Saturday, September 18, 2021

विषय

गौहत्या

नृसिंह मंदिर के पास बकरीद में गोकशी: पथराव में 2 थाना प्रभारी सहित कई पुलिस वाले घायल

बकरीद के दौरान गोकशी की सूचना मिलते ही दो समुदाय के आमने-सामने आने के बाद गाँव में साम्प्रदायिक तनाव उत्पन्न हो गया।

बीफ के लिए गर्भवती गाय की हत्या, बैन के बावजूद तमिलनाडु के इस इलाके में काटे जाते हैं गाय और बछड़े

तमिलनाडु से एक हैरान करने वाली घटना सामने आई है। एक दंपती ने बीफ के लिए गर्भवती गाय की हत्या कर दी।

‘गायों की सुरक्षा हमारी प्राथमिकता’: कर्नाटक में जल्द पारित होगा गोहत्या पर पाबंदी से जुड़ा विधेयक

बीजेपी ने 2018 के कर्नाटक विधानसभा चुनावों के लिए अपने घोषणा पत्र में गोहत्या पर प्रतिबंध का वादा किया था।

मटन के नाम पर बेचा जा रहा था बीफ: कर्नाटक से शहबाज, अफरोज और रहमान गिरफ्तार

पुलिस ने इस मामले में कसाईखाने के मालिकों के ऊपर कर्नाटक गौहत्या और मवेशी हत्या रोकथाम अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है।

बछड़े की पीट-पीट कर हत्या, CCTV में कैद वीडियो हुआ वायरल: आगरा में UP पुलिस ने पकड़े दो आरोपित

CCTV फुटेज वायरल होने के बाद और स्थानीय लोगों द्वारा बछड़े की हत्या की शिकायत पर पुलिस ने दोनों आरोपितों को गिरफ्तार करके...

हथिनी के बाद, अब हिमाचल में गर्भवती गाय को बम खिलाने की बात सोशल मीडिया पर आई सामने

सोशल मीडिया पर शेयर किए जा रहे इस वीडियो में हिमाचल प्रदेश के गुरदयाल सिंह इस जख्मी गाय के साथ नजर आ रहे हैं। उनका कहना है कि लोग गौरक्षा की बात कर रहे हैं जबकी......

क्या हिन्दू गौमांस खाते थे? वामपंथी कारवाँ मैग्जीन ने संस्कृत के अज्ञान के कारण फिर दिखाई मूर्खता

अन्य धर्मों के विपरीत, हिंदू सोचते-मानते हैं कि प्रत्येक जीव की आत्मा होती है। सिर्फ खाने के लिए किसी पशु को मारना वेदों द्वारा स्वीकार्य...

शामली: गोकश अफजल को पकड़ने गई पुलिस पर सैकड़ों ग्रामीणों का हमला

गोकश अफजल को पकड़ने गई पुलिस टीम पर सैकड़ों की संख्या में ग्रामीणों ने हमला कर दिया। एक सब इंस्पेक्टर समेत 3 पुलिसकर्मी घायल हो गए।

महाराष्ट्र: ‘जय बजरंग’ लिखकर गाड़ी पर हो रहा था अवैध गो-तस्करी, नईम फारूक कुरैशी समेत पाँच गिरफ्तार

महाराष्ट्र में गो-तस्करी के पाँचों आरोपितों के खिलाफ महाराष्ट्र पशु संरक्षण अधिनियम 1976 की आईपीसी धारा 11, और 11 (डी) (डी) के.....

राजस्थान: बाँसवाड़ा में फिर हुई गौ हत्या, ‘ईसाई मिशनरीज के प्रभाव के कारण नही रुक रहा सिलसिला’

पाटन थाना क्षेत्र में ईसाई धर्मांतरण गतिविधियाँ पहले से ही सक्रिय थी। गौ हत्या के पीछे भी कहीं न कहीं ईसाई मिशनरी के लोगों का ही हाथ है।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
122,947FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe