Monday, July 15, 2024
Homeराजनीति'पहले प्रभु श्रीराम को ताले में बंद किया, अब बजरंग बली से दिक्कत': कर्नाटक...

‘पहले प्रभु श्रीराम को ताले में बंद किया, अब बजरंग बली से दिक्कत’: कर्नाटक में कॉन्ग्रेस पर बरसे PM मोदी, अमित शाह ने कहा – सत्ता में आकर PFI से बैन हटा लेगी कॉन्ग्रेस

"'लिंगायतों ने यहां भ्रष्टाचार किया है' - यह कहकर सिद्धारमैया ने लिंगायत समुदाय का अपमान किया है। निजलिंगप्पा और वीरेंद्र पाटिल को हटाकर पहले भी कॉन्ग्रेस पार्टी लिंगायत समुदाय का अपमान कर चुकी है।"

कर्नाटक विधानसभा चुनाव में प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कॉन्ग्रेस पार्टी को घेरा है। बता दें कि कॉन्ग्रेस ने अपने घोषणापत्र में हिन्दू संगठन ‘बजरंग दल’ को प्रतिबंधित करने की घोषणा की है। होसपेट पहुँचे पीएम मोदी ने कहा कि ये हनुमान जी की पवित्र भूमि है और उनके लिए इस धरती को नमन करना बहुत बड़ा सौभाग्य है, लेकिन दुर्भाग्य देखिए कि कॉन्ग्रेस ने अपने मैनिफेस्टो में बजरंग बली को ताले में बंद करें का निर्णय किया है।

पीएम मोदी ने कहा कि पहले इन्होंने भगवान श्रीराम को ताले में बंद किया, अब कॉन्ग्रेस ने ‘जय बजरंग बली’ बोलने वालों को ताले में बंद करने का संकल्प लिया है। पीएम मोदी ने कहा कि ये देश का दुर्भाग्य है कि कॉन्ग्रेस पार्टी को प्रभु श्रीराम से भी तकलीफ होती थी, वहीं अब ‘जय बजरंग बली’ बोलने वालों से भी तकलीफ हो रही है। पीएम मोदी ने इस दौरान ये भी कहा कि कॉन्ग्रेस का ट्रैक रिकॉर्ड गारंटी पूरी करने का नहीं बल्कि गरीबों को लूटने का है।

उन्होंने कहा, “कर्जमाफी से लेकर हर घर बिजली पहुँचाने की गारंटी तक, कॉन्ग्रेस ने झूठ ही झूठ बोला है। कॉन्ग्रेस गारंटी की बात करती है, लेकिन उसका मकसद कुछ और होता है। कॉन्ग्रेस की नजर योजनाओं के 85% पैसे पर होती है। हमें कर्नाटक को कॉन्ग्रेस की 85% कमीशन वाली आदत से बचाना है। कॉन्ग्रेस एक ऐसी पार्टी है जिसे इस देश के हर क्षेत्र ने नकार दिया है। एक समय था जब कॉन्ग्रेस इस घमंड में रहती थी कि पूरे भारत में पंचायत से लेकर पार्लियामेंट तक उसका ही शासन है, लेकिन आज भारत की जनता ने पार्टी को गिने-चुने राज्यों में समेट दिया है।”

उधर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मैसूर में भाजपा के लिए चुनाव प्रचार किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि अगर कर्नाटक में कॉन्ग्रेस पार्टी सरकार बनाने में सफल हो जाती है और सिद्धारमैया जीत जाते हैं, तो ये लोग PFI पर से बैन हटा देंगे। बता दें कि कट्टर इस्लामी संगठन PFI भारत को 2047 तक ‘इस्लामी राज्य’ बनाने के मिशन पर लगा था, जिसके बाद केंद्र सरकार ने इसे प्रतिबंधित किया। अमित शाह ने कहा कि सिद्धारमैया ने अपने मुख्यमंत्री के कार्यकाल में भ्रष्टाचार के अलावा कुछ भी नहीं किया।

अमित शाह ने कहा, “कॉन्ग्रेस पार्टी ने कर्नाटक को केंद्र का ATM बनाया। सिद्धारमैया के राज में कर्नाटक में सिर्फ भ्रष्टाचार हुआ। सिद्धारमैया के समय में इतना भ्रष्टाचार हुआ कि पूरे भारत में सबसे ज्यादा भ्रष्टाचार करने वाली सरकार सिद्धारमैया की सरकार थी। ‘लिंगायतों ने यहां भ्रष्टाचार किया है’ – यह कहकर सिद्धारमैया ने लिंगायत समुदाय का अपमान किया है। निजलिंगप्पा और वीरेंद्र पाटिल को हटाकर पहले भी कॉन्ग्रेस पार्टी लिंगायत समुदाय का अपमान कर चुकी है।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: दौलत के 5 साल...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -