Wednesday, September 22, 2021
Homeसोशल ट्रेंड'यह आत्महत्या जैसा': कोहली ने अश्विन को इंग्लैंड के ओवल टेस्ट में भी नहीं...

‘यह आत्महत्या जैसा’: कोहली ने अश्विन को इंग्लैंड के ओवल टेस्ट में भी नहीं दिया मौका, सोशल मीडिया पर लोगों ने जताई हैरानी

"रविचंद्रन अश्विन अभी भी प्लेइंग इलेवन में नहीं हैं क्योंकि भारत जडेजा के साथ 4 सीमर बुमराह, सिराज, शार्दुल और उमेश के साथ बना हुआ है। अभी तक समझ नहीं आया कि अश्विन इसमें जगह क्यों नहीं बना सके।"

इंग्लैंड को ओवल में हो रहे भारत-इंग्लैड टेस्ट मैच के चौथे मैच से कप्तान विराट कोहली द्वारा ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को बाहर करने के फैसले का जमकर विरोध किया जा रहा है। इस मैच में भारत टॉस हार गया और दो बदलाव किए, उमेश यादव और शार्दुल ठाकुर को मोहम्मद शमी और इशांत शर्मा की जगह टीम में शामिल कर विराट कोहली ने उनपर भरोसा जताया है।

इससे पहले तक माना जा रहा था कि विश्व के दूसरे नंबर के टेस्ट गेंदबाज आर अश्विन को भारतीय एकादश में शामिल किया जाएगा, क्योंकि इंग्लैंड के ओवल क्रिकेट ग्राउंड की पिच सबसे अधिक स्पिन गेदबाजी के प्रति अनुकूल है। खास बात ये है कि रविचंद्रन अश्विन ने 5-टेस्ट मैचों की शुरुआत से पहले आयोजन स्थल पर काउंटी क्रिकेट खेला और समरसेट के खिलाफ सरे के लिए दूसरी पारी में 6 विकेट लिए थे।

हालाँकि, इसको लेकर विराट कोहली का मानना था कि भारत ने अश्विन को खिलाने के बारे में सोचा था। उन्होंने तर्क दिया कि इंग्लैंड के पास चार बाएँ हाथ के खिलाड़ी हैं और यह रवींद्र जडेजा के लिए एक अच्छा मैच साबित हो सकता है।

कोहली ने टॉस के बाद कहा, “इंग्लैंड के पास चार बाएँ हाथ के बल्लेबाज हैं, इसलिए जडेजा के लिए अच्छा मैच है, हमारे तेज गेंदबाजों ने विकेट पर अच्छी गेंदबाजी की।”

बहरहाल कोहली के फैसले पर सोशल मीडिया पर लोगों ने अपना गुस्सा और हैरानी दोनों जाहिर की।

कॉन्ग्रेस सांसद शशि थरूर ने भारतीय टीम के फैसले पर हैरानी जताते हुए कहा, “यह टीम पूरी तरह से अविश्वसनीय है। इंग्लैंड में स्पिन के लिए सबसे अनुकूल पिच पर खिलाने के बजाय अस्विन को बाहर कर दिया गया। आप अपने पाँच सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों को चुनें, @ashwinravi99 पहला या दूसरा नाम होना चाहिए। उन्हें छोड़कर @MdShami11 ओवल में एक मृत्यु-इच्छा की तरह है – मानो आप हारना चाहते हैं!”

पूर्व ऑस्ट्रेलियन क्रिकेटर लिजा स्थलेकर ने भी टेस्ट मैच में अश्विन को शामिल नहीं करने पर हैरानी जताई।

जॉय भट्टाचार्य ने कहा ने कहा कि वो विराट कोहली और सेलेक्टर्स के फैसले से सहमत नहीं हैं, लेकिन वो उनके इस साहस और विश्वास की सराहना करते हैं।

एक अन्य यूजर ने कहा कि इस टेस्ट मैच के लिए जिन पाँच लोगों को चुना गया है, उनकी तुलना अश्विन, इशांत और शमी के काफी अधिक टेस्ट विकेट हैं।

पत्रकार विक्रांत गुप्ता ने इस पर हैरानी जताते हुए कहा, “रविचंद्रन अश्विन अभी भी प्लेइंग इलेवन में नहीं हैं क्योंकि भारत जडेजा के साथ 4 सीमर बुमराह, सिराज, शार्दुल और उमेश के साथ बना हुआ है। अभी तक समझ नहीं आया कि अश्विन इसमें जगह क्यों नहीं बना सके।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरी की संदिग्ध मौत की जाँच के लिए SIT गठित: CM योगी ने कहा – ‘जिस पर संदेह, उस पर सख्ती’

महंत नरेंद्र गिरी की मौत के मामले में गठित SIT में डेप्यूटी एसपी अजीत सिंह चौहान के साथ इंस्पेक्टर महेश को भी रखा गया है।

जिस राजस्थान में सबसे ज्यादा रेप, वहाँ की पुलिस भेज रही गंदे मैसेज-चौकी में भी हो रही दरिंदगी: कॉन्ग्रेस है तो चुप्पी है

NCRB 2020 की रिपोर्ट के मुताबिक राजस्थान में जहाँ 5,310 केस दुष्कर्म के आए तो वहीं उत्तर प्रेदश में ये आँकड़ा 2,769 का है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,642FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe