Sunday, June 13, 2021
Home देश-समाज 'प्रीति' रेड्डी केस: बार काउंसिल ने कहा- विशेष अदालत का गठन करे सरकार, आरोपितों...

‘प्रीति’ रेड्डी केस: बार काउंसिल ने कहा- विशेष अदालत का गठन करे सरकार, आरोपितों की पैरवी न करें वकील

"रंगा रेड्डी जिला अदालत की बार काउंसिल की कार्यकारी समिति टोल प्लाज़ा पर की गई नृशंस हत्या की निंदा करती है। कमेटी सदस्यों से गुज़ारिश करती है कि वे इस मामले के आरोपितों की पैरवी न करें।"

तेलंगाना में पशु चिकित्सक डॉ. प्रीति (बदला हुआ नाम) रेड्डी के सामूहिक बलात्कार और हत्या के आरोपितों को अदालत में अपनी तरफ़ से खड़ा होने के लिए वकील तलाशने में भी मुश्किलें खड़ी हो सकती है। हैदराबाद के जिस जिले में यह घटना हुई है, वहाँ की बार काउंसिल ने नोटिस जारी कर यह अपील की है कि उसका कोई भी सदस्य आरोपितों की पैरवी अदालत में नहीं करे।

आज (शनिवार, 30 नवंबर, 2019 को) जारी नोटिस में कहा गया, “रंगा रेड्डी जिला अदालत की बार काउंसिल की कार्यकारी समिति (एग्जीक्यूटिव कमेटी) 27 नवंबर, 2019 को तोंडापल्ली टोल प्लाज़ा पर की गई नृशंस हत्या की निंदा करती है। कमेटी अपने सदस्यों से गुज़ारिश करती है कि वे इस मामले के आरोपितों की पैरवी में हाज़िर न हों।” नोटिस में आगे यह भी कहा गया है कि एग्जीक्यूटिव कमेटी त्वरित न्याय के लिए केस की तेजी से सुनवाई हेतु एक अलग विशेष अदालत का गठन करने की तेलंगाना राज्य सरकार से माँग करती है। नोटिस में समिति ने यह भी कहा है कि बार काउंसिल परसों (सोमवार, 2 दिसंबर, 2019 को) इस ‘अमानवीय हमले’ के खिलाफ विरोध प्रदर्शन का आयोजन करेगी। इसका आयोजन अदालत के मुख्य भवन के प्रवेश पर 2 दिसंबर, 2019 को दोपहर 1.30 बजे किया जाएगा।

रंगा रेड्डी जिला बार काउंसिल इकलौती अदालती संस्था नहीं है, जिसने इस हत्याकांड से क्षुब्ध होकर इसके आरोपितों की सहायता से इनकार किया है। इसके पहले महबूबनगर बार काउंसिल ने भी आरोपितों को न्यायिक सेवाएँ देने से इनकार कर दिया था। उस समय राज्य सरकार ने महबूबनगर के फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट में मामले की सुनवाई कराने का निर्णय लिया था। यही नहीं, स्थानीय अदालत की शादनगर बार एसोसिएशन ने भी चारों आरोपितों को किसी तरह की कानूनी सहायता देने से इनकार कर दिया था।

गौरतलब है कि हैदराबाद के बाहरी इलाके शमसाबाद में 26 वर्षीय महिला डॉक्टर की जली हुई लाश मिलने से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई थी। जानकारी के अनुसार, पशु चिकित्सक डॉ. प्रीति (बदला हुआ नाम) रेड्डी कोल्लुरु स्थित पशु चिकित्सालय में काम करती थीं। बुधवार (नवंबर 27, 2019) को उन्होंने अपनी स्कूटी को शादनगर के टोल प्लाजा शमसाबाद के पास पार्क किया था। लेकिन रात में जब वह वहाँ वापस लौटीं तो उनकी स्कूटी पंक्चर थी। उन्होंने इसकी सूचना अपनी बहन को दी और कहा कि उन्हें डर लग रहा है, क्योंकि उनके आसपास सिर्फ लोडिंग ट्रक और अनजान लोग हैं।

प्रियंका को डरा हुआ देखकर उनकी बहन ने उन्हें स्कूटी पार्क करके कैब से आने की सलाह दी। लेकिन प्रियंका ने उन्हें बताया कि कुछ लोगों ने उन्हें मदद की पेशकश की है, इसलिए वो थोड़ी देर में कॉल बैक करेंगी।

इस वाकये के बाद प्रियंका का कोई फोन नहीं आया, जब परिजनों ने उनसे कुछ मिनट बाद संपर्क करने का प्रयास किया तो उनका फोन स्विच ऑफ हो गया। परेशान परिवार वाले खुद प्रियंका को ढूँढने के लिए टोल प्लाजा की ओर निकले। जब वह नहीं मिलीं तो उन्होंने थक हारकर पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई।

शिकायत मिलने के बाद गुरुवार (नवंबर 28, 2019) की सुबह पुलिस को हैदराबाद-बेंगलुरु हाईवे के पास एक महिला का अधजला शव दिखाई पड़ने की जानकारी मिली। जब घटनास्थल पर पहुँची पुलिस ने रिपोर्ट के आधार पर प्रियंका के घरवालों को संपर्क किया तो उन्होंने उसके कपड़े और गले का लॉकेट देखकर पुष्टि कर दी कि वो जली हुई लाश प्रियंका की ही है। बाद में पोस्टमॉर्टम में उनसे बलात्कार की भी पुष्टि हो गई

एक और प्रियंका! आधी जली स्थिति में उसी इलाके में मिली एक और लाश, जाँच जारी

मो. पाशा ने पहले से ही प्लानिंग करके किया डॉ. प्रियंका का रेप और मर्डर, जलाई लाश: पुलिस का दावा

‘डॉ प्रियंका रेड्डी पढ़ी-लिखी थी, उसने अपनी बहन को क्यों किया फोन, पुलिस को क्यों नहीं’ – मंत्री महमूद अली

अरबाज ने प्रेमजाल में फॅंसाया, फिर 3 दोस्तों के साथ किया गैंगरेप: कैमूर में लोगों ने जला डाला आरोपित का घर

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती के नाम पर हो फ्लाईओवर… वहाँ 70% आबादी मुस्लिमों की: शिवसेना सांसद का CM ठाकरे को लेटर

"घाटकोपर-मानखुर्द लिंक रोड पर बन रहे नए फ्लाइओवर का नाम 'गरीब नवाज' ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती के नाम पर रखा जाए।"

भोपाल के पास भोजपुर का शिव मंदिर जो आज भी है अधूरा, कारण कोई नहीं जानता, विशालकाय शिवलिंग इसकी पहचान

मंदिर के अपूर्ण होने के पीछे कोई पुख्ता कारण नहीं है लेकिन ऐसी मान्यता है कि संभवतः मंदिर के निर्माण को लेकर कोई संकल्प रहा होगा और...

‘शर्म आनी चाहिए 370 पर इतना बड़ा झूठ बोलते हुए…’: दिग्विजय सिंह को कश्मीरी एक्टिविस्ट डॉ अग्निशेखर ने लताड़ा

डॉ अग्रनिशेखर ने दिग्विजय सिंह की निंदा की। साथ ही अपनी व तमाम कश्मीरी पंडितों की ओर कॉन्ग्रेसी नेता के बयान का खंडन कर इसे बिलकुल गलत बताया।

‘राजस्थान में गहलोत सरकार करा रही पायलट खेमे के विधायकों की फोन टैपिंग और जासूसी’: MLA वेद प्रकाश सोलंकी

सोलंकी ने कहा कि इस मामले के सामने आने के बाद विधायकों में दहशत है। उन्होंने कहा कि स्वस्थ लोकतंत्र के लिए ये सब ठीक नहीं है।

‘आग लगाओ आग’: मेवात में जुनैद की मौत के बाद भीड़ ने किया पुलिस पर हमला; लाठी-डंडे-पत्थर फेंकने के बाद लगाई आग

“मेवात में आज जुनैद के मौत के बाद पुलिस वालों को शांतिदूतों ने मारा पीटा थाने को आग के हवाले कर दिया पुलिस की गाड़ियों को तोड़ा फोड़ा गया।”

‘किसान’ आंदोलन में गैंगरेप, बात दबाने के लिए शव यात्रा: 2 महिलाओं ने भी नहीं की पीड़िता की मदद

गैंगरेप की बात को लेकर 'किसान' आंदोलन में महिलाओं ने भी पीड़िता को धोखा दिया। उन्होंने पीड़िता की आपबीती का वीडियो बनाकर...

प्रचलित ख़बरें

सस्पेंड हुआ था सुशांत सिंह का ट्रोल अकाउंट, लिबरलों ने फिर से करवाया रिस्टोर: दूसरों के अकाउंट करवाते थे सस्पेंड

जो दूसरों के लिए गड्ढा खोदता है, वो उस गड्ढे में खुद गिरता है। सुशांत सिंह का ट्रोल अकाउंट @TeamSaath के साथ यही हुआ।

‘भाईजान’ के साथ निकाह से इनकार, बॉयफ्रेंड संग रहना चाहती थी समन अब्बास, अब खेत में दफन? – चचेरा भाई गिरफ्तार

तथाकथित ऑनर किलिंग में समन अब्बास के परिवार वालों ने उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी और उसके शव को खेत में दफन कर दिया?

आईएस में शामिल केरल की 4 महिलाओं को वापस नहीं लाएगी मोदी सरकार, अफगानिस्तान की जेलों में है कैद

केरल की ये महिलाएँ 2016-18 में अफगानिस्तान के नंगरहार पहुँची थीं। इस दौरान उनके पति अफगानिस्तान में अलग-अलग हमलों में मारे गए थे।

सुशांत ड्रग एडिक्ट था, सुसाइड से मोदी सरकार ने बॉलीवुड को ठिकाने लगाया: आतिश तासीर की नई स्क्रिप्ट, ‘खान’ के घटते स्टारडम पर भी...

बॉलीवुड के तीनों खान-सलमान, शाहरुख और आमिर के पतन के पीछे कौन? मोदी सरकार। लेख लिखकर बताया गया है।

‘नुसरत जहां कलमा पढ़े और ईमान में दाखिल हो, नाजायज संबंध थी उसकी शादी’ – मौलाना कारी मुस्तफा

नुसरत ने जिससे शादी की, उसके धर्म के मुताबिक करनी थी या फिर उसे इस्लाम में दाखिल कराके विवाह करना चाहिए था। मौलाना कारी ने...

‘मेरे जीजा से एक्स-वाइफ कविता का अफेयर था, माँ ने कई बार रंगे हाथ पकड़ा’: शिल्पा के पति राज कुंद्रा ने किए कई खुलासे

राज ने कहा, "मेरी माँ ने कविता और जीजा वंश को आपत्तिजनक स्थिति में कई बार रंगे हाथों पकड़ा था।"
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
103,446FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe