Thursday, July 18, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय50 करोड़ लोगों तक पहुँचाई स्वच्छता सुविधाएँ: PM मोदी को सम्मानित करेंगे बिल गेट्स

50 करोड़ लोगों तक पहुँचाई स्वच्छता सुविधाएँ: PM मोदी को सम्मानित करेंगे बिल गेट्स

रिज़ अहमद और जमीला जमील सहित हॉलीवुड की कुछ शख्सियतों ने पीएम मोदी को अवॉर्ड दिए जाने के विरोध में गेट्स फाउंडेशन के वार्षिक समारोह में शामिल न होने का निर्णय लिया है। 24-25 सितम्बर को होने वाले इस समारोह में पीएम मोदी गेट्स फाउंडेशन से अवॉर्ड ग्रहण करेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लगातार मिल रहे अंतरराष्ट्रीय अवॉर्ड्स की श्रृंखला में अब एक और नया तमगा जुड़ गया है। कई वर्षों तक दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति रहे बिल गेट्स पीएम मोदी को सम्मानित करेंगे। प्रधानमंत्री को ‘बिल और मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन’ की तरफ़ से ‘Annual Goalkeepers Global Goals Award’ से सम्मानित किया जाएगा। सऊदी अरब से लेकर बहरीन तक, पीएम मोदी को कई देशों में सर्वोच्च अवॉर्ड्स से सम्मानित किया जा चुका है।

हालाँकि, कई लोगों ने पीएम मोदी को अवॉर्ड देने के लिए गेट्स फाउंडेशन की आलोचना की। लगभग दर्जन भर लोग ‘फ्री कश्मीर’ लिखे टीशर्ट पहन कर वाशिंगटन के सीएटल में स्थित गेट्स फाउंडेशन के दफ़्तर पहुँचे और पीएम मोदी को सम्मानित किए जाने के ख़िलाफ़ विरोध दर्ज कराया। इन लोगों ने गेट्स फाउंडेशन के इस निर्णय के ख़िलाफ़ उन्हें 1 लाख लोगों के हस्ताक्षर सौंपे जाने का दावा भी किया। गेट्स फाउंडेशन विश्व का सबसे बड़ा प्राइवेट एनजीओ है।

प्रधानमंत्री मोदी को यह अवॉर्ड स्वच्छता अभियान के लिए दिया जा रहा है। पीएम मोदी के प्रयासों से भारत के गाँव-गाँव तक शौचालय की सुविधा पहुँची है और स्वच्छता को केंद्र में रख कर चलाए गए कई अभियानों के कारण देश में खुले में शौच करने वालों की संख्या में भारी कमी आई है। गेट्स फाउंडेशन ने कहा कि वह विरोध करने वालों की भावनाओं का सम्मान करती है लेकिन पीएम मोदी ने 50 करोड़ लोगों तक स्वच्छता सम्बंधित सुविधाएँ पहुँचाई हैं और इसीलिए उन्हें अवॉर्ड दिया जाएगा।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, रिज़ अहमद और जमीला जमील सहित हॉलीवुड की कुछ शख्सियतों ने पीएम मोदी को अवॉर्ड दिए जाने के विरोध में गेट्स फाउंडेशन के वार्षिक समारोह में शामिल न होने का निर्णय लिया है। 24-25 सितम्बर को होने वाले इस समारोह में पीएम मोदी गेट्स फाउंडेशन से अवॉर्ड ग्रहण करेंगे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुहर्रम जुलूस में बजेगा ढोल, जो मुस्लिम नहीं देख सकते वे घर बैठें: मद्रास हाई कोर्ट ने ‘तौहीद जमात’ के कट्टरपंथ के आगे घुटने...

मद्रास हाई कोर्ट ने कहा कि मुहर्रम के जुलूस को अनुमति देते हुए कहा कि जैसे जगह के साथ भाषा बदलती है वैसे रीति-रिवाज में बदलाव होता है।

साथियों ने हाथ-पाँव पकड़ा, काज़िम अंसारी ने ताबतोड़ घोंपा चाकू… धराया VIP अध्यक्ष मुकेश सहनी के पिता का हत्यारा, रात के डेढ़ बजे घर...

घटना की रात काज़िम अंसारी ने 10-11 बजे के बीच रेकी भी की थी जो CCTV में कैद है। रात के करीब डेढ़ बजे ये लोग पीछे के दरवाजे से घर में घुसे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -