Sunday, July 21, 2024
Homeराजनीति'राघव चड्ढा चोर है': AAP के पंजाब सह-प्रभारी पर टिकट बँटवारे में भेदभाव का...

‘राघव चड्ढा चोर है’: AAP के पंजाब सह-प्रभारी पर टिकट बँटवारे में भेदभाव का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा, चले लात-घूँसे

चड्ढा ने मीडिया को संबोधित करते हुए कॉन्ग्रेस के पूर्व नेता और दो बार के पार्षद दिनेश ढल को पार्टी में शामिल कराया और पिछले दरवाजे से निकलकर अपनी गाड़ी में बैठ गए। हालाँकि, प्रदर्शनकारी आप समर्थकों ने उनकी गाड़ी का पीछा किया, लेकिन ड्राइवर गाड़ी भगाकर निकाल ले गया।

पंजाब में होने वाले विधानसभा चुनावों (Punjab assembly polls) में आम आदमी पार्टी (AAP) भले ही जीत के दावे कर रही हो, लेकिन वास्तविकता यही है कि वहाँ पार्टी में ही फूट पड़ी हुई है। शुक्रवार (7 जनवरी 2022) को जालंधर में आम आदमी पार्टी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान आप नेता टिकट बँटवारे को लेकर आपस में भिड़ गए और खूब लात-घूँसे चले।

प्रेस क्लब में राघव चड्ढा (Raghav chaddha) की प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कॉन्ग्रेस के पूर्व पार्षद दिनेश ढल को पार्टी में शामिल करवाया जाना था, लेकिन टिकट बँटवारे को लेकर विवाद हो गया। इस दौरान पंजाब के सह-प्रभारी के खिलाफ ‘राघव चड्ढा चोर है’ के नारे लगाए गए। बात यहीं तक रहती तो गनीमत होती, लेकिन मामला इतना बढ़ गया कि लोगों के बीच जमकर मारपीट भी हो गई। टिकट बंटवारे को लेकर करीब 45-50 मिनट हुए बवाल के बाद राघव चड्ढा को पिछले दरवाजे से बाहर भागना पड़ा।

आम आदमी पार्टी में इस अंदरूनी बवाल से जुड़े वीडियो सोशल मीडिया (social media) पर खूब शेयर किए जा रहे हैं। वायरल हो रहे वीडियो में पार्टी के नेताओं को जालंधर प्रेस क्लब में एक-दूसरे को धक्का देते और मारपीट करते देखा जा सकता है।

इस घटना से जुड़ा एक वीडियो बीजेपी (BJP) नेता लक्ष्मीकांत भारद्वाज (Lakshmikant bhardwaj) ने ट्विटर पर शेयर किया, जिसमें आप के कार्यकर्ता और नेता ‘राघव चड्ढा चोर हैं’ के नारे लगाते हुए देखे जा सकते हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक, राघव चड्ढा की प्रेस कॉन्फ्रेंस में ये बवाल टिकट के दावेदार जालंधर पश्चिम विधानसभा क्षेत्र से डॉ शिव दयाल माली और जालंधर मध्य क्षेत्र के डॉ संजीव शर्मा के समर्थकों और राघव चड्ढा व दिनेश ढल के समर्थकों के बीच शुरू हुआ। टिकट के लिए दावेदारी करने वाले आप नेताओं के समर्थकों का आरोप है कि राघव चड्ढा अपने साथ बाउंसर लेकर आए थे। जब वो टिकट के लिए नारेबाजी कर रहे थे तो उन बाउंसर्स ने उनके साथ मारपीट की।

शुक्रवार (7 जनवरी 2021) की शाम को जब 4:30 बजे प्रेस क्लब में घुस रहे थे, तो उसी दौरान आप के समर्थकों ने ‘राघव चड्ढा चोर है’ के नारे लगाते हुए आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल किया। प्रदर्शन कर रहे आप के समर्थकों ने भ्रष्ट लोगों को पार्टी में शामिल करने के लिए सीक्रेट समझौते करने का आरोप राघव चड्ढा पर लगाया।

विरोध के बाद राघव चड्ढा पहले तो अपनी कार से लौट गए और फिर कुछ देर में अपने साथ कुछ बॉडी बिल्डर्स को लेकर लौटे। इन बॉडी बिल्डर्स ने प्रदर्शन कर रहे आप कार्यकर्ताओं के साथ धक्का-मुक्की करके प्रेस क्लब के अंदर राघव चड्ढा को पहुँचाया।

अंदर जाने के तुरंत बाद चड्ढा ने मीडिया को संबोधित करते हुए कॉन्ग्रेस के पूर्व नेता और दो बार के पार्षद दिनेश ढल को पार्टी में शामिल कराया और पिछले दरवाजे से निकलकर अपनी गाड़ी में बैठ गए। हालाँकि, प्रदर्शनकारी आप समर्थकों ने उनकी गाड़ी का पीछा किया, लेकिन ड्राइवर गाड़ी भगाकर निकाल ले गया।

पंजाब के लोगों को केजरीवाल ने दिया था मुफ्तखोरी का लालच

भले ही पंजाब में आम आदमी पार्टी टिकट के बँटवारे को लेकर अंदरूनी विद्रोह का सामना कर रही हो, लेकिन अरविंद केजरीवाल कोरोना नियमों की धज्जियाँ उड़ाते हुए जमकर चुनावी रैलियाँ कर रहे हैं। उन्होंने पार्टी की सरकार आने पर पंजाब में 300 यूनिट मुफ्त बिजली, बकाया बिजली बिलों को रद्द करने और चौबीसों घंटे बिजली देने का वादा किया है। हाल ही में भगवंत मान को पंजाब के मुख्यमंत्री के तौर पर सहमति जताई गई थी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भारत के ओलंपिक खिलाड़ियों को मिला BCCI का साथ, जय शाह ने किया ₹8.50 करोड़ मदद का ऐलान: पेरिस में पदकों का रिकॉर्ड तोड़ने...

बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने बताया कि ओलंपिक अभियान के लिए इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) को बीसीसीआई 8.5 करोड़ रुपए दे रही है।

वामपंथी सरकार ने चलवाई गोली, मारे गए 13 कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता: जानें क्यों ममता बनर्जी मना रहीं ‘शहीद दिवस’, TMC ने हाईजैक किया कॉन्ग्रेस का...

कभी शहीद दिवस कार्यक्रम कॉन्ग्रेस मनाती थी, लेकिन ममता बनर्जी ने कॉन्ग्रेस पार्टी से अलग होने के बाद युवा कॉन्ग्रेस के 13 कार्यकर्ताओं की हत्या को अपने नाम के साथ जोड़ लिया और उसका इस्तेमाल कम्युनिष्टों की जड़ काटने में किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -