Wednesday, June 19, 2024
Homeराजनीतिअसदुद्दीन ओवैसी की सलामती के लिए हैदराबाद में 101 बकरों की 'कुर्बानी', AIMIM के...

असदुद्दीन ओवैसी की सलामती के लिए हैदराबाद में 101 बकरों की ‘कुर्बानी’, AIMIM के विधायक भी हुए शामिल

हैदराबाद के बाग ए जहाँआरा में ओवैसी की सुरक्षा और लंबी उम्र की दुआ करने के लिए एक व्यवसायी ने 101 बकरों की 'कुर्बानी' दी।

ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल (AIMIM) के लोकसभा सांसद असदुद्दीन ओवैसी के काफिले पर किए गए हमले के बाद उनके चाहने वाले लोग उनकी सुरक्षा के लिए दुआएँ कर रहे हैं। इसी क्रम में रविवार (6 फरवरी 2022) को हैदराबाद के बाग ए जहाँआरा में ओवैसी की सुरक्षा और लंबी उम्र की दुआ करने के लिए एक व्यवसायी ने 101 बकरों की ‘कुर्बानी’ दी। रिपोर्ट के मुताबिक, उस कार्यक्रम में हैदराबाद के मलकपेट से AIMIM के विधायक बलाला भी शामिल हुए।

उल्लेखनीय है कि असदुद्दीन ओवैसी 3 फरवरी को मेरठ में एक कार्यक्रम करके दिल्ली लौट रहे थे, उसी दौरान उनके साथ ये घटना हुई थी। इसको लेकर खुद औवैसी ने ट्वीट कर जानकारी दी थी। इसके अलावा मेरठ रेंज के आईजी ने पिलखुवा प्लाजा पर गोली चलने की बात कही जा रही है। इस रूट से ओवैसी का काफिला जा रहा था और कुछ लोगों के बीच आपस में बहस हुई थी। बस इस बात की जानकारी मिली है।

उत्तर प्रदेश चुनाव के बीच ओवैसी के साथ इस तरह की घटना के बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय ने उन्हें Z कैटेगरी की सुरक्षा देने का फैसला किया था। लेकिन, ओवैसी ने केंद्र की सुरक्षा लेने से इनकार कर दिया था। इसके बाद जहर उगलते हुए असदुद्दीन ओवैसी ने कहा था कि मुझे ये नहीं पता कि हमला किसने किया था, लेकिन मुझे यकीन है कि ये लोग नाथूराम गोडसे की नजायज औलाद हैं।

बहरहाल इस मामले में यूपी पुलिस ने सचिन और शुभम नाम के दो युवकों को गिरफ्तार भी किया था। इस मसले पर यूपी के लॉ एँड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने बताया था कि ओवैसी पर हमला करने वाले लोग उनके 2013-14 में राम मंदिर और हिंदुओं को लेकर दिए गए विवादित बयानों से आहत थे। इनमें एक आरोपित सचिन तो पहले से भी धारा 307 का मुजरिम है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

14 फसलों पर MSP की बढ़ोतरी, पवन ऊर्जा परियोजना, वाराणसी एयरपोर्ट का विस्तार, पालघर का पोर्ट होगा दुनिया के टॉप 10 में: मोदी कैबिनेट...

पालघर के वधावन पोर्ट की क्षमता अब 298 मिलियन टन यूनिट की जाएगी। इससे भारत-मिडिल ईस्ट कॉरिडोर भी मजबूत होगा। 9 कंटेनर टर्मिनल होंगे।

किताब से बहती नदी, शरीर से उड़ते फूल और खून बना दूध… नालंदा की तबाही का दोष हिन्दुओं को देने वाले वामपंथी इतिहासकारों का...

बख्तियार खिजली को क्लीन-चिट देने के लिए और बौद्धों को सनातन से अलग दिखाने के लिए वामपंथी इतिहासकारों ने नालंदा विश्वविद्यालय को तबाह किए जाने का दोष हिन्दुओं पर ही मढ़ दिया। इसके लिए उन्होंने तिब्बत की एक किताब का सहारा लिया, जो इस घटना के 500 साल बाद लिखी गई थी और जिसमें चमत्कार भरे पड़े थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -