PAK सेना बलूचिस्तान में दुष्कर्म और निर्दोषों की हत्या के लिए कुख्यात: बलूच नेता

'चाहे पाकिस्‍तानी आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा हों, परवेज़ मुशर्रफ हों अथवा पाकिस्तानी सेना का कोई दूसरा अधिकारी हो, सभी ने इंसानियत के खिलाफ अपराध किया है। इन सबके नेतृत्‍व में बेगुनाहों की जानें गई हैं।'

वैश्विक पटल पर मानवाधिकारों का हनन करने की घटनाओं के लिए पाकिस्तान लगातार घेरा जा रहा है। अभी कुछ दिन पहले धार्मिक स्वतंत्रता भंग करने के इल्जाम में UNPO के महासचिव ने उसके ख़िलाफ़ यूरोपीय संघ में आवाज उठाई थी और अब बलूच नेता ने पाकिस्तानी फौज द्वारा बलूचिस्तान में किए जा रहे बर्बर अत्याचारों की पोल खोली है।

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो मंगलवार (सितंबर 17, 2019) को बलूच नेता मेहरान मारी ने लंदन में पाकिस्तान के खिलाफ़ बयान देते हुए पाकिस्तानी फौजियों पर आरोप लगाया कि वो बलूचिस्तान में महिलाओं के साथ दुष्कर्म करते हैं और सरेआम बेगुनाह लोगों को गोलियों से छलनी कर देते हैं।

उनकी मानें तो पाकिस्तान फौज बलूचिस्तान में उसी नीति पर अमल कर रही है जैसे कि उसने बांग्लादेश में अपने ऑपरेशन के दौरान किया था।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

अपने बयान में बलूच नेता ने बताया कि पाकिस्तानी फौज के सिपाहियों ने एक महीने के अंतराल में मरदान की एक महिला और ग्वादर की एक महिला के साथ दुष्कर्म किया है। और इसके लिए सिर्फ़ पाक सेना को दोषी ठहराया जाना चाहिए। चाहे पाकिस्‍तानी आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा हों, परवेज़ मुशर्रफ हों अथवा पाकिस्तानी सेना का कोई दूसरा अधिकारी हो, सभी ने इंसानियत के खिलाफ अपराध किया है। इन सबके नेतृत्‍व में बेगुनाहों की जानें गई हैं।

उल्लेखनीय है कि ये पहला मौक़ा नहीं है जब मेहरान मारी ने पाकिस्तान के ख़िलाफ़ बयानबाजी की हो, या फिर पाकिस्तान फौज के अत्याचार इस तरह उजागर किए गए हों। इससे पहले बलूच नेता कह चुके हैं कि पाकिस्तान, बलूचिस्तान में लगातार नरसंहार कर रहा है और मानवाधिकारों का उल्लंघन कर रहा है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

पीएम मोदी
"कॉन्ग्रेस के एक नेता ने कहा कि यह फैसला देश को बर्बाद कर देगा। 3 महीने हो गए हैं, क्या देश बर्बाद हो गया? एक और कॉन्ग्रेस नेता ने कहा कि 370 हटाकर हमने कश्मीर को खो दिया है। क्या हमने कश्मीर खो दिया है?"

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

97,842फैंसलाइक करें
18,519फॉलोवर्सफॉलो करें
103,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: