Sunday, August 1, 2021
Homeसोशल ट्रेंड'तेरी माँ ने #€ से तुझे जन्म दिया साले, योनि की पूजा कर' -...

‘तेरी माँ ने #€ से तुझे जन्म दिया साले, योनि की पूजा कर’ – हिंदुत्व को गरियाने के बाद, अब माँ-बहन पर उतरे

"देखो, हिंदुत्व ट्रोल को INVENTION और POPULARISING के बीच का फर्क़ तक नहीं पता। शायद इन लोगों को पीरियड्स से गुजर रहे ट्रू इंडोलॉजी ने खाना बना कर खिलाया होगा!"

हिंदुओं के ख़िलाफ़ और महिलाओं के लिए अक्सर सोशल मीडिया पर अपशब्दों का इस्तेमाल करके उन्हें अपमानित करने वाले फर्जी माइथोलॉजी एक्सपर्ट देवदत्त पटनायक एक बार फिर से ट्विटर पर लताड़े जा रहे हैं। ऐसा इसलिए, क्योंकि ट्विटर पर हमेशा गलत जानकारी फैलाने का प्रयास करते पाए जाते हैं देवदत्त नामक यह शख्स। और जब अन्य यूजर्स ने उनके झूठ का पर्दाफाश करके उनकी आलोचना करते हैं, तो वो गाली-गलौच पर उतर आते हैं। माँ-बहन के लिए आपत्तिजनक शब्द इस्तेमाल करने लगते हैं।

दरअसल, देवदत्त पटनायक ने कल फिर CAA के ख़िलाफ़ तंज भरे अंदाज में ट्विटर पर लिखा था कि भारत में कागज़ मुस्लिम शासकों की देन है। अब हिंदुत्व उस कागज़ का इस्तेमाल गरीबों को डराने के लिए कर रहा है और मुस्लिम महिलाएँ सामने आकर उसे जमा कराने से मना कर रही हैं। हिंदुत्व हास्यास्पद बात करता है।

इस 4 पंक्ति के ट्वीट में देवदत्त पटनायक ने आखिरी शब्द तक सिर्फ़ झूठ परोसा और हिंदुत्व को मोदी सरकार की जगह लिखकर अपना नैरेटिव गढ़ा। तो सोशल मीडिया यूजर्स ने भी उन्हें फौरन आड़े हाथों ले लिया। सबसे पहले तो पटनायक के इस वाक्य को खारिज किया गया कि भारत में कागज मुस्लिम शासकों की देन हैं।

ट्रू इंडोलॉडी नामक हैंडल ने जानकारी दी कि 6 ई. में संस्कृत हस्तलिपी कागज़ पर लिखी गई थी, जिसकी खोज जम्मू-कश्मीर के गिलगिट में साल 1931 में हुई थी। उनमें से कई हस्तलिपियाँ अब भी श्रीनगर म्यूजियम में हैं। जिसका मतलब है कि ये हस्तलिपियाँ कागज पर उस समय लिखी जा चुकी थीं, जब इस्लाम का जन्म भी नहीं हुआ था।

इसके बाद एक यूजर ने ऐसी निराधार बातें करने के लिए उनकी तुलना राहुल गाँधी से की और कहा कि राहुल गाँधी भी देवदत्त पटनायक से ज्यादा समझदार हैं। साथ ही पटनायक के झूठ की कागज़ से संबंधित एक जानकारी भी शेयर की। धीरे-धीरे अधिकतर ट्वीट पर प्रतिक्रिया देने वाले पटनायक को उनकी बेवकूफी के लिए ट्रोल करने लगे। ऐसे में अपने गलीज़ व्यक्तित्व के लिए कुख्यात देवदत्त पटनायक से आइना देखा न गया और उन्होंने एक बार फिर अपना ओछा व्यक्त्त्वि का प्रदर्शन सरेआम कर दिया।

पटनायक ने ट्विटर यूजर्स का गुस्सा देख रिप्लाई तो सुनील नाम के यूजर को दिया, लेकिन गाली ट्रू इंडोलॉडी को दी। क्योंकि ट्रू इंडोलॉजी के अकॉउंट से अक्सर तथ्यों के जरिए देवदत्त के झूठों का पर्दाफाश होता रहता है।

पटनायक ने लिखा, “तुम लोगों को बेवकूफ बनाना कितना आसान है। जिन्हें ये भी नहीं पता कि INVENTION और POPULARISING में क्या फर्क होता है। क्या तुम्हारी माँ ने अपने पीरियड के दौरान ट्रू इंडोलॉजी की कुत्तियों को खाना खिलाया था?”

इसके बाद पटनायक ने एक और ट्वीट को रीट्वीट करते हुए लिखा, “देखो, हिंदुत्व ट्रोल को INVENTION और POPULARISING के बीच का फर्क़ तक नहीं पता। शायद इन लोगों को पीरियड्स से गुजर रहे ट्रू इंडोलॉजी ने खाना बना कर खिलाया होगा!”

अब ये टिप्पणियाँ, किसी भी स्तर पर एक महिला के लिए कितनी शर्मनाक बात है, यहाँ ये बताने की जरूरत नहीं है। सोशल मीडिया पर इस टिप्पणी को देखने के बाद पटनायक के ख़िलाफ़ एक्शन लेने की माँग उठाई जा रही हैं। ट्रू इंडोलॉजी को टैग करके कहा जा रहा है कि वो इस बेवकूफ के ख़िलाफ़ कार्रवाई करें। लोगों का कहना है कि उन्हें खुद पर शर्म आ रही है कि उन्होंने कभी पटनायक की किताब को खरीदकर पढ़ा। उन्हें तरह-तरह से कोसा जा रहा है, उनकी कुंद बुद्धि के लिए उन्हें धिक्कारा जा रहा है।

वहीं, ट्रू इंडोलॉजी ने भी ऐसे सेक्सिस्ट कमेंट के आने के बाद उद्योगपति आनंद महिंद्रा को टैग करके पटनायक को नौकरी देने पर सवाल उठाए। उनसे पूछा है कि क्या पटनायक उनकी माँ और पत्नी के बारे में भी ऐसी बातें करता है, क्या उनमें कोई शर्म नहीं है। उनका इंप्लॉय आम नागरिकों को गाली देता है, महिलाओं का अपमान करता है और वो चुप हैं?

बता दें कि ट्रू इंडोलॉजी के साथ बेहूदगी करने के अलावा पटनायक का एक और ट्वीट सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिसमें पटनायक एक यूजर का रिप्लाई देने के लिए बेशर्मी से योनि पर भद्दा कमेंट करते हैं।

‘देवी’ से ‘चुप चुड़ैल’: वामपंथी जोकर देवदत्त पटनायक ने महिलाओं को लिखे बेहूदे ट्वीट, दी गाली

‘तुम्हारी माँ के साथ…’ – फर्जी मिथोलॉजिस्ट देवदत्त पटनायक को इस अश्लील जवाब पर लोगों ने जमकर लताड़ा

हिंदुत्व कहता है कि सीता को क़ैद करने के लिए बनी थी लक्ष्मण रेखा: देवदत्त ‘नालायक’ ने मारी पलटी

‘कहाँ है वेदों में शिव?’ देवदत्त ‘नालायक’ ने जब यह पूछा तो वेद का उदाहरण दे लोगों ने रगड़ दिया

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मानसिक-शारीरिक शोषण से धर्म परिवर्तन और निकाह गैर-कानूनी: हिन्दू युवती के अपहरण-निकाह मामले में इलाहाबाद HC

आरोपित जावेद अंसारी ने उत्तर प्रदेश में 'लव जिहाद' के खिलाफ बने कानून के तहत हो रही कार्रवाई को रोकने के लिए इलाहाबाद हाईकोर्ट का रुख किया था।

गोविंद देव मंदिर: हिंदू घृणा के कारण औरंगजेब ने जिसे आधा ढाह दिया… और उसके ऊपर इस्लामिक गुंबद बना नमाज पढ़ी

भगवान गोविंद देव अर्थात श्रीकृष्ण का यह मंदिर वृंदावन के सबसे पुराने मंदिरों में से एक। मंदिर के विशालकाय दीपक की चमक इसकी शत्रु साबित हुई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,352FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe