Tuesday, September 28, 2021
Homeराजनीतिकॉन्ग्रेस नेता ने की हिन्दू धर्म और महिलाओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी, निकाला गया रोष...

कॉन्ग्रेस नेता ने की हिन्दू धर्म और महिलाओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी, निकाला गया रोष मार्च: पंजाब के वित्त मंत्री भी घेरे में

इससे पहले हुए प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे सुखपाल सिंह सरां ने आरोप लगाया था कि कॉन्ग्रेस पार्षद सुखराज औलख ने यज्ञ, व जाप के अलावा ब्राह्मण समाज व महिलाओं पर भी आपत्तिजनक टिप्पणी की है।

पंजाब के बठिंडा में कॉन्ग्रेस पार्टी के पार्षद सुखराज औलख ने हिन्दू धर्म के ऊपर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी, जिसके बाद सही उनका विरोध चालू है। सोमवार (30 अगस्त, 2021) को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर ही हिन्दू संगठनों व कार्यकर्ताओं ने हरि कीर्तन करते हुए कॉन्ग्रेस के पार्षद के खिलाफ आक्रोश जताया। ये मार्च फायर ब्रिगेड चौक से अमरीक सिंह रोड के अन्नपूर्णा मंदिर तक पहुँचा।

साथ ही पोस्ट ऑफिस बाजार के प्राचीन हनुमान मंदिर और सनातन धर्म मंदिर सहित विभिन्न मंदिरों तक भी ये मार्च गया। इसमें गणमान्य हिन्दुओं के अलावा कई महिलाओं-पुरुषों ने शिरकत की। जन्माष्टमी की झाँकी देखने पहुँचे श्रद्धालुओं ने भी कॉन्ग्रेस के पार्षद के बयान की निंदा की। वीनू गोयल ने इस आंदोलन का नेतृत्व किया। इस रोष मार्च के पीछे का उद्देश्य बताते हुए उन्होंने याद किया कि तरह श्रीकृष्ण ने द्रौपदी की लाज बचाई थी।

कॉन्ग्रेस के पार्षद पर हिन्दू बहू-बेटियों पर आपत्तिजनक बयान देने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि कॉन्ग्रेस की सरकार के लोगों का विश्वास अब उठ चुका है। साथ ही इस मामले में तुरंत FIR भी दर्ज करने की माँग की। वहीं ‘श्री हिन्दू तख़्त’ के संदीप पाठक ने आरोप लगाया कि राज्य के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल कॉन्ग्रेस पार्षद का बचाव कर रहे हैं। उन्होंने 2022 के विधानसभा चुनाव में कॉन्ग्रेस के बॉयकॉट की भी बात कही।

इससे पहले कॉन्ग्रेस पार्षद व पंजाब के वित्त मंत्री के पुतले भी फूँके चुके हैं। उस प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे सुखपाल सिंह सरां ने आरोप लगाया था कि कॉन्ग्रेस पार्षद सुखराज औलख ने यज्ञ, व जाप के अलावा ब्राह्मण समाज व महिलाओं पर भी आपत्तिजनक टिप्पणी की है। उन्होंने याद किया कि कैसे कॉन्ग्रेस आलाकमान के इशारे पर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के सलाहकार मलविंदर मल्ली ने देश के खिलाफ राग अलापा था।

उन्होंने सुखराज औलख का बॉयकॉट करने की बात करते हुए हर कार्यक्रम से उन्हें बहिष्कार किए जाने की बात कही। वहीं ब्राह्मण समाज के नेता आशुतोष तिवारी व नितिन गौड़ ने कहा कि कॉन्ग्रेस की हिन्दुओं के लिए हमेशा हीन भाव की मानसिकता रही है। मेयर रमन गोयल को माँग पत्र भी सौंप कर सुखराज औलख को निगम हाउस से बरखास्त किए जाने की माँग हुई थी। अदालत का दरवाजा खटखटाने की बात भी कही गई है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरि के मौत के दिन बंद थे कमरे के सामने लगे 15 CCTV कैमरे, सुबूत मिटाने की आशंका: रिपोर्ट्स

पूरा मठ सीसीटीवी की निगरानी में है। यहाँ 43 कैमरे लगाए गए हैं। इनमें से 15 सीसीटीवी कैमरे पहली मंजिल पर महंत नरेंद्र गिरि के कमरे के सामने लगाए गए हैं।

अवैध कब्जे हटाने के लिए नैतिक बल जुटाना सरकारों और उनके नेतृत्व के लिए चुनौती: CM योगी और हिमंता ने पेश की मिसाल

तुष्टिकरण का परिणाम यह है कि देश के बहुत बड़े हिस्से पर अवैध कब्जा हो गया है और उसे हटाना केवल सरकारों के लिए कानून व्यवस्था की चुनौती नहीं बल्कि राष्ट्रीय सभ्यता के लिए भी चुनौती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,823FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe