Saturday, July 13, 2024
Homeराजनीति'आप चाय में जहर मिला दोगे...': सपा के ट्विटर हैंडल संचालक की गिरफ्तारी से...

‘आप चाय में जहर मिला दोगे…’: सपा के ट्विटर हैंडल संचालक की गिरफ्तारी से अखिलेश यादव भड़के, शिकायत करने वाली BJP की महिला नेता पर केस दर्ज

सपा मीडिया सेल के विरुद्ध शिकायत करने वाली BJP की युवा मोर्चा की नेता के खिलाफ एफआईआर करवा दी गई है। वहीं अखिलेश यादव की एक वीडियो सामने आई है। इस वीडियो में वह पुलिस वालों से कह रहे हैं कि उन्हें शक है पुलिस उन्हें चाय में जहर मिलाकर दे सकती है।

समाजवादी पार्टी के मीडिया सेल सदस्य मनीष अग्रवाल के गिरफ्तार होने के बाद पार्टी बौखलाई हुई है। एक ओर जहाँ सपा मीडिया सेल के विरुद्ध शिकायत करने वाली BJP की युवा मोर्चा की नेता डॉ ऋचा राजपूत के खिलाफ एफआईआर करवा दी गई है। वहीं अखिलेश यादव की भी एक वीडियो सामने आई है। इस वीडियो में वह पुलिस वालों से कह रहे हैं कि उन्हें शक है पुलिस उन्हें चाय में जहर मिलाकर दे सकती है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, समाजवादी पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने मनीष के गिरफ्तार होने के बाद लखनऊ के हजरतगंज थाने में शिकायत दी। इसमें कहा गया है कि ऋचा ने डिंपल यादव के ट्विटर अकॉउंट पर अभद्र टिप्पणी की। पुलिस ने शिकायत पाने के बाद केस दर्ज कर लिया है। सपा ने ऋचा के कुछ स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए माँग की है कि उन्हें जल्द से जल्द पकड़ा जाए।

इसी तरह मनीष के हिरासत में लिए जाने के बाद अखिलेश भी लखनऊ स्थित पुलिस मुख्यालय पहुँचे। यहाँ उन्होंने अपना गुस्सा पुलिस प्रशासन पर उतारा। पुलिस मुख्यालय में जब उनसे चाय के लिए पूछा गया तो उन्होंने अपने कार्यकर्ता से चाय लाने को कहा।

अपने कार्यकर्ता से वह बोले- “बाहर दुकान खुल गई हो तो मँगा लो, हम इनकी चाय नहीं पी सकते, इन पर हमें भरोसा नहीं है। हम बाहर की चाय पीएँगे या हम अपनी लाएँगे तब पीएँगे। हम नहीं पी सकते, जहर मिला दोगे तब, हमें आप पर बिलकुल भरोसा नहीं है।”

वीडियो में देख सकते हैं कि कैसे जब पुलिसवाले उनसे कुछ कहना शुरू करते हैं तो वो उन्हें रोक देते है और कहते हैं- “हमें सच में आप पर भरोसा नहीं है। हम बाहर से मँगाकर चाय पी लेंगे। आप अपनी चाय पियो, हम अपनी चाय पीएँगे।”

बता दें कि इससे पहले सपा के आधिकारिक ट्विटर अकॉउंट से ट्वीट आया था कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जब लखनऊ पुलिस मुख्यालय गए तो वहाँ पर कोई नहीं मिला। हालाँकि पुलिस ने इन आरोपों पर कहा कि आज रविवार का दिन था। इसलिए हेडक्वार्टर में अधिकारी नहीं थे, लेकिन जैसे ही अखिलेश यादव के आने की सूचना मिली तो सक्षम अधिकारी व लखनऊ पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुँच गए।

गौरतलब है ऋचा राजपूत ने सपा के मीडिया सेल पर रेप और हत्या की धमकी देने के आरोप लगाए थे। ऐसे में हजरतगंज पुलिस ने मनीष अग्रवाल को रविवार (8 जनवरी 2023) सुबह पकड़ा। इसके बाद से समाजवादी पार्टी धड़ाधड़ पोस्ट कर रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

लैंड जिहाद की जिस ‘मासूमियत’ को देख आगे बढ़ जाते हैं हम, उससे रोज लड़ते हैं प्रीत सिंह सिरोही: दिल्ली को 2000+ मजार-मस्जिद जैसी...

प्रीत सिरोही का कहना है कि वह इन अवैध इमारतों को खाली करवाएँगे। इन खाली हुई जमीनों पर वह स्कूल और अस्पताल बनाने का प्रयास करेंगे।

‘आपातकाल तो उत्तर भारत का मुद्दा है, दक्षिण में तो इंदिरा गाँधी जीत गई थीं’: राजदीप सरदेसाई ने ‘संविधान की हत्या’ को ठहराया जायज

सरदेसाई ने कहा कि आपातकाल के काले दौर में पूरे देश पर अत्याचार करने के बाद भी कॉन्ग्रेस चुनावों में विजयी हुई, जिसका मतलब है कि लोग आगे बढ़ चुके हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -