Saturday, July 31, 2021
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षा3 अन्य संदिग्ध आतंकियों शकील, मो मुस्तकीम और मुईद को यूपी ATS ने किया...

3 अन्य संदिग्ध आतंकियों शकील, मो मुस्तकीम और मुईद को यूपी ATS ने किया गिरफ्तार: पूछताछ में कबूल किया गुनाह

शकील को यूपी में अलकायदा का कमांडर कहा गया है, जिसकी गिरफ्तारी के बाद उसके परिजनों ने खूब हल्ला मचाया। मामले में रिपोर्ट करने पहुँचे मीडियाकर्मियों से भी बदसलूकी रिपोर्ट की गई।

उत्तर प्रदेश के आतंक निरोधी दस्ते (एटीएस) ने बुधवार (जुलाई 14, 2021) को अलकायदा से जुड़े तीन और संदिग्ध आतंकियों को गिरफ्तार कर लिया है। तीनों लखनऊ निवासी हैं। इनकी पहचान शकील, मो मुस्तकीम और मुईद के तौर पर हुई है। इससे पहले पुलिस ने अलकायदा से जुड़े मिनहाज और मसीरुद्दीन को अपनी हिरासत में लिया था। इनसे पूछताछ के बाद से पुलिस को शकील की तलाश थी।

प्रेस रिलीज

हालिया कार्रवाई में एटीएस टीम ने बुधवार सुबह वजीरगंज के जनता नगर निवासी शकील को बुद्धा पार्क के पास पकड़ा। बीते तीन दिनों से शकील की तलाश की जा रही थी। बुधवार को जब उसके होने की जानकारी वजीरगंज में मिली तो टीम ने मौके पर पहुँच कर बुद्धा पार्क के पास उसको दबोच लिया। इसके बाद उसे सीधे मुख्यालय लेकर गए। उसके अलावा मुस्तकीम और मुईद को भी पुलिस ने पकड़ा। एक रिपोर्ट में किसी आफाक नाम के शख्स को हिरासत में लेने की बात है। कहा जा रहा है चारों के पास से असलहा, बारूद बरामद हुए हैं और सबने अपनी संलिप्ता कबूली है। पुलिस का कहना है कि अब आगे उन्हें कोर्ट में पेश करके विधिक कार्यवाही की जाएगी।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट में शकील को यूपी में अलकायदा का कमांडर कहा गया है, जिसकी गिरफ्तारी के बाद उसके परिजनों ने खूब हल्ला मचाया। मामले में रिपोर्ट करने पहुँचे मीडियाकर्मियों से भी बदसलूकी रिपोर्ट की गई। शकील के भाई ने बताया कि भाई शकील ई-रिक्शा चलाकर परिवार का पेट पालता है। अगर आतंकी होते तो पैसा होता तो अंबानी और अडानी जैसी लैविश लाइफ जी रहा होता।

शकील की छोटी बहन ने अपने भाई के आतंकी होने का सबूत माँगा। उसका कहना है कि अगर एक भी ऐसी संदिग्ध चीज मिली तो वह मान लेंगे कि शकील आतंकी है। शकील की बहन ने ऐसी कार्रवाई के पीछे मुसलमान होने को कारण बताया। वहीं मोहल्ले के निवासी मुन्ना कुरैशी ने दावा किया कि उनके मोहल्ले में कही भी कोई आपराधिक रिकॉर्ड वाला नहीं है। अगर मिल जाए तो पुलिस उन्हें फाँसी पर चढ़ा दे। शकील जिसे पुलिस ने पकड़ा है वह बस ई रिक्शा चलाता था। लेकिन कोरोना में सब चौपट हो गया। अब सरकार की बेवजह परेशान कर रही हैं।

एटीएस की कार्रवाई में 11 जुलाई को पकड़े गए थे अलकायदा के दो आतंकी

उल्लेखनीय है कि जहाँ शकील के घरवाले उसके आतंकी होने की बात नकार रहे हैं। वहीं उत्तर प्रदेश एटीएस का कहना है कि ये सब अंसार गजवत उल हिंद से जुड़े हुए हैं। इनका नाम 11 जुलाई को गिरफ्तार हुए दो आतंकियों से पूछताछ के बाद सामने आया जो मात्र 3 हजार में प्रेशर कुकर बम तैयार करने में लगे थे और 15 अगस्त से पहले किसी आतंकी गतिविधि को अंजाम देने वाले थे।

बता दें कि मिनहाज और मसीरुद्दीन के पकड़े जाने के बाद एटीएस इनके अन्य कनेक्शन खोजने में लगी है। इनसे की गई पूछताछ में एटीएस को पता चला था वह कि बारूद के साथ माचिस की तीली में लगे ज्वलनशील मसाला का विस्फोटक में इस्तेमाल करने जा रहे थे। आतंकी मिनहाज के घर से माचिस की तीली से निकाला हुआ भारी मात्रा में मसाला और बारूद भी बरामद हुआ था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पाकिस्तानी मंत्री फवाद चौधरी चीन को भूले, Covid के लिए भारत को ठहराया जिम्मेदार, कहा- विश्व ‘इंडियन कोरोना’ से परेशान

पाकिस्तान के मंत्री फवाद चौधरी ने कहा कि दुनिया कोरोना महामारी पर जीत हासिल करने की कगार पर थी, लेकिन भारत ने दुनिया को संकट में डाल दिया।

ये नंगे, इनके हाथ अपराध में सने, फिर भी शर्म इन्हें आती नहीं… क्योंकि ये है बॉलीवुड

राज कुंद्रा या गहना वशिष्ठ तो बस नाम हैं। यहाँ किसिम किसिम के अपराध हैं। हिंदूफोबिया है। खुद के गुनाहों पर अजीब चुप्पी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,277FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe