Saturday, July 20, 2024
Homeराजनीतिराजधानी ट्रेन के बाद अब राजधानी बस: UP के हर जिले से लखनऊ तक,...

राजधानी ट्रेन के बाद अब राजधानी बस: UP के हर जिले से लखनऊ तक, घर बैठे रिजर्वेशन… CM योगी ने दिखाई हरी झंडी

इन बसों का रिजर्वेशन UP-RAAHI ऐप से करवाया जा सकेगा। UP की राजधानी बस सेवा प्रदेश की राजधानी लखनऊ को सभी जिला मुख्यालयों से जोड़ेगी।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार (4 मार्च 2023) को लखनऊ से राजधानी बस सेवा का शुभारम्भ हरी झंडी दिखा कर किया। यह सेवा प्रदेश की राजधानी लखनऊ को सभी जिला मुख्यालयों से जोड़ेगी। इस अवसर पर यात्रियों की सुविधा के लिए एक ऑनलाइन रिजर्वेशन ऐप UP-RAAHI भी लॉन्च किया गया। इसी के साथ मुख्यमंत्री ने परिवहन विभाग से कहा है कि वो प्रदेश के 1 लाख गाँवों तक यातायात के सुगम साधन उपलब्ध करवाने की व्यवस्था करें।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नए बेड़े में कुल 115 बसें हैं। इसमें 76 राजधानी और 39 सामान्य बसें हैं। ये बसें अलग-अलग रुट पर चलेंगी। इन बसों का रिजर्वेशन UP-RAAHI ऐप से करवाया जा सकेगा। यह कार्यक्रम उत्तर प्रदेश परिवहन विभाग के 50 वर्ष पूरे होने के अवसर पर आयोजित हुआ था। इस मौके पर एक डाक टिकट भी जारी किया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसे स्वर्ण जयंती बताते हुए परिवहन विभाग की उपलब्धियों को गिनाया।

उत्तर प्रदेश के बजट का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री योगी ने बताया कि इस बार परिवहन निगम को 1000 नई बसें खरीदने के लिए शासन ने 400 करोड़ रुपए स्वीकृत किए गए हैं। मुख्यमंत्री के मुताबिक प्रदेश के बस अड्डों का कायाकल्प किया जाएगा और उन्हें एयरपोर्ट की तरह विकसित किया जाएगा।

सीएम योगी ने इस काम के लिए भी शासन द्वारा 100 करोड़ रुपए जारी किए जाने की जानकारी दी। बसों का निर्माण परिवहन निगम के ही वर्कशॉप में हो रहा है। इसी के साथ 10 साल से अधिक पुरानी बसों को स्क्रैप में बदल कर बाद में उनके सद्युपयोग की भी बात कही गई।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने परिवहन निगम से न सिर्फ सुदूर गाँवों बल्कि रेलवे और हवाई अड्डों से भी कनेक्टिविटी बढ़ाने के लिए कहा। कार्यक्रम में रोडवेज विभाग द्वारा कोरोना काल में किए गए कामों की भी तारीफ हुई।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -