Tuesday, August 3, 2021
Homeरिपोर्टपाक विदेश मंत्री ने माना, पाकिस्तान में मौजूद है मसूद अजहर

पाक विदेश मंत्री ने माना, पाकिस्तान में मौजूद है मसूद अजहर

मसूद अज़हर के बारे में पाकिस्तान बात करने से अभी तक बचता रहा है किंतु अंतरराष्ट्रीय दबाव बनने पर आखिरकार पाकिस्तान ने स्वीकार किया है कि मसूद अजहर उनके मुल्क में ही मौजूद है।

पुलवामा हमले के बाद भारत द्वारा की गई एयर स्ट्राइक के बाद पाक विदेश मंत्री ने स्वीकार किया है कि मसूद अजहर उनके पाकिस्तान में है। साथ ही यह भी कहा कि यदि भारत के पास मसूद के ख़िलाफ़ कोई पुख्ता सबूत है, तभी पाकिस्तान कोई कार्रवाई करेगा।

14 फरवरी को हुए भयावह हमले के उपरांत भारत सहित अन्य देशों ने पाकिस्तान से आंतकवादियों पर कड़ी कार्रवाई करने की माँग की थी लेकिन पाकिस्तान अभी तक कोई ठोस कार्रवाई करने में दिलचस्पी नहीं दिखा रहा है।

पुलवामा हमले के दोषी और जैश के सरगना मसूद अज़हर के बारे में पाकिस्तान बात करने से अभी तक बचता रहा है किंतु अंतरराष्ट्रीय दबाव बनने पर आखिरकार पाकिस्तान ने स्वीकार किया है कि मसूद अजहर उनके मुल्क में ही मौजूद है।

पाक विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने सीएनएन को दिए साक्षात्कार में कहा कि मसूद पाकिस्तान में ही है और जहाँ तक उन्हें (कुरैशी) को पता है वो (मसूद) इस समय काफ़ी बीमार है जिसके कारण वो घर से भी बाहर नहीं जाता है। कुरैशी से जब पूछा गया कि क्या पाकिस्तान मसूद अजहर को गिरफ्तार करेगा तो कुरैशी ने कहा कि यदि भारत के पास सबूत है तो साझा करे, ताकि पाकिस्तान के लोगों और ज्यूडिशरी को संतुष्ट किया जा सके। भारत द्वारा दिए गए सबूत यदि कोर्ट में मान्य होंगे तो आगे कार्रवाई की जाएगी।

खास बात यह है कि पुलवामा हमले के बाद जैश ने खुद वीडियो जारी करके पुख्ता सबूत दिए थे कि मसूद के इशारे पर ही आत्मघाती हमले को अंजाम दिया गया। इसके बावजूद भी पाकिस्तान द्वारा सबूत की मांग करना यह दर्शाता है कि वो मसूद को सज़ा नहीं देना चाहता।

बता दें कि आतंकवाद के खिलाफ इस लड़ाई में विश्व के अधिकतर देश भारत के साथ हैं। अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में मसूद को प्रतिबंधित करने का प्रस्ताव दिया है। कूटनीतिक तौर इसे पर भारत की बड़ी सफलता के रूप में देखा जा रहा है। यह चौथी बार है कि जैश के खिलाफ ऐसा प्रस्ताव रखा गया है। मसूद अज़हर पर पिछली तीन बार से चीन के कारण प्रतिबंध नहीं लग पा रहा है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सागर धनखड़ मर्डर केस में सुशील कुमार मुख्य आरोपित: दिल्ली पुलिस ने 20 लोगों के खिलाफ फाइल की 170 पेज की चार्जशीट

दिल्ली पुलिस ने छत्रसाल स्टेडियम में पहलवान सागर धनखड़ हत्याकांड में चार्जशीट दाखिल की है। सुशील कुमार को मुख्य आरोपित बनाया गया है।

यूपी में मुहर्रम सर्कुलर की भाषा पर घमासान: भड़के शिया मौलाना कल्बे जव्वाद ने बहिष्कार का जारी किया फरमान

मौलाना कल्बे जव्वाद ने आरोप लगाया है कि सर्कुलर में गौहत्या, यौन संबंधी कई घटनाओं का भी जिक्र किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,696FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe