Monday, July 22, 2024
Homeसोशल ट्रेंडदूसरों को बताते हैं 'गोदी मीडिया', खुद कॉन्ग्रेसी CM के लिए बन गए 'बाथरूम...

दूसरों को बताते हैं ‘गोदी मीडिया’, खुद कॉन्ग्रेसी CM के लिए बन गए ‘बाथरूम सिंगर’: पाकिस्तानी हिन्दू क्रिकेटर ने टोका तो चरित्र हनन पर उतर गए राजदीप सरदेसाई

कर्नाटक चुनावों पर एक बहस के दौरान भाजपा के आईटी सेल के मुखिया अमित मालवीय ने राजदीप को कॉन्ग्रेस का प्रोपगैंडा फैलाने वाला कहा था जिसके जवाब में राजदीप ने मालवीय के पास मैसूर पाक भेजा था।

‘इंडिया टुडे’ के एंकर राजदीप सरदेसाई अब पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर दानिश कनेरिया के चरित्र हनन पर उतर आए हैं। हालाँकि, कनेरिया की ‘गुगली’ से वह ‘क्लीन बोल्ड’ भी हो गए हैं। पूरा मामला राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के एक इंटरव्यू से जुड़ा है।

दरअसल, हाल ही में ‘इंडिया टुडे’ के एंकर राजदीप सरदेसाई ने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का इंटरव्यू किया था। इसके लिए वह अशोक गहलोत के चार्टड प्लेन से उनके साथ इंटरव्यू करते हुए गए थे। उन्होंने लगभग 1 घंटे लम्बा इंटरव्यू किया। झूठी खबरें फैलाने के लिए कुख्यात राजदीप ने इस दौरान अशोक गहलोत के लिए गाने गाए। राजदीप ने अशोक गहलोत से मुख्यमंत्री बनने का प्रश्न पूछने के बाद ‘ज़िंदगी के सफ़र में’ और ‘मुसाफिर हूँ यारों’ गाना गाया और खुद को एक बाथरूम सिंगर (नहाते वक्त गाना गाने वाला) बताया।

राजदीप का अशोक गहलोत के लिए गाने गाना सोशल मीडिया पर वायरल हो गया और लोगों ने उनकी आलोचना की। लोगों ने यह प्रश्न उठाए कि सदैव दूसरों को ‘गोदी मीडिया’ बताने वाले राजदीप अब खुद कॉन्ग्रेसी मुख्यमंत्री के लिए गाने गा रहे हैं।

राजदीप के इसी बरताव पर पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर दानिश कनेरिया ने एक्स (पहले ट्विट्टर) लिखा, “जब बाथरूम सिंगर पत्रकार बन जाते हैं।” साथ ही उन्होंने हँसने वाला इमोजी उपयोग किया। इस पर राजदीप भड़क गए और कनेरिया को आईटी सेल का आदमी बताने और उनका चरित्र हनन करने पर उतर आए।

राजदीप ने लिखा, “जब एक पाकिस्तानी मैच फिक्सर/स्पॉट फ़िक्सर ‘मैसूर पाक’ आईटी सेल का हिस्सा बन जाता है। जाकर अपनी जिन्दगी जियो दानिश कनेरिया। अगली बार आधे घंटे का पूरा इंटरव्यू देखना, ना कि 60 सेकेण्ड की वो क्लिप जो तुम्हें तुम्हारे आईटी सेल के चीफ ने ट्वीट करने को कहा है।”

दरअसल, मैसूर पाक आईटी सेल से राजदीप का अभिप्राय यहाँ भारतीय जनता पार्टी के आईटी सेल से है। कर्नाटक चुनावों पर एक बहस के दौरान भाजपा के आईटी सेल के मुखिया अमित मालवीय ने राजदीप को कॉन्ग्रेस का प्रोपगैंडा फैलाने वाला कहा था जिसके जवाब में राजदीप ने मालवीय के पास मैसूर पाक भेजा था।

भले ही कनेरिया पर मैच फिक्सिंग के कोई सीधे आरोप ना हो लेकिन राजदीप का चरित्र हनन पर उतरना उन्हें भारी पड़ गया। कनेरिया ने स्वयं और ट्विटर पर बाकी लोगों ने राजदीप की धुलाई कर दी। कनेरिया की गुगली ने राजदीप को बोल्ड कर दिया।

कनेरिया ने इस पर लिखा, “कितनी बार राजदीप ने अपनी खबरों को इस तरह से फिक्स किया है कि वह उनके या उनके मास्टर के एजेंडा से मैच करें। वह ‘मैसूर पाक’ नाम का उपयोग दुरूपयोग वैसे ही कर रहे हैं जैसे वह ‘पत्रकार’ शब्द का अपने साथ करते हैं। हालाँकि, मैंने मुकेश अम्बानी का पूरा इंटरव्यू आपके साथ देखा है।”

गौरतलब है कि एक इंटरव्यू के दौरान कारोबारी मुकेश अम्बानी ने राजदीप सरदेसाई से कहा था कि मैं आपको सीरियस लेता ही नहीं हूँ। इस इंटरव्यू के बाद राजदीप की काफी बेइज्जती और खिंचाई हुई थी। अब राजदीप फिर से ट्रोल हो रहे हैं।

एक व्यक्ति ने लिखा कि मैसूर पाक आईटी सेल होना भारत में रह कर पाकिस्तानी आईटी सेल का हिस्सा होने अच्छा है।

दूसरे व्यक्ति ने पूछा कि क्या वो मोहम्मद अज़हरुद्दीन को मैच फ़िक्सर कह सकते हैं, जिनका इंटरव्यू उन्होंने लिया है।

अब राजदीप से कोई जवाब नहीं देते बन रहा है। इससे पहले दानिश सुप्रीम कोर्ट में वकील प्रशांत भूषण की भी गिल्लियाँ उड़ा चुके हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

केंद्र सरकार ने 4 साल में राज्यों को की ₹1.73 लाख करोड़ की मदद, फंड ना मिलने पर धरना देने वाली ममता सरकार को...

वित्त मंत्रालय ने बताया है कि केंद्र सरकार 2020-21 से लेकर 2023-24 तक राज्यों को ₹1.73 लाख करोड़ विशेष मदद योजना के तहत दे चुकी है।

जो बायडेन फिर से बने अमेरिकी राष्ट्रपति उम्मीदवार: ‘भूलने की बीमारी’ के कारण कर दिया था ट्वीट, सदमे में कमला हैरिस, 12 घंटे से...

जो बायडेन टेस्ट ले रहे थे कमला हैरिस का। वो भोकार पार-पार के, सर पटक कर रोने के बजाय खुश हो गईं। पिघलने के बजाय बायडेन को गुस्सा आ गया और...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -