Sunday, October 17, 2021
Homeरिपोर्टमीडिया'आधी उम्र की लड़कियों से रोमांस..': अक्षय कुमार ने राम मंदिर का किया स्वागत...

‘आधी उम्र की लड़कियों से रोमांस..’: अक्षय कुमार ने राम मंदिर का किया स्वागत तो भड़की AltNews की पत्रकार

अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन के बाद, अभिनेता अक्षय कुमार ने इस ऐतिहासिक दिन की तुलना दिवाली से करते हुए लिखा, “इस साल की दिवाली जल्दी आ गई। ऐतिहासिक दिन वास्तव में ! जय सिया राम।” वहीं अक्षय की ट्वीट के बाद ऑल्ट न्यूज़ की एक पत्रकार पूजा चौधरी इतनी चिढ़ गई कि अपनी नफरत को बाहर निकालते हुए उन्होंने अक्षय की फिल्मों का बहिष्कार करने का आह्वान तक कर डाला।

स्वघोषित फैक्ट चेकिंग वेबसाइट ऑल्ट न्यूज़ (AltNews) जिसका स्टाकिंग, डॉकिंग, और सांप्रदायिक अपराधों को सुविधानुसार तोड़-मरोड़ कर पेश करने का इतिहास रहा है। यह वही वेबसाइट है जिसने जामिया हिंसा मामले में पत्थर को पर्स बता कर लोगों को गुमराह करने की कोशिश की थी। जो अब राम मंदिर भूमिपूजन कार्यक्रम के बाद हिंदू घृणा के निम्नतम स्तर पर उतर आया है।

ऑल्ट न्यूज़ उन सभी कलाकारों को निशाना बना रहा है जिन्होंने भगवान राम के भव्य मंदिर शिलान्यास पर अपनी ख़ुशी जाहिर की। इसी कड़ी में अक्षय कुमार, कार्तिक आर्यन, वरुण धवन आदि को निशाना बनाया गया है।

गौरतलब है कि ऑल्ट न्यूज़ के संपादकों में से एक, पूजा चौधरी अब बॉलीवुड के उन कलाकारों के चारित्रिक हरण और मानसिक शोषण पर उतर आई है, जिन्होंने सार्वजनिक रूप से अपने धार्मिक विचारों को अभिव्यक्त किया।

अक्षय कुमार पर ऑल्ट न्यूज़ की पत्रकार ने साधा निशाना

अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन के बाद, अभिनेता अक्षय कुमार ने इस ऐतिहासिक दिन की तुलना दिवाली से करते हुए लिखा, “इस साल की दिवाली जल्दी आ गई। ऐतिहासिक दिन वास्तव में ! जय सिया राम।” वहीं अक्षय की ट्वीट के बाद ऑल्ट न्यूज़ की एक पत्रकार पूजा चौधरी इतनी चिढ़ गई कि अपनी नफरत को बाहर निकालते हुए उन्होंने अक्षय की फिल्मों का बहिष्कार करने का आह्वान तक कर डाला।

इसके साथ यह भी कहा कि राममंदिर भूमिपूजन का जश्न मनाना आधी उम्र की लड़की से रोमांस करने से भी ज्यादा घटिया है।

जहर का डोज कम न हो जाए तो उसे बढ़ाने के लिए उन्होंने ट्वीट किया, “अगली बार एक और फ़िल्म रिलीज़ होगी जहाँ अक्षय कुमार अपनी उम्र से आधी उम्र की महिला से रोमांस करेंगे, याद रखें कि उन्हें ना देखने के लिए यही सबसे बदतर कारण हैं।”

पूजा ने सिर्फ अक्षय कुमार के चरित्र पर ही ऊँगली नहीं उठाई। उन्होंने ‘प्यार का पंचनामा’ फेम अभिनेता कार्तिक आर्यन पर भी निशाना साधा। जिन्होंने भगवान राम के भव्य मंदिर के लिए लंबे समय से चली आ रही लड़ाई में ‘धैर्य’ के महत्व को समझाया था। कार्तिक ने तरबूज खाते हुए एक तस्वीर साझा की और लिखा, “आज नाश्ते में सब्र का फल खाया…आप लोगों ने क्या खाया?

जघन्य अपराधों में लिप्त मुस्लिमों को बचाने के लिए फर्जी फैक्ट चेकर के रूप में प्रसिद्ध ऑल्ट न्यूज़ की यह हिन्दू घृणा से सनी पत्रकार ने कार्तिक के भी ट्वीट पर आपा खो बैठीं। उन्होंने दावा किया कि सेक्सिस्ट एक्टर (कार्तिक आर्यन) के पास तरबूज से भी कम टैलेंट है। उन्होंने ट्वीट किया, “थाली में रखे तरबूज में इस आदमी से अधिक टैलेंट हैं, जिसका पूरा करियर सेक्सिज्म के गुल्लक से बनाया गया है।”

हिन्दुफोबिया से ग्रसित पूजा ने इनके अलावा अभिनेता वरुण धवन को भी निशाना बनाया। अभिनेता ने भगवान राम और हनुमान की एक-दूसरे को गले लगाते हुए एक तस्वीर साझा की थी। ऑल्ट न्यूज़ की इस तथाकथित पत्रकार ने ट्वीट किया, “इस दोस्त के बारे में कुछ नहीं कहना है। आखिरी बार मुझे याद नहीं कि मैंने उनकी कोई फिल्म कब देखी थी।”

हालाँकि, वरुण धवन ने उनसे अपनी फिल्मों को देखने के लिए नहीं कहा था। फिर भी उन्होंने अपनी बात स्पष्ट कर दी कि जो कोई भी राम मंदिर के निर्माण की इच्छा रखता है या उसका जश्न मनाता है और उसे अपनी हिंदू विरासत पर गर्व है, उसकी निंदा करनी चाहिए। हिंदूधर्म के प्रति पूजा के नफ़रत भरे ट्वीट से यह भी पता चलता है कोई खुद को सेक्युलर तभी बना सकता है, जब वह हिंदुओं के प्रति घटिया मानसिकता को पोषित और प्रोत्साहित करने वाले इकोसिस्टम का हिस्सा हो।

ऑल्ट न्यूज़ एडिटर द्वारा नाबालिक लड़की का इस्तेमाल कर उसके दादा को निशाना बनाना

गौरतलब है कि ऑल्ट न्यूज़ के सह-संस्थापक मोहम्मद जुबैर ने सोशल मीडिया यूजर के साथ अपने ट्विटर लड़ाई में एक नाबालिग लड़की को निशाना बनाया। मोहम्मद जुबैर शुक्रवार को जगदीश सिंह नाम के एक ट्विटर यूजर को सार्वजनिक रूप से शर्मिंदा कर रहा था, जब उसने एक नाबालिग बच्ची की तस्वीर को ही सार्वजानिक कर दिया। नाबालिक लड़की जगदीश सिंह की पोती है।

दरअसल, आईपीएस अधिकारी दीपांशु काबरा ने ट्विटर पर एक वीडियो पोस्ट किया था, जिसमें सड़क पर एक बड़े गड्ढे पर वाहन उछल रहे थे। इस पर मोहम्मद जुबैर ने उन्हें जवाब में अपना एक कथित ‘फैक्ट चेक’ लेख के बारे में बताया।

जुबैर ने ‘ऑल्टन्यूज़’ द्वारा किया हुआ एक ‘फैक्ट चेक’ पोस्ट किया, जिसमें कहा गया था कि यह चीन का एक पुराना वीडियो है। हालाँकि, दीपांशु काबरा ने यह दावा कहीं भी नहीं किया था कि यह वीडियो हाल ही का है, या यह किसी विशेष शहर का है।

आईपीएस काबरा ने इस वीडियो में सिर्फ शहर का अनुमान लगाने के लिए कहा था। लेकिन आदत से मजबूर ज़ुबैर ने मान लिया कि वह इसे भारत का होने का दावा कर रहे हैं, और लगे हाथ इस पर ‘फैक्ट चेक’ तैयार करते हुए कहा कि यह वीडियो चीन का है।

इस पर एक ट्विटर यूजर जगदीश सिंह मोहम्मद जुबैर की इस फर्जी के फैक्ट चेकर से सहमत नहीं थे और उन्होंने सोशल मीडिया पर ऑल्टन्यूज़ के लिए प्रचलित जुमले का इस्तेमाल करते हुए जुबैर के ट्वीट के जवाब में ‘ल*डे का फैक्ट चेकर’ कह दिया।

यह जुमला ऑल्टन्यूज़ के कथित ‘फैक्ट चेक्स’ के फर्जीवाड़ों के लिए इन्टरनेट पर युवाओं के बीच काफी लोकप्रिय है। ट्विटर यूजर जगदीश सिंह के इस कमेंट पर मोहम्मद जुबैर ने तुरंत प्रतिक्रिया दी और उन्हें सीधे तौर पर जवाब देने के बजाए, उनकी ट्विटर डीपी (डिस्प्ले इमेज) निकाल ली, जिसमें जगदीश सिंह कथित तौर पर अपनी पोती के साथ नजर आ रहे थे।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘और गिरफ़्तारी की बात मत करो, वरना सरेंडर करने वाले साथियों को भी छुड़ा लेंगे’: निहंगों की पुलिस को धमकी, दलित लखबीर को बताया...

दलित लखबीर की हत्या पर निहंग बाबा राजा राम सिंह ने कहा कि हमारे साथियों को मजबूरन सज़ा देनी पड़ी, क्योंकि किसी ने कोई कार्रवाई नहीं की।

CPI(M) सरकार ने महादेव मंदिर पर जमाया कब्ज़ा, ताला तोड़ घुसी पुलिस: केरल में हिन्दुओं का प्रदर्शन, कइयों ने की आत्मदाह की कोशिश

श्रद्धालुओं के भारी विरोध के बावजूद केरल की CPI(M) सरकार ने कन्नूर में स्थित मत्तनूर महादेव मंदिर का नियंत्रण अपने हाथ में ले लिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,325FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe