Saturday, August 8, 2020
Home राजनीति कॉन्ग्रेस नेता पंकज पुनिया पर दर्ज FIR खारिज करने से SC का इनकार, भगवान...

कॉन्ग्रेस नेता पंकज पुनिया पर दर्ज FIR खारिज करने से SC का इनकार, भगवान राम और भगवा पर किया था अमर्यादित ट्वीट

पंकज पुनिया के खिलाफ "धार्मिक भावनाओं को आहत करने" के आरोप में हरियाणा के करनाल के अलावा उत्तर प्रदेश के नोएडा और लखनऊ एवं मध्य प्रदेश में भी FIR दर्ज है। उन्हें 20 मई को गिरफ्तार किया गया था। गिरफ्तारी के बाद उन्होंने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था।

भगवान राम और भगवा पर अमर्यादित ट्वीट करने वाले कॉन्ग्रेस नेता नेता पंकज पुनिया को को सुप्रीम कोर्ट से झटका लगा है। सुप्रीम कोर्ट (SC) ने शुक्रवार (मई 29, 2020) को पुनिया के खिलाफ दर्ज FIR रद्द करने से इनकार कर दिया

न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा, न्यायमूर्ति एस अब्दुल नज़ीर और न्यायमूर्ति इंदिरा बनर्जी की खंडपीठ ने उत्तर प्रदेश के नोएडा और लखनऊ तथा मध्य प्रदेश के सिवनी में उनके खिलाफ दर्ज प्राथमिकी निरस्त करने से इनकार कर दिया।

बता दें कि पंकज पुनिया को सोशल मीडिया पोस्ट के माध्यम से हिंदुओं के “धार्मिक भावनाओं को आहत करने” के आरोप में हरियाणा के करनाल में दर्ज FIR के आधार पर गिरफ्तार किया गया था।

पुनिया ने गिरफ्तारी का हवाला देकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में दर्ज FIR रद्द की माँग की थी। परन्तु सुप्रीम कोर्ट ने FIR खारिज करने से इनकार कर दिया। पुनिया की तरफ से ये याचिका वरिष्ठ वकील संजय हेगड़े ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी।

- विज्ञापन -

पीठ ने अपने आदेश में कहा, “हम भारत के संविधान के अनुच्छेद 32 के तहत दायर इस याचिका पर विचार करने के लिए तैयार नहीं हैं। इसलिए यह याचिका खारिज की जाती है।” हालाँकि सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने कहा कि पुनिया चाहें तो इस मामले पर हाई कोर्ट में अर्जी लगा सकते हैं।

पंकज पुनिया के खिलाफ “धार्मिक भावनाओं को आहत करने” के आरोप में हरियाणा के करनाल के अलावा उत्तर प्रदेश के नोएडा और लखनऊ एवं मध्य प्रदेश में भी FIR दर्ज है। पुनिया को 20 मई को गिरफ्तार किया गया था।

गौरतलब है कि कॉन्ग्रेस नेता पंकज पुनिया ने मंगलवार (मई 19, 2020) को ट्वीट करके ‘संघियों’ को बलात्कारी बताया था। साथ ही भगवान राम के नाम का गलत इस्तेमाल किया और उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार की आलोचना करते हुए उनके खिलाफ बेहद ही आपत्तिजनक शब्द लिखे थे।

पुनिया ने यूपी सरकार की आलोचना करते हुए लिखा था, “कॉन्ग्रेस सिर्फ़ मजदूरों को अपने खर्च पर उनके घरों तक पहुँचाना चाहती थी। बिष्ट सरकार ने राजनीति शुरू की। भगवा लपेटकर नीच काम संघी ही कर सकते हैं। ये कब्र से निकालकर लाशों का बलात्कार करने वाले लोग हैं। बेटियों के सामने पैंट उतारकर जय श्रीराम के नारे लगाने वाले हस्तमैथुन करने वाले लोग हैं।”

इसको लेकर उनकी तीखी आलोचना हुई और गिरफ्तारी की माँग की जाने लगी। पंकज पुनिया के खिलाफ उत्तर प्रदेश के हजरतगंज और नोएडा पुलिस ने आईटी एक्ट सहित कई मामलो में FIR दर्ज की गई। ये मुकदमा धारा 295ए, 500, 505, 153ए और 66 आईटी एक्ट के तहत दर्ज किया गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘आधी उम्र की लड़कियों से रोमांस..’: अक्षय कुमार ने राम मंदिर का किया स्वागत तो भड़की AltNews की पत्रकार

ऑल्ट न्यूज़ अब हिंदू घृणा के निम्नतम स्तर पर उतर आया है। उसके पत्रकार ने अक्षय कुमार को निशाना बनाया क्योंकि उन्होंने राम मंदिर भूमिपूजन का स्वागत किया।

दिशा सालियान की आखिरी रात की पूरी कहानी: ‘मौत’ से 1 घंटे पहले का वीडियो आया सामने, सुसाइड थ्योरी पर उठे कई नए सवाल

सोशल मीडिया पर वायरल इस वीडियो को देख कर हर किसी के मन में यहीं सवाल है कि इतनी खुश दिखने वाली दिशा ने आखिर क्यों कुछ समय बाद सुसाइड कर लिया?

सुशांत सिंह राजपूत इतने बड़े स्टार नहीं थे कि मुंबई पुलिस पर इतना दबाव डाला जाए: राजदीप सरदेसाई

“लोगों ने पुलिस पर अपना भरोसा खो दिया है। सार्वजनिक संस्थानों, IPS अधिकारियों पर सवाल उठ रहे हैं, चाहे वह मुंबई हो या बिहार पुलिस। क्या वे वास्तव में निष्पक्ष जाँच कर रहे हैं? सुशांत सिंह राजपूत इतने बड़े स्टार नहीं थे कि मुंबई पुलिस पर इतना दबाव डाला जाए।"

इधर राम मंदिर का भूमिपूजन, उधर ‘Burnol’ के सर्च में भारी उछाल: नॉर्थ-ईस्ट ने दिखाई सबसे ज्यादा दिलचस्पी

5 अगस्त 2020 को अयोध्या में राम मंदिर भूमिपूजन के दौरान बर्नोल के सर्च में अप्रत्याशित वृद्धि देखी गई।

हिन्दुओं को गाली, लेकिन बुर्का, शरिया, मौलाना, मदरसा पर चुप्पी: जस्टिस काटजू ने ‘सेकुलर’ गैंग को लताड़ा

कन्हैया कुमार, शेहला रशीद, उमर खालिद, आरफा खानम, राणा अयूब सबको एक साथ सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज काटजू ने निशाने पर लिया है और इनके कथित सेकुलरिज्म को धो दिया है।

‘ये आँकड़े हैरान करने वाले हैं’: PM मोदी का समर्थन देख इंडिया टुडे के सर्वे से राजदीप सरदेसाई हुए हक्के-बक्के

राजदीप सरदेसाई इंडिया टुडे ग्रुप में काम करते हैं। लेकिन, उसके ही सर्वे को गुमराह करने वाला और अविश्वसनीय बताया, क्योंकि यह नरेंद्र मोदी सरकार के पक्ष में था।

प्रचलित ख़बरें

कॉल रिकॉर्ड से खुली रिया चकवर्ती की कुंडली: मुंबई के DCP के संपर्क में थी, महेश भट्ट का भी नाम

रिया चक्रवर्ती की कॉल डिटेल से पता चला है कि वह मुंबई पुलिस के एक टॉप अधिकारी के संपर्क में थी।

मस्जिद में कुरान पढ़ती बच्ची से रेप का Video आया सामने, मौलवी फरार: पाकिस्तान के सिंध प्रांत की घटना

पाकिस्तान के सिंध प्रान्त स्थित कंदियारो की एक मस्जिद में बच्ची से रेप का मामला सामने आया है। आरोपित मौलवी अब्बास फरार बताया जा रहा है।

‘घुस के मारो सालों को’: बंगाल में मुस्लिम भीड़ ने राम की पूजा कर रहे हिंदुओं को बनाया निशाना, देखें Video

राम मंदिर भूमिपूजन के मौके पर बंगाल में कई जगहों पर पूजा आयोजित की गई थी। इन्हें मुस्लिम भीड़ ने चुन-चुनकर निशाना बनाया।

असम: राम मंदिर का जश्न मना रहे बजरंगदल कार्यकर्ताओं से मुस्लिमों ने की हिंसक झड़प, 25 को बनाया बंधक, कर्फ्यू

झड़प के दौरान पाकिस्तान के समर्थन में भी नारे लगे गए और मुस्लिम युवकों ने बजरंगदल के करीब 25 कार्यकर्ताओं को बंधक भी बना दिया।

जैसे-जैसे खुल रही परतें, रिया चकवर्ती पर कसता जा रहा शिकंजा: सुशांत की मौत में गर्लफ्रेंड के ‘विलेन’ बनने की पूरी कहानी

14 जून को सुशांत घर में लटके मिले थे। शुरू में सुसाइड लग रहा मामला आगे बढ़ा और संदेह के दायरे में आई रिया चकवर्ती। क्या हुए हैं खुलासे? पढ़िए, सब कुछ।

मरते हुए सड़क पर रक्त से लिखा सीताराम, मरने के बाद भी खोपड़ी में मारी गई 7 गोलियाँ… वो एक रामभक्त था

वो गोली लगते ही गिरे और अपने खून से लिखा "सीताराम"। शायद भगवान का स्मरण या अपना नाम! CRPF वाले ने 7 गोलियाँ और मार कर...

‘आधी उम्र की लड़कियों से रोमांस..’: अक्षय कुमार ने राम मंदिर का किया स्वागत तो भड़की AltNews की पत्रकार

ऑल्ट न्यूज़ अब हिंदू घृणा के निम्नतम स्तर पर उतर आया है। उसके पत्रकार ने अक्षय कुमार को निशाना बनाया क्योंकि उन्होंने राम मंदिर भूमिपूजन का स्वागत किया।

बच्चों से अधनंगे बदन पर पेंटिंग करवाने वाली रेहाना फातिमा ने किया आत्मसमर्पण: SC ने खारिज कर दी थी अग्रिम जमानत याचिका

केरल के सबरीमाला स्थित भगवान अयप्पा मंदिर में घुसने की कोशिश करने और साजिशन अपनी सोशल मीडिया पोस्ट से श्रद्धालुओं की भावनाओं को भड़काने को लेकर विवादों में आई एक्टिविस्ट रेहाना फातिमा ने शनिवार की शाम को एर्नाकुलम साउथ पुलिस स्टेशन में आत्मसमर्पण कर दिया।

दिशा सालियान की आखिरी रात की पूरी कहानी: ‘मौत’ से 1 घंटे पहले का वीडियो आया सामने, सुसाइड थ्योरी पर उठे कई नए सवाल

सोशल मीडिया पर वायरल इस वीडियो को देख कर हर किसी के मन में यहीं सवाल है कि इतनी खुश दिखने वाली दिशा ने आखिर क्यों कुछ समय बाद सुसाइड कर लिया?

पिछली सरकारों ने नहीं दिया अयोध्या पर ध्यान, CM योगी के नेतृत्व में होगा राम जन्मस्थान का विकास: अयोध्या के शाही सदस्य

“इससे पहले अन्य लोग सरकार में थे, उन्होंने अयोध्या पर बिल्कुल ध्यान नहीं दिया। यहाँ किसी तरह का विकास कार्य नहीं हुआ करता था। अब पूरे अयोध्या और यहाँ तक ​​कि भारत को भी उम्मीद है कि यह एक सुंदर शहर बनकर उभरेगा।”

सुशांत सिंह राजपूत इतने बड़े स्टार नहीं थे कि मुंबई पुलिस पर इतना दबाव डाला जाए: राजदीप सरदेसाई

“लोगों ने पुलिस पर अपना भरोसा खो दिया है। सार्वजनिक संस्थानों, IPS अधिकारियों पर सवाल उठ रहे हैं, चाहे वह मुंबई हो या बिहार पुलिस। क्या वे वास्तव में निष्पक्ष जाँच कर रहे हैं? सुशांत सिंह राजपूत इतने बड़े स्टार नहीं थे कि मुंबई पुलिस पर इतना दबाव डाला जाए।"

आजमगढ़ के कबीरुद्दीनपुर में क्षतिग्रस्त कर दी गई भगवान शिव की प्रतिमा: फरार हुए आरोपित, क्षेत्र में तनाव

ये घटना अतरौलिया थाना क्षेत्र के शेखपुरा कबीरूद्दीनपुर गाँव की है, जहाँ ग्राम समाज की ही जमीन पर 15 वर्ष पहले शिव मंदिर की स्थापना की गई थी।

अयोध्या राम मंदिर 1000 साल तक रहेगी पूरी तरह सुरक्षित: भूकंप जैसी प्राकृतिक आपदा भी कुछ बिगाड़ नहीं पाएगी

राम मंदिर का निर्माण कुछ इस तरह होगा कि इस पर किसी प्रकार के कोई प्राकृतिक आपदाओं का असर नहीं होगा। हजारों सालों तक इस पर भूकंप जैसे प्राकृतिक आपदाओं का भी कोई असर नहीं होगा।

कर्नाटक: मंदिरों से दानपेटी हटाते पुजारियों का वीडियो फिर वायरल, सरकारी नियंत्रण का कर रहे थे विरोध

कर्नाटक के पुजारियों का वह वीडियो फिर से वायरल हो रहा है जब उन्होंने मंदिरों से दानपेटी हटा दी थी। ऐसा मंदिरों पर सरकारी नियंत्रण के विरोध में किया गया था।

जाकिर नाइक को निकालना चाहते हैं, लेकिन कोई भी देश उसे कबूल करने को तैयार नहीं है: मलेशिया के पूर्व PM महातिर मोहम्मद

मनी लॉन्ड्रिंग का आरोपित कट्टर इस्लामी प्रचारक जाकिर नाइक 2016 में भारत से भाग गया था। अब मलेशिया उसे किसी दूसरे देश में भेजना चाहता है।

राजस्थान में बढ़ी सियासी सरगर्मी: BJP ने अपने 12 MLA को गुजरात शिफ्ट किया, राज्य पुलिस ने देशद्रोह मामले में बंद की फाइल

कहा जा रहा है कि अब तक भाजपा ने खरीद-फरोख्त के डर से अपने 12 विधायकों को गुजरात शिफ्ट किया है। उदयपुर से गुजरात की दूरी भी कम है।

हमसे जुड़ें

244,817FansLike
64,468FollowersFollow
293,000SubscribersSubscribe
Advertisements