Saturday, July 20, 2024
Homeराजनीति'गौमूत्र पियो थोड़ी अक्ल आएगी' : उद्धव ठाकरे ने फिर उड़ाया हिंदुत्व का मजाक,...

‘गौमूत्र पियो थोड़ी अक्ल आएगी’ : उद्धव ठाकरे ने फिर उड़ाया हिंदुत्व का मजाक, RSS-BJP को कहा- ‘वे गौमूत्रधारी, हम राष्ट्रवादी’

उद्धव बोले, "एक तरफ बीजेपी हनुमान चालीसा पढ़ती है और दूसरी तरफ मस्जिदों में जाकर कव्वाली सुनते हैं। क्या यह उनका हिंदुत्व है। वे यूपी में जाकर हिंदुत्व की बात करते हैं? क्या ये उनका हिंदुत्व है? हमारा हिंदुत्व देश के लिए जीवन बलिदान और उनका हिंदुत्व केवल दिखावा है।"

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री व शिवसेना नेता उद्धव ठाकरे ने अपने हिंदुत्व की परिभाषा को भाजपा के हिंदुत्व की परिभाषा से अलग बताया है। उन्होंने कहा है कि उनका हिंदुत्व का अर्थ ‘राष्ट्रवाद’ से है जबकि भाजपा के हिंदुत्व का अर्थ ‘गौमूत्र’ से संबंधी है। उनका यह बयान महा विकास अघाड़ी द्वारा नागपुर में किए गए एकता और शक्ति प्रदर्शन के दौरान दिया गया।

उद्धव ठाकरे ने अपने कॉन्ग्रेस के साथ गठबंधन की बात पर सफाई देते समय गौमूत्र का मजाक उड़ाया। वह बोले, “हर बार मुझपर आरोप लगाते हैं कि मैं कॉन्ग्रेस के साथ चला गया और हिंदुत्व को छोड़ दिया, क्या कॉन्ग्रेस में हिंदू नहीं हैं? उनका (आरएसएस-भाजपा) हिंदुत्व ‘गौमूत्रधारी हिंदुत्व’ है। उन्होंने संभाजीनगर में उस जगह पर गौमूत्र छिड़का, जहाँ हमने अपनी जनसभा की थी। उन लोगों को खुद भी थोड़ा गौमूत्र पीना चाहिए ताकि उन्हें थोड़ी अक्ल आए। हमारा हिंदुत्व राष्ट्रवाद के बारे में हैं।”

उद्धव बोले, “एक तरफ बीजेपी हनुमान चालीसा पढ़ती है और दूसरी तरफ मस्जिदों में जाकर कव्वाली सुनते हैं। क्या यह उनका हिंदुत्व है। वे यूपी में जाकर हिंदुत्व की बात करते हैं? क्या ये उनका हिंदुत्व है? हमारा हिंदुत्व देश के लिए जीवन बलिदान और उनका हिंदुत्व केवल दिखावा है।”

ऐसा पहली बार नहीं है कि उद्धव ठाकरे ने गौमूत्र का मजाक बनाया हो। 5 मार्च 2023 को दिए बयान में भी उन्होंने कहा था कि गौमूत्र छिड़कने से देश को आजादी नहीं मिली। उन्होंने विवादित बयान देते हुए कहा था, “क्या हमारे देश को गौमूत्र छिड़कने से आजादी मिली थी? क्या ऐसा हुआ था कि गौमूत्र छिड़का गया और हमें आजादी मिली? ऐसा नहीं था, स्वतंत्रता सेनानियों ने बलिदान दिया था। तब कहीं जाकर हमें आजादी मिली थी।”

गौरतलब है कि हाल में उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे को अयोध्या में राम मंदिर के दर्शन करने पर भी निशाना साधा था। ठाकरे ने कहा था कि राज्य में किसान ओलावृष्टि और बेमौसम बारिश से पीड़ित थे लेकिन राज्य के सीएम अयोध्या दर्शन के लिए गए थे। वहीं भाजपा को लेकर कहा था कि उन्होंने लोकतंत्र के मूल्यों की हत्या कर दी है। वह सिर्फ अडानी समूह की मदद कर रहे हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

घुमंतू (खानाबदोश) पूजा खेडकर: जिसका बाप IAS, वो गुलगुलिया की तरह जगह-जगह भटक बिताई जिंदगी… इसी आधार पर बन गई MBBS डॉक्टर

पूजा खेडकर ने MBBS में नाम लिखवाने से लेकर IAS की नौकरी पास करने तक में नाम, उम्र, दिव्यांगता, अटेंप्ट और आय प्रमाण पत्र में फर्जीवाड़ा किया।

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -