Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजबिहार: अब गया में पसरा चमकी बुखार का खौफ, 6 बच्चों की मौत

बिहार: अब गया में पसरा चमकी बुखार का खौफ, 6 बच्चों की मौत

गया के अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज में 2 जुलाई के बाद से 22 बच्चे भर्ती किए गए हैं। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक 14 बच्चों में एक्यूट इन्सेफेलाइटिस सिंड्रोम के लक्षण पाए गए हैं

बिहार के मुजफ्फरपुर में 145 से अधिक मासूमों की मौत के बाद अब गया में ‘चमकी बुखार’ से 6 बच्चों की मौत का मामला सामने आया है। सभी मौतें जिले के अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज अस्पताल में हुई हैं।
अस्पताल अधीक्षक वीके प्रसाद ने बताया कि 2 जुलाई के बाद से ये मामले सामने आए हैं। 6 बच्चों की मौत की उन्होंने पुष्टि की है। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक दो जुलाई के बाद से अस्पताल में 22 बच्चे भर्ती किए गए हैं। इनमे से 14 में एक्यूट इन्सेफेलाइटिस सिंड्रोम यानी AES के लक्षण पाए गए हैं।

प्रसाद ने बताया, ” 2 जुलाई से अब तक अस्पताल में 22 मरीज भर्ती किए गए हैं। शुरुआती लक्षण AES के लग रहे हैं। लेकिन जब तक जांच रिपोर्ट नहीं आती मुकम्मल तौर पर कुछ नहीं कहा जा सकता।”

बता दें मौसम में बदलाव के कारण मुजफ्फरपुर में AES के मामलों में कमी देखी गई है। लेकिन, गया में नए मामले सामने आने से प्रशासन सकते में है। बिहार में अब तक 180 से अधिक बच्चे चमकी बुखार के कारण अपनी जान गंवा चुके हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

वकील चलाता था वेश्यालय, पुलिस ने की कार्रवाई तो पहुँचा हाई कोर्ट: जज ने कहा- इसके कागज चेक करो, लगाया ₹10000 का जुर्माना

मद्रास हाई कोर्ट में एक वकील ने अपने वेश्यालय पर कार्रवाई के खिलाफ याचिका दायर की। कोर्ट ने याचिका खारिज करके ₹10,000 का जुर्माना लगा दिया।

माजिद फ्रीमैन पर आतंक का आरोप: ‘कश्मीर टाइप हिंदू कुत्तों का सफाया’ वाले पोस्ट और लेस्टर में भड़की हिंसा, इस्लामी आतंकी संगठन हमास का...

ब्रिटेन के लेस्टर में हिन्दुओं के विरुद्ध हिंसा भड़काने वाले माजिद फ्रीमैन पर सुरक्षा एजेंसियों ने आतंक को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -