Saturday, June 19, 2021
Home रिपोर्ट अंतरराष्ट्रीय नेपाल पर चीन की वैक्सीन दादागिरी: दाम समेत कुछ भी न बताने की 'शर्त',...

नेपाल पर चीन की वैक्सीन दादागिरी: दाम समेत कुछ भी न बताने की ‘शर्त’, पहले बॉर्डर पार कर हड़प चुका है कई गाँव

जिस बात ने नेपाली अधिकारियों को मुश्किल में डाला है वह है, चीनी फर्म की वह शर्त है जिसके तहत वैक्सीन की वाणिज्यिक खरीद के लिए नेपाल को एक नॉन-डिस्क्लोजर एग्रीमेंट पर हस्ताक्षर करना होगा।

चीन ने बुधावर (26 मई) को नेपाल को अनुदान सहायता के तहत 10 लाख खुराक उपलब्ध कराने की घोषणा की। लेकिन स्थानीय अधिकारियों का मानना है कि चीन से वैक्सीन खरीदना उतना आसान भी नहीं हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, चीन द्वारा सिनोफार्म नामक कंपनी के टीके नेपाल को दिए जाने की संभावना है। इससे पहले मार्च में भी चीन ने नेपाल को इसी कंपनी की वैक्सीन की 800,000 डोज मुहैया कराई थी।

अपनी वैक्सीन की खरीद के लिए चीन ने नेपाल के सामने रखी शर्त

लेकिन चीनी वैक्सीन को लेकर जिस बात ने नेपाली अधिकारियों को मुश्किल में डाला है वह है, चीनी फर्म की वह शर्त है जिसके तहत वैक्सीन की वाणिज्यिक खरीद के लिए नेपाल को एक नॉन-डिस्क्लोजर एग्रीमेंट पर हस्ताक्षर करना होगा।

नॉन-डिस्क्लोजर एग्रीमेंट एक कानूनी रूप से बाध्यकारी कॉन्ट्रैक्ट है जिसका अर्थ है, एक गोपनीय संबंध स्थापित करना, इसके तहत कीमत सहित कोई भी विवरण सार्वजनिक नहीं किए जा सकते हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के एक अधिकारी ने इस सप्ताह की शुरुआत में बताया कि प्रस्तावित नॉन-डिस्क्लोजर एग्रीमेंट में कीमत और विशिष्टताओं सहित एक दर्जन से अधिक मुद्दे शामिल हैं।

एक नॉन-डिस्क्लोजर एग्रीमेंट में विशिष्टताओं में ट्रेड सिक्रेट्स, बौद्धिक संपदा, प्रॉडक्ट फॉर्मूला, विकास के तहत प्रॉडक्ट्स के बारे में जानकारी, कंप्यूटर कोड, वित्तीय जानकारी, अन्य कंपनियों के साथ कॉन्ट्रैक्चुअल एग्रीमेंट और अन्य चीजों के साथ मालिकाना जानकारी शामिल हो सकती है। नेपाली अधिकारी ने कहा, ‘चीनी कंपनी एक नॉन-डिस्क्लोजर एग्रीमेंट पर हस्ताक्षर करने के बाद ही हमें मात्रा, कीमत और वितरण कार्यक्रम के बारे में सूचित करेगी।’

चीन ‘झूठ’ और ‘प्रोपेगेंडा’ के सहारे चलाता है वैक्सीन का धँधा!

अपनी वैक्सीनों को बेहतर बताकर उसे दूसरे देशों को बेचना और वैक्सीनों के बारे में सही जानकारी न देना ही चीन की रणनीति का हिस्सा रहा है। चीन नेपाल के साथ जिस नॉन डिस्क्लोजर एग्रीमेंट के जरिए वैक्सीन की कीमत समेत अन्य जानकारियाँ छिपा रहा है, वह भी उसके लिए नया नहीं है।

दरअसल, न तो चीनी कंपनी और न वहाँ की मीडिया, अपनी कोरोना वैक्सीन की विश्वसनीयता साबित करने का कोई प्रयास करती है और न ही उसके प्रभावकारी डेटा के बारे में कोई जानकारी देती है। बस दूसरों की बुराई करके तथ्यों से बरगलाने की कोशिश चलती रहती है।

इसी साल एक आई एक रिपोर्ट के मुताबिक, एक शीर्ष चीनी अधिकारी ने माना था कि देश में विकसित वर्तमान टीके कोरोनावायरस के लिए पर्याप्त सुरक्षा दर प्रदान नहीं करते हैं और प्रभावशीलता बढ़ाने के लिए चीन विभिन्न टीकों को मिलाने पर विचार कर रहा है।

चीनी कँपनियाँ सिनोवेक (Sinovac) और सिनोफार्म (Sinopharm) ज्यादातक कोरोना वैक्सीन का निर्माण कर रही हैं। सिनोवेट प्राइवेट जबकि सिनोफार्म सरकारी एक कंपनी है। चीन इन वैक्सीनों की सप्लाई दर्जनों देशों में कर रहा है, जिनमें मैक्सिको, तुर्की, इंडोनेशिया, हंगरी, ब्राजील, पाकिस्तान और तुर्की, नेपाल शामिल हैं।

लेकिन चीन द्वारा सप्लाई की गई ज्यादातर वैक्सीन की प्रभावशीलता में उसके दावे (78% प्रभावशीलता) के उलट अंतर पाया गया। ब्राजील ने सिनोवेक वैक्सीन के लास्ट स्टेज ट्रॉयल में पाया कि चीनी वैक्सीन का प्रभाव 50.38% है न कि 78%। यानी उनके हिसाब से वास्तविक प्रभावी क्षमता अब भी स्पष्ट नहीं है। इसी तरह तुर्की ने इसकी प्रभावी क्षमता को 91.25% रखा और इंडोनेशिया ने इसके प्रभावी दर को 65.3% रखा। इसके बाद ब्राजील ने अपने हालिया बयानों में कहा कि कुछ केसों में दूसरों की तुलना में इसकी प्रभावकारिता का स्तर अधिक है।

नेपाल के बड़े हिस्से पर कब्जा जमा चुका है चीन

एक हालिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, नेपाल की जमीन पर चीन द्वारा 9 इमारतें खड़ी किए जाने की बात सामने आ रही है। चीनी कब्जे की शिकायतों के बाद शिकायत मिलने के बाद ‘चीफ डिस्ट्रिक्ट ऑफिसर (CDO)’ चिरंजीवी गिरी के नेतृत्व में नेपाली अधिकारियों की टीम ने घटनास्थल का दौरा किया।

इन अधिकारियों के मुताबिक, चीन ने नेपाल की सीमा में 2 किलोमीटर भीतर तक घुसपैठ की है, पिलर संख्या-12 से भी आगे बढ़ कर भूमि कब्जाई है। वहीं पिलर संख्या-11 का तो कोई अता-पता ही नहीं है कि वो कहाँ गायब हो गया। कहा जा रहा है कि वहाँ अवैध चीनी निर्माण 2010 में ही शुरू हो गया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘नाइट चार्ज पर भेजो रं$* सा*$ को’: दरगाह परिसर में ‘बेपर्दा’ डांस करना महिलाओं को पड़ा महंगा, कट्टरपंथियों ने दी गाली

यूजर ने मामले में कट्टरपंथियों पर निशाना साधते हुए पूछा है कि ये लोग दरगाह में डांस भी बर्दाश्त नहीं कर सकते और चाहते हैं कि मंदिर में किसिंग सीन हो।

इन 6 तरीकों से उइगर मुस्लिमों का शोषण कर रहा है चीन, वहीं की एक महिला ने सुनाई खौफनाक दास्ताँ

रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन योजनाबद्ध तरीके से उइगर मुसलमानों की संख्‍या सीमित करने में जुटा है और इसका असर अगले 20 वर्षों में साफ देखने को मिलेगा।

शशि थरूर की अध्यक्षता वाली संसदीय स्थायी समिति के सामने पेश हुआ Twitter, खुद अपने ही जाल में फँसा: जानें क्या हुआ

संसदीय समिति ने ट्विटर के अधिकारियों से पूछताछ करते हुए साफ कहा कि देश का कानून सर्वोपरि है ना कि आपकी नीतियाँ।

हिन्दू देवी की मॉर्फ्ड तस्वीर शेयर कर आस्था से खिलवाड़, माफी माँगकर किनारे हुआ पाकिस्तानी ब्रांड: भड़के लोग

एक प्रमुख पाकिस्तानी महिला ब्रांड, जेनरेशन ने अपने कार्यालय में हिंदू देवता की एक विकृत छवि डालकर हिंदू धर्म का मजाक उड़ाया।

केजरीवाल सरकार को 30 जून तक राशन दुकानों पर ePoS मशीन लगाने का केंद्र ने दिया अल्टीमेटम, विफल रहने पर होगी कार्रवाई

ऐसा करने में विफल रहने पर क्या कार्रवाई की जाएगी यह नहीं बताया गया है। दिल्ली को एनएफएसए के तहत लाभार्थियों को बाँटने के लिए हर महीने 36,000 टन चावल और गेहूँ मिलता है।

सपा नेता उम्मेद पहलवान दिल्ली में गिरफ्तार, UP पुलिस ले जाएगी गाजियाबाद: अब्दुल की पिटाई के बाद डाला था भड़काऊ वीडियो

गिरफ्तारी दिल्ली के लोक नारायण अस्पताल के पास हुई है। गिरफ्तारी के बाद उसे गाजियाबाद लाया जाएगा और फिर आगे की पूछताछ होगी।

प्रचलित ख़बरें

70 साल का मौलाना, नाम: मुफ्ती अजीजुर रहमान; मदरसे के बच्चे से सेक्स: Video वायरल होने पर केस

पीड़ित छात्र का कहना है कि परीक्षा में पास करने के नाम पर तीन साल से हर जुम्मे को मुफ्ती उसके साथ सेक्स कर रहा था।

‘…इस्तमाल नहीं करो तो जंग लग जाता है’ – रात बिताने, साथ सोने से मना करने पर फिल्ममेकर ने नीना गुप्ता को कहा था

ऑटोबायोग्राफी में नीना गुप्ता ने उस घटना का जिक्र भी किया है, जब उन्हें होटल के कमरे में बुलाया और रात बिताने के लिए पूछा।

BJP विरोध पर ₹100 करोड़, सरकार बनी तो आप होंगे CM: कॉन्ग्रेस-AAP का ऑफर महंत परमहंस दास ने खोला

राम मंदिर में अड़ंगा डालने की कोशिशों के बीच तपस्वी छावनी के महंत परमहंस दास ने एक बड़ा खुलासा किया है।

‘रेप और हत्या करती है भारतीय सेना, भारत ने जबरन कब्जाया कश्मीर’: TISS की थीसिस में आतंकियों को बताया ‘स्वतंत्रता सेनानी’

राजा हरि सिंह को निरंकुश बताते हुए अनन्या कुंडू ने पाकिस्तान की मदद से जम्मू कश्मीर को भारत से अलग करने की कोशिश करने वालों को 'स्वतंत्रता सेनानी' बताया है। इस थीसिस की नजर में भारत की सेना 'Patriarchal' है।

वामपंथी नेता, अभिनेता, पुलिस… कुल 14: साउथ की हिरोइन ने खोल दिए यौन शोषण करने वालों के नाम

मलयालम फिल्मों की एक्ट्रेस रेवती संपत ने एक फेसबुक पोस्ट में 14 लोगों के नाम उजागर कर कहा है कि इन सबने उनका यौन शोषण किया है।

कम उम्र में शादी करो, एक से ज्यादा करो: अभिनेता फिरोज खान ने पैगंबर मोहम्मद का दिया उदाहरण

फिरोज खान ने कहा कि शादी सीखने का एक अनुभव है। इस्लामिक रूप से यह प्रोत्साहित भी करता है, इसलिए बहुविवाह आम प्रथा होनी चाहिए।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
104,951FollowersFollow
392,000SubscribersSubscribe