Wednesday, February 28, 2024
Homeराजनीति'अब मूत्रालय का भी फीता काट दो': AAP का 'स्पीडब्रेकर' देख नेटिजन्स बोले- नारियल...

‘अब मूत्रालय का भी फीता काट दो’: AAP का ‘स्पीडब्रेकर’ देख नेटिजन्स बोले- नारियल फोड़ने से धँस तो नहीं गया

पिछले दिनों सोशल मीडिया में एक तस्वीर वायरल हुई जिसमें एक ट्रैक्टर पर अंतिम संस्कार के लिए लकड़ियाँ रखी नजर आ रही थी और उस पर लगे पोस्टर में लिखा था कि इन लकड़ियों का इंतजाम आम आदमी पार्टी ने कोविड से जान गँवाने वालों के अंतिम संस्कार के लिए किया है।

आम आदमी पार्टी (AAP) के नेता अक्सर किसी न किसी घालमेल के कारण चर्चा में छाए रहते हैं। हालाँकि दावा इनका हर बार एक ही होता है कि दिल्ली में हुए हर विकास के पीछे इनका हाथ है। इनके लिए विकास का अर्थ क्या है? इसका पता AAP नेता शिव चरण गोयल के एक हालिया ट्वीट से चलता है। 

बुधवार (16 जून 2021) को किए अपने ट्वीट में गोयल बता रहे हैं कि उन्होंने स्पीड ब्रेकर का उद्घाटन करवाया है। हालाँकि, स्पीड ब्रेकर कहाँ है ये तस्वीर में नहीं दिख रहा। ऐसे में लोग पूछ रहे हैं कि कहीं नारियल फोड़ने से स्पीड ब्रेकर धँस तो नहीं गया। कुछ को इस बात पर भी हँसी आ रही है कि स्पीड ब्रेकर का भी कोई उद्घाटन करवाता है क्या। अगर हाँ, तो क्या आगे चलकर शौचालय या मूत्रालय का भी उद्घाटन करते हुए फीता काटा जाएगा।

गोयल ने स्पीड ब्रेकर बनने की खुशी में सारा श्रेय मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को दिया। उन्होंने 4 तस्वीरें साझा करते हुए कहा, “माननीय मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल जी के नेतृत्व में कोरोना कॉल में भी जारी है मोती नगर में विकास कार्य। स्पीड और दुर्घटना को रोकने के लिए फन सिनेमा, मोतीनगर रेड लाइट चौराहे पर टेबल टॉप स्पीड ब्रेकर का उद्धघाटन।”

ट्वीट के साथ साझा की गई तस्वीरों में ठीक-ठाक संख्या में लोग बिना कोई सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किए खड़े हैं। वहीं आप नेता सबको माइक लेकर संबोधित कर रहे हैं।

एक स्पीड ब्रेकर के बनने पर ऐसा आयोजन और उसका इस तरह ऐलान देखकर सोशल मीडिया यूजर्स हैरान हैं। वह तंज कसते हुए इसे बड़ा काम बताकर गोयल को आभार दे रहे हैं और पूछ रहे हैं कि अगर इतने बड़े काम का ढंग से मीडिया कवरेज न हुआ हो तो वापस से उद्घाटन करवाकर बीबीसी को बुलवा लो। 

एक यूजर मजाक उड़ाते हुए कहता है कि ये विकास बहुत दुर्लभ है। बहुत कम पार्टी ऐसा विकास कर पाती है। वहीं दूसरा यूजर कहता है कि इतने कठिन समय में इतने मुश्किल भरे कार्य को संपन्न करने के लिए आपियों को देश के सर्वोच्च पुरस्कार मिलने चाहिए।

कुछ यूजर्स केजरीवाल सरकार की विज्ञापन देने की आदत का मजाक बनाकर याद दिलाते हैं कि एक स्पीड ब्रेकर 5000 रुपए का बना होगा, लेकिन आप पार्टी इसके विज्ञापन पर 50 लाख रुपए का बजट देगी।

बता दें कि आप नेताओं का सोशल मीडिया पर इस तरह मजाक उड़ना कोई नई बात नहीं है। पार्टी की पहचान धीरे-धीरे यही बनती जा रही है कि वह काम कम और प्रचार-प्रसार ज्यादा करते हैं।

पिछले दिनों सोशल मीडिया में एक तस्वीर वायरल हुई जिसमें एक ट्रैक्टर पर अंतिम संस्कार के लिए लकड़ियाँ रखी नजर आ रही थी और उस पर लगे पोस्टर में लिखा था कि इन लकड़ियों का इंतजाम आम आदमी पार्टी ने कोविड से जान गँवाने वालों के अंतिम संस्कार के लिए किया है।

हालाँकि, जब ऑपइंडिया ने पोस्टर पर दिए गए नंबर पर संपर्क करने की कोशिश की, तो कॉल एक अनजान महिला तक पहुँच गई, जिसे पता तक नहीं था कि हम किस बारे में बात कर रहे हैं। इस बात का भी ट्विटर यूजर ने खूब मजाक उड़ाया था कि पार्टी को विज्ञापन देने की इतनी जल्दी होती है कि गलत नंबर तक छप जाता है।

इसी तरह ऑक्सीजन प्लांट को लेकर भी दिल्ली की आप सरकार ने दिल्ली वासियों को बरगलाया था। पिछले साल दिल्ली सरकार ने दावा कर दिया था कि दिल्ली कोरोना की आने वाली लहर के लिए तैयार है। हालाँकि जब कोरोना की दूसरी लहर शुरू हुई तो केजरीवाल सरकार केंद्र को बताने लगी कि दिल्ली में ऑक्सीजन की भारी किल्लत है। अगर यहाँ ऑक्सीजन का प्लांट नहीं है तो क्या दिल्ली के लोगों को ऑक्सीजन नहीं मिलेगी?

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिस जामनगर में अनंत-राधिका की प्री वेडिंग सेरेमनी, वहाँ अंबानी परिवार ने बनवाए 14 मंदिर: भाटीगल संस्कृति का रखा ध्यान, भित्ति शैली की नक्काशी

गुजरात के जामनगर में मुकेश अंबानी ने अपने छोटे बेटे अनंत अंबानी की शादी से पूर्व 14 मंदिरों का निर्माण करवाया है। ये मंदिर भव्य हैं और इनमें सुंदर नक्काशी का काम हुआ है।

एक्स्ट्रा सीटें जीत BJP ने राज्यसभा का गणित बदला, बहुमत से NDA अब 4 सीट ही दूर: जानिए उच्च सदन में किसकी कितनी ताकत

राज्यसभा चुनाव में बीजेपी ने झंडे गाड़ दिए। देश में कुल 56 सीटों के लिए चुनाव हुए, जिसमें बीजेपी ने 30 सीटें जीत ली।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
418,000SubscribersSubscribe