Wednesday, May 22, 2024
Homeराजनीतिजिस महिला से पल्ला झाड़ने में जुटी कॉन्ग्रेस, वह चीनी राजदूत ही: राहुल गाँधी...

जिस महिला से पल्ला झाड़ने में जुटी कॉन्ग्रेस, वह चीनी राजदूत ही: राहुल गाँधी के करीबी रेवंत रेड्डी ने की पुष्टि, पार्टी वीडियो में आई थी नजर

रेवंत रेड्डी को राहुल गाँधी का सबसे करीबी सहयोगी माना जाता है। ऐसे में तेलंगाना नेता द्वारा यह स्वीकार करना कि राहुल के साथ वीडियो में नजर आने वाली महिला चीनी राजदूत है, कॉन्ग्रेस पार्टी की मुश्किलें बढ़ा सकती हैं।

तेलंगाना कॉन्ग्रेस अध्यक्ष और सांसद रेवंत रेड्डी (Telangana Congress president Revanth Reddy) ने काठमांडू नाइट क्लब में राहुल गाँधी (Rahul Gandhi) के साथ देखी गई महिला को लेकर सनसनीखेज खुलासा किया है। उन्होंने सोशल मीडिया पर वायरल हो रही खबरों को सही ठहराते हुए स्वीकार किया है कि क्लब में राहुल गाँधी के साथ देखी गई महिला कोई और नहीं, बल्कि चीन की राजदूत होउ यांकी (Hou Yanqi) ही हैं। स्थानीय मीडिया से बात करते हुए रेवंत रेड्डी ने कहा कि राहुल गाँधी ने नेपाल की राजधानी काठमांडू के एक नाइट क्लब में चीनी राजदूत (Chinese Ambassador) से मुलाकात की थी।

हाल ही में काठमांडू के नाइट क्लब में कॉन्ग्रेस के वरिष्ठ नेता और केरल के वायनाड से सांसद नेता राहुल गाँधी की एक महिला के साथ वीडियो वायरल हुई थी। इसको लेकर एक पत्रकार ने भाजपा नेताओं द्वारा किए जा रहे दावों के संबंध में रेड्डी से सवाल पूछा। इसके जवाब में रेवंत रेड्डी ने कहा कि भाजपा नेताओं में सामाजिक और पारिवारिक मूल्य की समझ नहीं है।

उन्होंने इस बात की पुष्टि की कि राहुल गाँधी अरुंधति रॉय की फैन और जामिया उपद्रवियों की समर्थक सीएनएन की पूर्व पत्रकार दोस्त सुमनीमा उदास की शादी में शामिल होने के लिए नेपाल गए थे। अपनी यात्रा के दौरान राहुल एक डिनर पार्टी में भी शामिल हुए, जहाँ उन्हें एक महिला के साथ देखा गया। इस महिला की पुष्टि करते हुए कॉन्ग्रेस नेता ने कहा कि वह कोई और नहीं, बल्कि चीन की राजदूत थीं।

रेवंत रेड्डी ने कथित चीनी राजदूत के साथ राहुल गाँधी की मुलाकात का बचाव करते हुए कहा, “राहुल गाँधी का चीनी राजदूत से मुलाकात का वीडियो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर खूब वायरल हुआ। यह सब चोरी-छिपे या फिर बंद दरवाजों के पीछे नहीं हुआ। काठमांडू कोई प्रतिबंधित क्षेत्र या दुश्मन देश नहीं है। नेपाल में प्रवेश करने के लिए आपको पासपोर्ट या वीजा की भी आवश्यकता नहीं होती। ऐसे में अपनी दोस्त की शादी में शामिल होने गए राहुल गाँधी को लेकर बेवजह मुद्दा बनाया जा रहा है, जबकि ऐसा कुछ भी नहीं है।”

रेवंत रेड्डी को राहुल गाँधी का सबसे करीबी सहयोगी माना जाता है। ऐसे में तेलंगाना नेता द्वारा यह स्वीकार करना कि राहुल के साथ वीडियो में नजर आने वाली महिला चीनी राजदूत है, कॉन्ग्रेस पार्टी की मुश्किलें बढ़ा सकती हैं। क्योंकि, पार्टी ने दावा किया था कि वह नेपाल अपनी दोस्त की शादी में शामिल होने के लिए गए थे। यह कोई राजनीतिक दौरा नहीं था।

गौरतलब है कि इंडिया टुडे ने राहुल गाँधी के बचाव में हाल ही में एक फैक्ट चेक किया था। उसकी रिपोर्ट के अनुसार, वीडियो में दिख रही महिला को लेकर किया जा रहा दावा निराधार है। उसका कहना है कि वीडियो में राहुल गाँधी जिस महिला से बात कर रहे हैं, वह चीन की राजदूत नहीं है। वह नेपाल की एक महिला है, जो दुल्हन की दोस्त है। काठमांडू के जिस लॉर्ड ऑफ ड्रिंक्स पब में कॉन्ग्रेस नेता पार्टी के लिए गए थे, उसके सीईओ राबिन श्रेष्ठ के हवाले से इंडिया टुडे ने बताया है कि उनके साथ दिख रही ​महिला चीनी राजदूत नहीं है। उन्होंने कहा, “वह दुल्हन की फ्रेंड है, जिसे शादी में आमंत्रित किया गया था।”

बता दें कि कॉन्गेस के पूर्व अध्यक्ष और केरल के वायनाड से सांसद राहुल गाँधी (Rahul Gandhi) के मंगलवार (3 मई 2022) को नेपाल के एक नाइट क्लब में पार्टी करते दो वीडियो वायरल हुए थे। वायरल वीडियो में कॉन्ग्रेस के पूर्व अध्यक्ष एक महिला के साथ नजर आ रहे हैं। इसको लेकर नेटिजन्स का दावा है कि यह महिला नेपाल में चीन की राजदूत होउ यांकी (Hou Yanqi) हैं।  एक वीडियो में राहुल गाँधी शराब की बोतलों के आगे फोन देख रहे हैं। दूसरी वीडियो में वो एक महिला के साथ खड़े हैं और उनसे कानाफूसी भी कर रहे हैं। आपको बता दें कि राहुल गाँधी पर उनकी पार्टी को बीच मझधार में छोड़ हर-हमेशा विदेश चले जाना का आरोप लगता रहा है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -