2 महिला जज के साथ 3 जजों ने ट्रेनिंग के दौरान किया गलत व्यवहार, HC ने तीनों को किया निलंबित

दोनों महिला जजों ने झारखंड के तीन जिला के जजों पर गलत व्यवहार करने का आरोप लगाया और हाइकोर्ट से इसकी शिकायत की। जिसके बाद हाईकोर्ट ने जाँच करवाई। सीसीटीवी फुटेज से...

झारखंड हाईकोर्ट ने बड़ी कार्रवाई करते हुए राँची फैमिली कोर्ट के जज समेत 3 जिला जजों को निलंबित कर दिया है। जानकारी के मुताबिक, हाईकोर्ट ने इन तीनों जजों के खिलाफ गोपनीय रिपोर्ट मिलने के बाद निलंबित करने की कार्रवाई की है। निलंबित होने वाले जजों में हजारीबाग के प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश सत्येंद्र सिंह, गुमला के जिला जज संदीप श्रीवास्तव और राँची फैमिली कोर्ट के जिला जज नलिन कुमार शामिल हैं।

राज्य में जिला जज रैंक के तीन अधिकारियों को एक साथ निलंबित किए जाने की यह पहली घटना है। बता दें कि, इन तीनों जजों के खिलाफ हाईकोर्ट में शिकायत की गई थी। हाईकोर्ट को तीनों जजों के खिलाफ अलग अलग रिपोर्ट सौंपी गई थी।

इन गोपनीय रिपोर्ट की शुरुआती जाँच के बाद इन पर लगे आरोपों को सही पाया गया और तीनों को निलंबित कर दिया गया। निलंबन के साथ ही तीनों को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया है। इसका जवाब मिलने के बाद हाईकोर्ट आगे की कार्यवाही करेगा।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

दरअसल, राँची के ज्यूडिशियल एकेडमी में 21 व 22 सितंबर को रीजनल ट्रेनिंग प्रोग्राम का आयोजन किया गया था। इस प्रोग्राम में सुप्रीम कोर्ट के जजों के साथ ही कई राज्यों के जजों ने हिस्सा लिया था। इस दौरान कार्यक्रम में पटना से भी दो महिला जज पहुँची थीं। 

इन दोनों महिला जजों ने झारखंड के तीन जिला के जजों पर गलत व्यवहार करने का आरोप लगाया और हाइकोर्ट से इसकी शिकायत की। जिसके बाद हाईकोर्ट ने जाँच करवाई। सीसीटीवी फुटेज चेक किए गए। जाँच के दौरान आरोप सही पाए और तीनों जजों को निलंबित कर दिया गया।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

नितिन गडकरी
गडकरी का यह बयान शिवसेना विधायक दल में बगावत की खबरों के बीच आया है। हालॉंकि शिवसेना का कहना है कि एनसीपी और कॉन्ग्रेस के साथ मिलकर सरकार चलाने के लिए उसने कॉमन मिनिमम प्रोग्राम का ड्राफ्ट तैयार कर लिया है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

113,096फैंसलाइक करें
22,561फॉलोवर्सफॉलो करें
119,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: