Sunday, November 27, 2022
Homeसोशल ट्रेंड'वेटिकन में 'बाथरूम एक्सीडेंट' के शिकार हुए जो बायडेन, पैंट में ही कर डाला...':...

‘वेटिकन में ‘बाथरूम एक्सीडेंट’ के शिकार हुए जो बायडेन, पैंट में ही कर डाला…’: अमेरिका में ट्रेंड हुआ #PoopyPantsBiden

हाल ही में, एक सीएनएन टाउन हॉल के दौरान, जो बिडेन ने अपनी मुट्ठी बाँध ली थी और उन्हें एक अजीब पोजिशन में रखा था, जिससे कई लोग फिर से उनकी मेंटल फिटनेस पर सवाल उठा रहे थे।

रोम में ऐसी अफवाहें उड़ी हैं कि वेटिकन में पोप फ्रांसिस के साथ बैठक के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति जो बायडेन ‘बाथरूम एक्सीडेंट’ के शिकार हो गए। नेवादा रिपब्लिकन पार्टी के पूर्व अध्यक्ष एमी टार्कानियन ने ऐसा दावा किया। जिसके बाद सोशल मीडिया पर #PoopyPantsBiden ट्रेंड करने लगा।

एमी टार्कानियन ने कहा, “मुझे पता है कि हम इस बारे में अक्सर मजाक करते हैं, लेकिन यह सच में अफवाह है जो फिलहाल रोम में फैला हुआ है।” द स्पेक्टेटर के एसोसिएट एडिटर, डेमियन थॉम्पसन ने कहा कि उन्होंने इसके बारे में ‘एक्सीलेंट सोर्स’ से सुना है।

Source: Twitter

इसके बाद ट्विटर पर #PoopyPantsBiden ट्रेंड करने लगा। जो बाइडेन हाल के महीनों में स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं के कारण जाँच के दायरे में रहे हैं। ‘बाथरूम एक्सीडेंट’ की अफवाहों ने एक बार फिर उसी को सुर्खियों में ला दिया है। सोशल मीडिया पर लोगों ने अफवाह को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति की भारी आलोचना की और उनका मजाक उड़ाया।

यह स्पष्ट नहीं है कि हैशटैग किसलिए ट्रेंड कर रहा है क्योंकि यूजर वास्तव में मानते हैं कि जो बायडेन ने अपनी पैंट में मल त्याग किया था या वे इनके मजे ले रहे हैं। यह भी हो सकता है कि हैशटैग इसलिए भी ट्रेंड कर रहा हो क्योंकि यूजर्स को यह अश्लील रूप से मज़ेदार लगता है, या फिर तीनों ही बातें हो सकती हैं। कारण जो भी हो, हैशटैग यूएसए में टॉप ट्रेंड में से एक था।

फिलहाल जो बायडेन मजाक का पात्र बने हुए हैं।

जो बायडेन संयुक्त राज्य अमेरिका के राष्ट्रपति बनने के बाद से कई बार गलतफहमी का शिकार हो चुके हैं। हाल ही में, एक सीएनएन टाउन हॉल के दौरान, जो बिडेन ने अपनी मुट्ठी बाँध ली थी और उन्हें एक अजीब पोजिशन में रखा था, जिससे कई लोग फिर से उनकी मेंटल फिटनेस पर सवाल उठा रहे थे।

यहाँ तक ​​कि अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों के दौरान, राजनीतिक पर्यवेक्षकों और टिप्पणीकारों ने जो बायडेन के संज्ञानात्मक (Cognitive) क्षमता में गिरावट के संकेतों के बारे में चिंता व्यक्त की थी, जिसमें उन्होंने दावा किया था कि पृथ्वी पर सबसे शक्तिशाली देश के राष्ट्रपति के रूप में कार्य करने की उनकी क्षमता को गंभीरता से प्रभावित करेगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘भारत के सभी मुस्लिम पहले हिन्दू थे’: बोले नीतीश की पार्टी के MLC गुलाम गौस – दलितों-मुस्लिमों-गरीबों की बात करने वाले इकलौते PM हैं...

नीतीश कुमार की JDU के नेता और बिहार के विधान पार्षद गुलाम गौस ने पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ की। उन्होंने कहा कि सभी मुस्लिम पहले हिन्दू थे।

बचपन में PM मोदी को पढ़ाने वाले स्कूल प्रिंसिपल का निधन, सुनाया था 2 कलम और मगरमच्छ वाला किस्सा: लिख कर भेजते थे ‘मन...

पीएम मोदी के स्कूली दिनों के गुरु रासविहारी मणियार की 94 साल की उम्र में निधन हो गया। पीएम मोदी ने ट्वीट कर संवेदना व्यक्त की है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
235,696FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe