Thursday, July 18, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयजिस यूनिवर्सिटी में पढ़ता था, वहीं दनादन बरसाई गोलियाँ: प्राग में 14 की मौत,...

जिस यूनिवर्सिटी में पढ़ता था, वहीं दनादन बरसाई गोलियाँ: प्राग में 14 की मौत, हमलावर छात्र खुद भी मारा गया

पुलिस अधिकारियों ने इस घटना के आतंकवाद से जुड़े होने का खंडन किया है। चार्ल्स यूनिवर्सिटी में भाषा विज्ञान के एसोसिएट प्रोफेसर राडेक सिमिक ने बताया कि जब उन्होंने छात्रों के चिल्लाने की आवाज सुनी तब वे पहली मंजिल पर क्लास ले रहे थे।

चेक रिपब्लिक की राजधानी प्राग की चार्ल्स यूनिवर्सिटी में गुरुवार (21 दिसंबर 2023) को मास शूटिंग में 14 लोगों की मौत हो गई। 25 अन्य घायल हैं। इनमें 10 की हालत गंभीर है। मृतकों में फायरिंग करने वाला छात्र भी शामिल है।

सीएएन के अनुसार हमलावर छात्र यूनिवर्सिटी में फिलॉसफी की पढ़ाई कर रहा था। पुलिस ने उसकी भी लाश बरामद की है। कहा जा रहा है कि फायरिंग को अंजाम देने के बाद उसने खुद अपनी जान ले ली। हालाँकि आधिकारिक तौर पर इसकी पुष्टि नहीं हुई है। यूनिवर्सिटी में गोलीबारी की घटना के बाद हमलावर छात्र के पिता का शव प्राग से करीब 100 मील दूर स्थित उनके घर से बरामद किया गया है।

पुलिस अधिकारियों ने इस घटना के आतंकवाद से जुड़े होने का खंडन किया है। चार्ल्स यूनिवर्सिटी में भाषा विज्ञान के एसोसिएट प्रोफेसर राडेक सिमिक ने बताया कि जब उन्होंने छात्रों के चिल्लाने की आवाज सुनी तब वे पहली मंजिल पर क्लास ले रहे थे।

कुछ रिपोर्टों में बंदूकधारी छात्र की पहचान 24 साल के डेविड के तौर पर की गई है। कहा गया है कि हमलावर छात्र यूनिवर्सिटी की आर्ट फैकल्टी में वर्ल्ड हिस्ट्री की पढ़ाई कर रहा था। प्राग में मीडिया से बात करते हुए राष्ट्रीय पुलिस बल के मुखिया मार्टिन वोंद्रासेक ने बताया कि वह विदेशों में हुई मास शूटिंग की घटनाओं से प्रेरित था।

इन्होने बताया कि अधिकारी इस बात की जाँच कर रहे हैं कि टेलीग्राम पर डेविड कोजाक नाम से पोस्ट किए गए हिंसक, अपशब्दों से भरे रूसी भाषा के संदेश इसी छात्र से जुड़े हैं या नहीं। इस संदेश में रूस में हुई दो सामूहिक गोलीबारी से प्रेरणा लेने की बात कही गई है। इसमें एक इस महीने यूक्रेन की सीमा के पास ब्रांस्क के एक स्कूल में और दूसरी 2021 में रूसी क्षेत्र तातारस्तान की राजधानी कजान में हुई थी।

एक दिन पहले टेलीग्राम पर डेविड कोजाक के नाम से पोस्ट किए गए एक संदेश में कहा गया था, “जब मैं स्कूल में शूटिंग के लिए जाऊँगा तो यह मेरी डायरी होगी।” ये संदेश गुरुवार को एडिट किया गया था। शूटिंग के बाद गुरुवार देर रात इस टेलीग्राम अकाउंट को प्राइवेट कर दिया गया, जबकि डेविड इसके पहले ही मर चुका था।

मध्य यूरोपीय देश में सामूहिक गोलीबारी की घटनाएँ बमुश्किल ही होती है। यही वजह रही कि प्रधानमंत्री पेट्र फियाला को चेक गणराज्य के पूर्व में ओलोमौक शहर की यात्रा छोड़कर और गुरुवार शाम एक इमरजेंसी सरकारी बैठक के लिए प्राग वापस आना पड़ा। वहीं चेक गणराज्य के राष्ट्रपति पीटर पॉवेल ने सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म एक्स पर लिखा है कि वे इस घटना से सदमे में हैं। उन्होंने पीड़ितों के परिवारों और रिश्तेदारों के प्रति संवेदना व्यक्त की है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

3 आतंकियों को घर में रखा, खाना-पानी दिया, Wi-Fi से पाकिस्तान करवाई बात: शौकत अली हुआ गिरफ्तार, हमलों के बाद OGW नेटवर्क पर डोडा...

शौकत अली पर आरोप है कि उसने सेना के जवानों पर हमला करने वाले आतंकियों को कुछ दिन अपने घर में रखा था और वाई-फाई भी दिया था।

नई नहीं है दुकानों पर नाम लिखने की व्यवस्था, मुजफ्फरनगर पुलिस ने काँवड़िया रूट पर मजहबी भेदभाव के दावों को किया खारिज: जारी की...

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में पुलिस ने ताजी एडवायजरी जारी की है, जिसमें दुकानों और होटलों पर मालिकों के नाम लिखने को ऐच्छिक कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -