Tuesday, January 26, 2021
Home सोशल ट्रेंड कॉन्ग्रेस नेता पंकज पुनिया ने महिलाओं का किया अपमान: PM मोदी के ₹1 में...

कॉन्ग्रेस नेता पंकज पुनिया ने महिलाओं का किया अपमान: PM मोदी के ₹1 में सैनिटरी नैपकिन योजना का उड़ाया मजाक

ऐसा लगता है कि पीएम मोदी के प्रति इस कृतज्ञता और प्रशंसा से हरियाणा कॉन्ग्रेस के नेता पंकज पुनिया काफी आहत हो गए और तंज कसते हुए ट्वीट किया, “क्यों संतरों, सो गए क्या? बस यूँ ही याद दिला रहा था, वो एक रुपए वाला सेनेटरी पैड पहन लेना कभी।”

हाइजीन को बढ़ावा देने और महिलाओं को और ज्‍यादा सशक्‍त बनाने को लेकर मोदी सरकार ने बड़ा कदम उठाते हुए प्रधानमंत्री भारतीय जनधन योजना (पीएमबीजेपी) के तहत जन औषधि केंद्रों में बिकने वाली ‘सुविधा’ सैनिटरी नैपकिन को काफी सस्ते दामों में उपलब्ध करवा रही है। मोदी सरकार ने जनऔ‍षधि केंद्रों में सैनिटरी नैपकिन सिर्फ 1 रुपए में मुहैया करवाया।

पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने स्वतंत्रता दिवस के भाषण के दौरान, अपनी सरकार द्वारा इस पहल का उल्लेख किया था। मासिक धर्म स्वच्छता को सुलभ बनाने और ग्रामीण क्षेत्रों में लड़कियों और महिलाओं को उपलब्ध कराने के लिए केंद्र सरकार द्वारा उठाए गए इस कदम को सोशल मीडिया यूजर्स ने काफी सराहा। उन्होंने मासिक धर्म को लेकर पूर्व निर्धारित धारणाओं को तोड़ने में एक कदम आगे बढ़ाने के लिए पीएम मोदी का अभिवादन किया।

ऐसा लगता है कि पीएम मोदी के प्रति इस कृतज्ञता और प्रशंसा से हरियाणा कॉन्ग्रेस के नेता पंकज पुनिया काफी आहत हो गए और तंज कसते हुए ट्वीट किया, “क्यों संतरों, (आरएसएस समर्थकों को संदर्भित करने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला एक शब्द) सो गए क्या? बस यूँ ही याद दिला रहा था, वो एक रुपए वाला सेनेटरी पैड पहन लेना कभी।”

Congress leader Pankaj Punia’s now deleted Tweet

अपनी औसत दर्जे की मानसिकता को प्रदर्शित करते हुए, कॉन्ग्रेस नेता ने आरएसएस समर्थकों पर सेक्सिस्ट टिप्पणी करते हुए उनका माखौल उड़ाया। पुनिया ने उन्हें मोदी सरकार द्वारा गरीब महिलाओं को उपलब्ध कराए जा रहे सैनिटरी पैड इस्तेमाल करने के लिए कहा।

बता दें कि कई लोग आरएसएस से जुड़े लोगों को संदर्भित करने के लिए ‘संतरे’ शब्द का उपयोग करते हैं, क्योंकि आरएसएस का मुख्यालय नागपुर में है, जो संतरे के लिए प्रसिद्ध है।

अपने बेहद घटिया और असंवेदनशील ट्वीट के माध्यम से, पंकज पुनिया ने न केवल भाजपा और उसके समर्थकों का मज़ाक उड़ाया, बल्कि सामान्य रूप से महिलाओं का भी अपमान किया।

पुनिया की वाहियात टिप्पणी से खफा होकर, सोशल मीडिया यूजर्स ने कॉन्ग्रेस नेता पर तंज कसा। कुछ ने उन्हें “घृणित” और “मानसिक रूप से बीमार व्यक्ति” बताते हुए कहा कि वो अपने बॉस प्रियंका गाँधी वाड्रा के तालियों के हकदार हैं।

जबकि कुछ लोगों ने ट्विटर से इस पर संज्ञान लेने और महिलाओं पर इस तरह की अश्लील टिप्पणी करने के लिए कॉन्ग्रेस नेता के अकाउंट को सस्पेंड कर देने का आग्रह किया।

पुनिया के ट्वीट पर सोशल मीडिया यूजर्स ने आक्रोशित होकर कॉन्ग्रेस नेता पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर वह महिलाओं का सम्मान नहीं कर सकते, तो उन्हें अपनी माँ को “माँ” नहीं कहना चाहिए।

हालाँकि, यह नहीं है कि पहली बार सोशल मीडिया यूजर्स ने कॉन्ग्रेस नेता के खिलाफ नाराजगी व्यक्त की है। इससे पहले भी हजारों सोशल मीडिया यूजर्स ने कॉन्ग्रेस नेता की उनके घृणित, वीभत्स और अपमानजनक हिन्दूफोबिक ट्वीट के लिए निंदा की थी।

मई में बीजेपी और उसके समर्थकों के प्रति घृणा व्यक्त करते हुए कॉन्ग्रेस नेता ने ट्वीट किया था, “कॉन्ग्रेस सिर्फ़ मजदूरों को अपने खर्च पर उनके घरों तक पहुँचाना चाहती थी। बिष्ट सरकार ने राजनीति शुरू की। भगवा लपेटकर नीच काम संघी ही कर सकते हैं। ये (बीजेपी और इसके समर्थक) कब्र से निकालकर लाशों का बलात्कार करने वाले लोग हैं। बेटियों के सामने पैंट उतारकर जय श्रीराम के नारे लगाने वाले हस्तमैथुन करने वाले लोग हैं।”

बाद में पंकज पुनिया को हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को आहत करने के आरोप में 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। पंकज पुनिया को हरियाणा के करनाल से गिरफ्तार किया गया था। उनकी गिरफ्तारी सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक टिप्पणी के मामले में हुई थी। 

पुनिया के ख़िलाफ़ उत्तर प्रदेश के हजरतगंज और नोएडा पुलिस ने आईटी एक्ट सहित कई मामलों में FIR दर्ज हुई थी। हजरतगंज में उनके खिलाफ धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचाने के मामले में केस दर्ज हुआ था। वहीं, नोएडा में कॉन्ग्रेस नेता के खिलाफ़ धारा 295ए, 500, 505, 153ए और 66 आईटी एक्ट के तहत दर्ज किया गया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

 

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महिला पुलिस कॉन्स्टेबल को जबरन घेर कर कोने में ले गए ‘अन्नदाता’, किया दुर्व्यवहार: एक अन्य जवान हुआ बेहोश

महिला पुलिस को किसान प्रदर्शनकारी चारों ओर से घेरे हुए थे। कोने में ले जाकर महिला कॉन्स्टेबल के साथ दुर्व्यवहार किया गया।

रस्सी से लाल किला का गेट तोड़ा, जहाँ से देश के PM देते हैं भाषण, वहाँ से लहरा रहे पीला-काला झंडा

किसान लाल किले तक घुस चुके हैं और उन्होंने वहाँ झंडा भी फहरा दिया है। प्रदर्शनकारी किसानों ने लाल किले के फाटक पर रस्सियाँ बाँधकर इसे गिराने की कोशिश भी कीं।
00:32:37

मीलॉर्ड! आज खुश तो बहुत होंगे आप: ऑपइंडिया एडिटर के चंद सवाल

शायद अब सुप्रीम कोर्ट को लगेगा कि औरों के भी संवैधानिक अधिकार हैं, लिब्रांडू मीडिया गिरोह इसे सफल आंदोलन करार देगा, जबकि पुलिस पर तलवारों से हमले हुए हैं!

लाल किला पर खालिस्तानी झंडा फहराने पर SFJ देगा ₹1.83 करोड़, पहुँच गई ‘किसानों’ की ट्रैक्टर रैली

दिल्ली में जारी 'किसानों' का विरोध प्रदर्शन अब हिंसा और अराजकता में बदल गया है। लाल किला तक किसानों की ट्रैक्टर रैली का जत्था पहुँच चुका है।

ITO पर पुलिसकर्मी को डंडों से घोंचा, कॉलर पकड़ कर हाथापाई और मारपीट: Video

हाथ में डंडे लिए इन किसान प्रदर्शनकारियों द्वारा पुलिसकर्मी को सड़क पर घेर लिया गया और उनका कॉलर पकड़कर उनके साथ लाठी-डंडों से हाथापाई करने लगे।

DTC बस को तोड़ा, तलवारबाजी करते बढ़ रहे… पुलिस को धकियाते-रगेदते संसद और लाल किला की ओर ‘किसान’

घटना की वीडियो भी है। वीडियो में देख सकते हैं कि डीटीसी बस पर भारी भीड़ ने हमला किया है। उसे गिराकर तोड़ने का प्रयास हो रहा है।

प्रचलित ख़बरें

12 साल की लड़की का स्तन दबाया, महिला जज ने कहा – ‘नहीं है यौन शोषण’: बॉम्बे HC का मामला

बॉम्बे हाई कोर्ट की नागपुर बेंच ने शारीरिक संपर्क या ‘यौन शोषण के इरादे से किया गया शरीर से शरीर का स्पर्श’ (स्किन टू स्किन) के आधार पर...

राहुल गाँधी बोले- किसान मजबूत होते तो सेना की जरूरत नहीं होती… अनुवादक मोहम्मद इमरान बेहोश हो गए

इरोड में राहुल गाँधी के अंग्रेजी भाषण का तमिल में अनुवाद करने वाले प्रोफेसर मोहम्मद इमरान मंच पर ही बेहोश होकर गिर पड़े।

दिल्ली में ‘किसानों’ ने किया कश्मीर वाला हाल: तलवार ले पुलिस को खदेड़ा, जगह-जगह तोड़फोड़, पुलिस वैन पर पथराव

दिल्ली में प्रदर्शनकारी पुलिस के वज्र वाहन पर चढ़ गए और वहाँ जम कर तोड़-फोड़ मचाई। 'किसानों' द्वारा तलवारें भी भाँजी गईं।

छठी बीवी ने सेक्स से किया इनकार तो 7वीं की खोज में निकला 63 साल का अयूब: कई बीमारियों से है पीड़ित, FIR दर्ज

गुजरात में अयूब देगिया की छठी बीवी ने उसके साथ सेक्स करने से इनकार कर दिया, जब उसे पता चला कि उसके शौहर की पहले से ही 5 बीवियाँ हैं।

दलित लड़की की हत्या, गुप्तांग पर प्रहार, नग्न लाश… माँ-बाप-भाई ने ही मुआवजा के लिए रची साजिश: UP पुलिस ने खोली पोल

बाराबंकी में दलित युवती की मौत के मामले में पुलिस ने बड़ा खुलासा किया। पुलिस ने बताया कि पिता, माँ और भाई ने ही मिल कर युवती की हत्या कर दी।

15 साल छोटी हिन्दू से निकाह कर परवीन बनाया, अब ‘लव जिहाद’ विरोधी कानून को ‘तमाशा’ बता रहे नसीरुद्दीन शाह

नसरुद्दीन शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में 'लव जिहाद' को लेकर तमाशा चल रहा है। कहा कि लोगों को 'जिहाद' का सही अर्थ ही नहीं पता है।
- विज्ञापन -

 

‘किसान’ रैली में 1 की मौत: तेज रफ़्तार ट्रैक्टर के पलटने से हुआ हादसा

किसानों के हिंसक विरोध प्रदर्शन के दौरान दिल्ली के डीडीयू मार्ग पर एक ट्रैक्टर के पलट जाने से एक ‘किसान’ की मौत हो गई है।

महिला पुलिस कॉन्स्टेबल को जबरन घेर कर कोने में ले गए ‘अन्नदाता’, किया दुर्व्यवहार: एक अन्य जवान हुआ बेहोश

महिला पुलिस को किसान प्रदर्शनकारी चारों ओर से घेरे हुए थे। कोने में ले जाकर महिला कॉन्स्टेबल के साथ दुर्व्यवहार किया गया।

रस्सी से लाल किला का गेट तोड़ा, जहाँ से देश के PM देते हैं भाषण, वहाँ से लहरा रहे पीला-काला झंडा

किसान लाल किले तक घुस चुके हैं और उन्होंने वहाँ झंडा भी फहरा दिया है। प्रदर्शनकारी किसानों ने लाल किले के फाटक पर रस्सियाँ बाँधकर इसे गिराने की कोशिश भी कीं।
00:32:37

मीलॉर्ड! आज खुश तो बहुत होंगे आप: ऑपइंडिया एडिटर के चंद सवाल

शायद अब सुप्रीम कोर्ट को लगेगा कि औरों के भी संवैधानिक अधिकार हैं, लिब्रांडू मीडिया गिरोह इसे सफल आंदोलन करार देगा, जबकि पुलिस पर तलवारों से हमले हुए हैं!

उपद्रवी ‘अन्नदाता’ को रोकने के लिए दिल्ली पुलिस जान-जोखिम में डालकर बैठी सड़क पर: जगह-जगह हो रहे भयंकर तोड़-फोड़

उपद्रव को रोकने के लिए दिल्ली पुलिस जहाँ जान को जोखिम में डालकर सुरक्षा सुनिश्चित करने का प्रयास कर रही है। वहीं वामपंथी गिरोह सोशल मीडिया पर पुलिस को नेगेटिव दिखाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ रहा।

लाल किला पर खालिस्तानी झंडा फहराने पर SFJ देगा ₹1.83 करोड़, पहुँच गई ‘किसानों’ की ट्रैक्टर रैली

दिल्ली में जारी 'किसानों' का विरोध प्रदर्शन अब हिंसा और अराजकता में बदल गया है। लाल किला तक किसानों की ट्रैक्टर रैली का जत्था पहुँच चुका है।

ITO पर पुलिसकर्मी को डंडों से घोंचा, कॉलर पकड़ कर हाथापाई और मारपीट: Video

हाथ में डंडे लिए इन किसान प्रदर्शनकारियों द्वारा पुलिसकर्मी को सड़क पर घेर लिया गया और उनका कॉलर पकड़कर उनके साथ लाठी-डंडों से हाथापाई करने लगे।

हिंदुओं को धमकी देने वाले के अब्बा, मोदी को 420 कहने वाले मौलाना और कॉन्ग्रेस नेता: ‘लोकतंत्र की हत्या’ गैंग के मुँह पर 3...

पद्म पुरस्कारों में 3 नाम ऐसे हैं, जो ध्यान खींच रहे- मौलाना वहीदुद्दीन खान (पद्म विभूषण), तरुण गोगोई (पद्म भूषण) और कल्बे सादिक (पद्म भूषण)।

DTC बस को तोड़ा, तलवारबाजी करते बढ़ रहे… पुलिस को धकियाते-रगेदते संसद और लाल किला की ओर ‘किसान’

घटना की वीडियो भी है। वीडियो में देख सकते हैं कि डीटीसी बस पर भारी भीड़ ने हमला किया है। उसे गिराकर तोड़ने का प्रयास हो रहा है।

दलित लड़की की हत्या, गुप्तांग पर प्रहार, नग्न लाश… माँ-बाप-भाई ने ही मुआवजा के लिए रची साजिश: UP पुलिस ने खोली पोल

बाराबंकी में दलित युवती की मौत के मामले में पुलिस ने बड़ा खुलासा किया। पुलिस ने बताया कि पिता, माँ और भाई ने ही मिल कर युवती की हत्या कर दी।

हमसे जुड़ें

272,571FansLike
80,695FollowersFollow
386,000SubscribersSubscribe