Saturday, July 24, 2021
Homeराजनीतिनंदीग्राम में ममता और शुभेंदु के बीच महामुकाबला: बीजेपी ने पहले और दूसरे फेज...

नंदीग्राम में ममता और शुभेंदु के बीच महामुकाबला: बीजेपी ने पहले और दूसरे फेज के लिए 57 कैंडिडेट्स के नामों का किया ऐलान

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी खुद इस बार नंदीग्राम से चुनावी मैदान में होंगी। ऐसे में बीजेपी ने शुभेंदु अधिकारी को भी नंदीग्राम से टिकट देकर मुकाबले को दिलचस्प कर दिया है। शुभेंदु ने यहाँ से सीएम ममता को चुनाव हराने का दावा किया है।

पश्चिम बंगाल विधान सभा चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने 57 सीटों पर कैंडिडेट्स की लिस्ट जारी कर दी है। नंदीग्राम सीट से शुभेंदु अधिकारी को टिकट दिया गया है। जबकि मोइना से अशोक डिंडा चुनाव लड़ेंगे। 

8 फेज में होगा पश्चिम बंगाल का चुनाव

पश्चिम बंगाल की 294 विधान सभा सीटों पर 8 चरणों में चुनाव होगा। पहला चरण- 27 मार्च, दूसरा चरण- 1 अप्रैल, तीसरा चरण- 6 अप्रैल, चौथा चरण- 10 अप्रैल, पाँचवा चरण- 17 अप्रैल, छठा चरण- 22 अप्रैल, सातवाँ चरण- 26 अप्रैल और आठवाँ चरण- 29 अप्रैल को होगा। 

इस दौरान रिटायर्ड पुलिस अधिकारी विवेक दुबे और एमके दास को ऑब्जर्वर बनाया गया है। पश्चिम बंगाल में 2016 में 77,413 चुनाव केंद्र थे, जबकि इस बार 1,01,916 चुनाव केंद्र होंगे। 2 मई को रिजल्ट आएगा।

इससे पहले कल (शुक्रवार) तृणमूल कॉन्ग्रेस ने 291 सीटों के लिए अपने उम्मीदवारों के नाम की घोषणा की। साथ ही कॉन्ग्रेस, लेफ्ट और आइएसएफ गठबंधन ने भी 60 सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नाम का ऐलान किया था। 

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी खुद इस बार नंदीग्राम से चुनावी मैदान में होंगी। ऐसे में बीजेपी ने शुभेंदु अधिकारी को भी नंदीग्राम से टिकट देकर मुकाबले को दिलचस्प कर दिया है। शुभेंदु ने यहाँ से सीएम ममता को चुनाव हराने का दावा किया है। 

कल तृणमूल कॉन्ग्रेस ने कुल 291 उम्मीदवारों की लिस्ट में 50 महिला उम्मीदवारों को मौका दिया। इनके अलावा 42 मुस्लिम उम्मीदवार, 79 SC उम्मीदवार और 17 ST उम्मीदवारों को टिकट दिया गया है। क्रिकेटर मनोज तिवारी को शिबपुर से टिकट मिला है, जबकि अभिनेत्री कंचन मलिक को उत्तरपाड़ा से मौका मिला है। 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ से इस्लाम शुरू, नारीवाद वहीं पर खत्म… डर और मौत भला ‘चॉइस’ कैसे: नितिन गुप्ता (रिवाल्डो)

हिंदुस्तान में नारीवाद वहीं पर खत्म हो जाता है, जहाँ से इस्लाम शुरू होता है। तीन तलाक, निकाह, हलाला पर चुप रहने वाले...

NH के बीच आने वाले धार्मिक स्थलों को बचाने से केरल HC का इनकार, निजी मस्जिद बचाने के लिए राज्य सरकार ने दी सलाह

कोल्लम में NH-66 के निर्माण कार्य के बीच में धार्मिक स्थलों के आ जाने के कारण इस याचिका में उन्हें बचाने की माँग की गई थी, लेकिन केरल हाईकोर्ट ने इससे इनकार कर दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,018FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe