Wednesday, July 28, 2021
Homeफ़ैक्ट चेकराजनीति फ़ैक्ट चेक'क्रिसमस पर PM मोदी गए चर्च, किया प्रेयर' - कॉन्ग्रेसी महिला नेता ने शेयर...

‘क्रिसमस पर PM मोदी गए चर्च, किया प्रेयर’ – कॉन्ग्रेसी महिला नेता ने शेयर की फोटो, हुआ वायरल – Fact Check

कॉन्ग्रेसी महिला नेता ने PM मोदी की तस्वीर शेयर करते हुए लिखा, “कोई तस्वीर में बजरंगदल को टैग कर दो। ये आदमी क्रिसमस पर चर्च जा रहा है। इसकी हिम्मत कैसे हुई?”

सोशल मीडिया पर झूठ फैलाने के लिए पुरानी तस्वीर शेयर करके अक्सर अपनी फजीहत करवाना कॉन्ग्रेसियों के लिए कोई नई बात नहीं है। लेकिन बार-बार पोल खुलने के बावजूद भी वह इस काम को करने के इतने आदी हो चुके हैं कि मौका आते ही उनकी पहली प्राथमिकता झूठ फैलाना ही होता है।

हाल में क्रिसमस के मौके पर पीएम मोदी ने ट्विटर के जरिए सबको क्रिसमस की बधाई दी, लेकिन कहीं भी ऐसी खबर देखने को नहीं मिली कि पीएम ने चर्च विजिट किया। फिर भी इस बीच उनकी एक तस्वीर का इस्तेमाल करके यह दावा कर दिया गया कि वह चर्च में गए थे

कर्नाटक में महिला कॉन्ग्रेस की सदस्य और कॉन्ग्रेस के प्रियदर्शिनी अभियान की इंचार्ज भव्या नरसिम्हामूर्ति ने तो इसे शेयर करके न केवल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा बल्कि बजरंग दल पर भी तंज कसने का प्रयास किया। बता दें कि असम में कच्छर के बजरंग दल मुख्य सचिव मीथू नाथ ने कहा था कि जो कोई भी क्रिसमस पर चर्च जाएगा, उसे पीटा जाएगा। 

भव्या के कॉन्ग्रेसी नेत्री होने के प्रमाण

इसी के मद्देनदर भव्या ने पीएम मोदी की तस्वीर शेयर करते हुए लिखा, “कोई तस्वीर में बजरंगदल को टैग कर दो। ये आदमी क्रिसमस पर चर्च जा रहा है। इसकी हिम्मत कैसे हुई?”

ट्विटर पर किसान नाम के यूजर ने लिखा, “नरेंद्र मोदी, हिंदू युवा वाहिनी, करणी सेना, बजरंग दल को चिढ़ाने के लिए क्रिसमस पर चर्च पहुँच गए।” कई अन्य लोगों ने इसी तस्वीर को शेयर करके पीएम मोदी को अंधभक्तों का संता क्लॉज बताया और लिखा, “अंधभक्तों का संता आज चर्च पहुँचे हैं।”

ऐसे फैलाया गया फेक न्यूज

कुल मिलाकर इन सभी लोगों का दावा यही दर्शा रहा था मानो क्रिसमस पर प्रधानमंत्री ने चर्च विजिट किया हो। लेकिन वास्तविकता में यह तस्वीर 9 जून 2019 की है, जब प्रधानमंत्री मोदी श्रीलंका में हुए बम ब्लास्ट के बाद मृतकों के लिए श्रद्धांजलि अर्पित करने गए थे। टाइम्स ऑफ इंडिया ने 9 जून को प्रकाशित अखबार में बताया था कि पीएम मोदी कोलंबो के सेंट एंथनी चर्च ईस्टर हमले का शिकार हुए पीड़ितों को श्रद्धांजलि देने पहुँचे।

इसके अलावा पीएम मोदी ने भी ट्विटर पर अपने इस दौरे की तस्वीर शेयर की थी। उन्होंने 9 जून 2019 के ट्वीट में लिखा, “मुझे यकीन है कि श्रीलंका दोबारा उठेगा। आतंकियों के कायराना हमले श्रीलंका के साहस को नहीं हरा सकके। भारत श्रीलंका के साथ एकजुट होकर खड़ा है।”

गौरतलब है कि साल 2019 के अप्रैल माह में श्रीलंका की राजधानी कोलंबो ईस्टर रविवार को विस्फोटों से दहल उठी थी। इस हमले में तीन चर्च और 4 लक्जरी होटलों सहित 8 विस्फोट हुए थे। इस पूरे हमले की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट ने ली थी लेकिन सरकार ने स्थानीय कट्टरपंथी समूह नेशनल तौहीद जमात को भी बमबारी के लिए जिम्मेदार बताया था। इसी हमले के लगभग डेढ़ माह बाद पीएम ने सेंट एंथनी चर्च में विजिट किया था। जो आतंकियों के आत्मघाती हमले का शिकार था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बद्रीनाथ नहीं, वो बदरुद्दीन शाह हैं…मुस्लिमों का तीर्थ स्थल’: देवबंदी मौलाना पर उत्तराखंड में FIR, कभी भी हो सकती है गिरफ्तारी

मौलाना के खिलाफ़ आईपीसी की धारा 153ए, 505, और आईटी एक्ट की धारा 66F के तहत केस किया गया है। शिकायतकर्ता का आरोप है कि उसके बयान से हिंदू भावनाएँ आहत हुईं।

बसवराज बोम्मई होंगे कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री: पिता भी थे CM, राजीव गाँधी के जमाने में गवर्नर ने छीन ली थी कुर्सी

बसवराज बोम्मई के पिता एस आर बोम्मई भी राज्य के मुख्यमंत्री रह चुके हैं, जबकि बसवराज ने भाजपा 2008 में ज्वाइन की थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,571FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe