Sunday, October 17, 2021
Homeसोशल ट्रेंडइस्लामी देश में टॉपलेस फोटो खिंचवाने पर प्लेबॉय मॉडल को धमकी, लोगों ने पूछा-...

इस्लामी देश में टॉपलेस फोटो खिंचवाने पर प्लेबॉय मॉडल को धमकी, लोगों ने पूछा- क्यों नहीं किया अरेस्ट

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर यूज़र्स आलोचनाओं के साथ उन्हें धमकी भरे मैसेज भेज रहे है। हालाँकि, इस मामले को लेकर मॉडल का कहना है कि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है। शूट के दौरान उन्होंने हाथों से अपने ब्रेस्ट को ढक लिया था।

मुस्लिम देश दुबई में एक प्लेबॉय मॉडल को टॉपलेस तस्‍वीर खिंचवाना भारी पड़ गया। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर यूज़र्स आलोचनाओं के साथ उन्हें धमकी भरे मैसेज भेज रहे है। हालाँकि, इस मामले को लेकर मॉडल का कहना है कि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है। शूट के दौरान उन्होंने हाथों से अपने ब्रेस्ट को ढक लिया था।

दरअसल, ब्राजील की चर्चित प्‍लेबॉय मॉडल ल्युआना सैंडियन (27) ने दुबई के रेगिस्‍तान के अंदर टॉपलेस फोटोशूट करवाकर, तस्वीरों को इंस्टाग्राम पर पोस्ट कर दिया। जिसको देखते ही उनके फॉलोवर्स भड़क गए। सोशल मीडिया पर उनके फॉलोवर्स एक मुस्लिम देश में इस तरह की तस्‍वीर खिंचवाने को अश्‍लील बता रहे हैं।

बता दें, इस्‍लामिक नियमों का पालन करने वाले दुबई में बिना कपड़ों के रहना या टॉपलेस होकर सार्वजानिक जगहों पर सूरज की धूप लेना अश्‍लीलता माना जाता है। यहीं नहीं इन कानूनों को नहीं मानने वाले लोगों को गिरफ्तार भी किया जा सकता है।

हालाँकि, लोगों की आलोचनाओं से घिरी ल्युआना सैंडियन ने उनके ऊपर लगे सारे आरोपों को खंडन किया है। डेली स्‍टार की रिपोर्ट के मुताबिक ल्युआना का कहना है कि उनका उद्देश्‍य किसी को आहत करना नहीं था। उन्‍होंने अपने ब्रेस्‍ट को हाथों से कवर कर रखा था ताकि किसी कानून का उल्‍लंघन न हो। उन्होंने बताया कि इंस्टाग्राम पर फ़ोटो पोस्ट करने के बाद से ही उन्हें ऑनलाइन धमकियाँ दी जा रही हैं।

ब्राजीलियाई मॉडल ने अपनी तस्वीरों को लेकर कहा, “ये तस्‍वीरें मेरे जीवन की सबसे अच्‍छी तस्‍वीरें हैं और मैं किसी को भी शर्मिंदा नहीं करना चाहती थी। मैं अपने ब्रेस्‍ट को लेकर सतर्क थी और उसे हाथों से कवर कर रखा था। मैंने कुछ गलत नहीं किया। मैं यह जानती थी कि सऊदी अरब में न्‍यूड होने पर बैन है लेकिन इसके बाद भी मुझसे घृणा करने वाले लोग मुझे धमकी दे रहे हैं।”

वहीं जब प्लेबॉय मॉडल की टॉपलेस तस्वीरों को लेकर सोशल मीडिया पर एक यूजर ने उनसे पूछा कि, क्‍या टॉपलेस होकर तस्‍वीर खिंचवाने पर उन्‍हें अरेस्‍ट नहीं किया गया तो इस पर यूजर को ट्रोल करते हुए उन्होंने कहा कि दुबई में मेरे चार्म के चलते मैं जो चाहती थी उन्होंने मुझे करने दिया।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,107FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe