माध्यम बन सकते हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा कि ‘अमृत महोत्सव’ ऐसे ही प्रेरणादायी अमृत बिंदुओं से भर जाएगा और फिर ऐसी अमृत धारा बहेगी, जो हमें भारत की आजादी के सौ वर्ष तक प्रेरणा देगी। देश को नई ऊँचाई पर ले जाएगी, कुछ-न-कुछ करने का जज्बा पैदा करेगी।

श्रोताओं का आभार व्यक्त किया

प्रधानमंत्री मोदी ने मन की बात के दौरान कहा, “मैं आपका बहुत-बहुत धन्यवाद करता हूँ कि आपने इतनी बारीक नजर से ‘मन की बात’ को फॉलो किया है और आप जुड़े रहे हैं। ये मेरे लिए बहुत ही गर्व का विषय है, आनंद का विषय है। मैं आज, इस 75वें एपिसोड के समय सबसे पहले ‘मन की बात’ को सफल, समृद्ध और इससे जुड़े रहने के लिए हर श्रोता का बहुत-बहुत आभार व्यक्त करता हूँ।”

दुनिया का सबसे बड़ा वैक्सीनेशन प्रोग्राम

पीएम मोदी ने कहा कि पिछले साल इस समय सवाल था कि वैक्सीन कब तक आएगी। आज हम दुनिया का सबसे बड़ा वैक्सीनेशन प्रोग्राम चला रहे हैं। देश के कोने-कोने से हम ऐसी खबरें सुन रहे हैं, ऐसी तस्वीरें देख रहे हैं, जो हमारे दिल को छू जाती हैं।

यूपी के जौनपुर में 109 वर्ष की बुजुर्ग माँ, राम दुलैया जी ने टीका लगवाया है। ऐसे ही दिल्ली में भी 107 साल के केवल कृष्ण ने वैक्सीन की डोज ली है। हैदराबाद में 100 साल के जय चौधरी जी ने वैक्सीन लगवाई और सभी से अपील भी है कि वैक्सीन जरूर लगवाएँ। मैं ट्वीटर-फेसबुक पर भी ये देख रहा हूँ कि कैसे लोग अपने घर के बुजुर्गों को वैक्सीन लगवाने के बाद उनकी फोटो अपलोड कर रहे हैं।

पिछली बार पानी की अहमियत पर चर्चा की थी

इससे पहले उन्होंने 28 फरवरी को इस कार्यक्रम के जरिए राष्ट्र को संबोधित किया था। इसमें उन्होंने पानी की अहमियत पर चर्चा की थी। उन्होंने कहा था कि पानी एक तरह से पारस से भी ज्यादा महत्वपूर्ण है। कहा जाता है पारस के स्पर्श से लोहा, सोने में परिवर्तित हो जाता है। इसलिए हमें पानी के संरक्षण के लिए प्रयास करने होंगे। इसके लिए सामूहिक प्रयास की जरूरत है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

यूपी के बेस्ट सीएम उम्मीदवार हैं योगी आदित्यनाथ, प्रियंका गाँधी सबसे फिसड्डी, 62% ने कहा ब्राह्मण भाजपा के साथ: सर्वे

इस सर्वे में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सर्वश्रेष्ठ मुख्यमंत्री बताया गया है, जबकि कॉन्ग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गाँधी सबसे निचले पायदान पर रहीं।

असम को पसंद आया विकास का रास्ता, आंदोलन, आतंकवाद और हथियार को छोड़ आगे बढ़ा राज्य: गृहमंत्री अमित शाह

असम में दूसरी बार भाजपा की सरकार बनने का मतलब है कि असम ने आंदोलन, आतंकवाद और हथियार तीनों को हमेशा के लिए छोड़कर विकास के रास्ते पर जाना तय किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,226FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe