Saturday, October 1, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयअमेरिकी कानून में तालिबान आतंकी संगठन, फेसबुक ने किया बैन: हटाएगा तालिबान से जुड़े...

अमेरिकी कानून में तालिबान आतंकी संगठन, फेसबुक ने किया बैन: हटाएगा तालिबान से जुड़े सभी पेज और अकाउंट

फेसबुक ने तालिबान को आतंकी करार देते हुए उस पर बैन लगा दिया है। कंपनी ने कहा है कि तालिबान एक आतंकवादी संगठन है ऐसे में अब उसकी सभी सेवाओं को खत्म किया जाएगा।

अफगानिस्तान की सत्ता पर कब्जा हो चुके कट्टरपंथी इस्लामिक संगठन तालिबान पर सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक ने कार्रवाई की है। फेसबुक ने तालिबान को आतंकी करार देते हुए उस पर बैन लगा दिया है। कंपनी ने कहा है कि तालिबान एक आतंकवादी संगठन है ऐसे में अब उसकी सभी सेवाओं को खत्म किया जाएगा।

कंपनी के मुताबिक, तालिबान और उसके समर्थकों के अकाउंट और पेज को भी रोका जाएगा। फेसबुक के प्रवक्ता के मुताबिक कंपनी के पास पश्तो दरी भाषा की जानकारी रखने वाले लोगों की टीम है, जो कि वहाँ से होने वाले सभी पोस्ट पर कड़ी नजर बनाए हुए हैं। ये टीम फेसबुक को तालिबान से जुड़े पोस्ट को लेकर सूचित करती है। इसके अलावा ये लोग इस मामले में अमेरिका को भी अलर्ट करते हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक, इस बीच तालिबान ने मंगलवार (17 अगस्त 2021) को पूरे अफगानिस्तान में आम माफी की घोषणा करते हुए महिलाओं को अपनी सरकार में शामिल होने का न्योता दिया है। तालिबानी कब्जे के कारण समूचे अफगानिस्तान में अराजकता का माहौल है। ऐसे में सारा कामकाज ठप है। इस बीच तालिबानी अधिकारियों ने सरकारी कर्मचारियों से काम पर वापस लौटने की अपील की है।

रूसी दूतावास ने बताया कि अफगानिस्तान के राष्ट्रपति (अब पूर्व) अशरफ गनी अपनी कार और हैलीकॉप्टर में रुपए भर कर तजाकिस्तान ले गए हैं। हालाँकि, ये किसी को नहीं पता है कि अशरफ गनी फ़िलहाल कहाँ पर हैं।

गौरतलब है कि हाल ही में तालिबान ने अफगानिस्तान की राजधानी काबुल पर कब्जा कर लिया। इसके साथ ही उसने राष्ट्रपति भवन को भी अपने कब्जे में ले लिया। वहीं भारत में अफगानिस्तान के दूतावास के प्रेस सचिव अब्दुल आजाद ने कहा था कि उन्होंने भारत में अफगानिस्तान दूतावास के ट्विटर हैंडल पर से अपना कंट्रोल खो दिया है। अफगानिस्तानी दूतावास की ओर से कहा गया था कि उन सभी का सिर शर्म से झुक गया है।

120 भारतीय स्वदेश लाए गए

अफगानिस्तान में बिगड़े हालातों के बीच भारतीय वायुसेना का विमान दूतावास के राजनयिकों समेत 120 लोगों को लेकर गुजरात के जामनगर एयरपोर्ट पर पहुँच गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दुर्गा पूजा कार्यक्रम में गरबा करता दिखा मुनव्वर फारूकी, सेल्फी लेने के लिए होड़: वीडियो आया सामने, लोगों ने पूछा – हिन्दू धर्म का...

कॉमेडी के नाम पर हिन्दू देवी-देवताओं को गाली देकर शो करने वाला मुनव्वर फारुकी गरबा के कार्यक्रम में देखा गया, जिसके बाद लोग आक्रोशित हैं।

धर्म ही नहीं जमीन भी गँवा रहे हिंदू: कब्जे की भूमि पर चर्च-कब्रिस्तान से लेकर मिशनरी स्कूल तक, पहाड़ों का भी हो रहा धर्मांतरण

जमीनी स्थिति भयावह है। सरकारी से लेकर जनजातीय समाज की जमीनों पर ईसाई मिशनरियों का कब्जा है। अदालती आदेशों के बाद भी जमीन खाली नहीं हो रहे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
225,570FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe