Sunday, August 1, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजन'सुशांत की आड़ में बॉलीवुड को कर रहे बदनाम': जावेद अख्तर की बेटी...

‘सुशांत की आड़ में बॉलीवुड को कर रहे बदनाम’: जावेद अख्तर की बेटी से लेकर करीना कपूर तक ने किया समर्थन

गिल्ड के बयान को सोशल मीडिया पर जोया और उनके भाई फरहान अख्तर ने साझा किया है। करीना कपूर ने जोया की इंस्टाग्राम स्टोरी को शेयर कर अपना समर्थन देते हुए लिखा, “मैं अपनी इंडस्ट्री के साथ हूँ (With My Industry)।”

प्रोड्यूसर गिल्ड ऑफ़ इंडिया ने बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में मीडिया कवरेज पर सवाल उठाए हैं। आरोप लगाया है कि इसकी आड़ में फिल्म इंडस्ट्री को बदनाम किया जा रहा है। गिल्ड के इन आरोपों का बॉलीवुड के कई नामचीनों ने समर्थन किया है। इसमें जावेद अख्तर की फिल्मकार बेटी जोया अख्तर से लेकर करीना कपूर तक शामिल हैं।

गिल्ड के बयान को सोशल मीडिया पर जोया और उनके भाई फरहान अख्तर ने साझा किया है। करीना कपूर ने जोया की इंस्टाग्राम स्टोरी को शेयर कर अपना समर्थन देते हुए लिखा, “मैं अपनी इंडस्ट्री के साथ हूँ (With My Industry)।”

साभार: kareena kapoor instagram

प्रोड्यूसर गिल्ड ऑफ इंडिया को बॉलीवुड अभिनेत्री और अनिल कपूर की बेटी सोनम कपूर का भी साथ मिला। सोनम कपूर ने इस चिट्ठी को अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर करते हुए एकजुटता दिखाई।

इसके अलावा बॉलीवुड अभिनेत्री और शत्रुघ्न सिन्हा की बेटी सोनाक्षी सिन्हा ने भी इसका समर्थन किया है। इसमें स्वरा भास्कर का भी नाम शामिल है।

अपने स्टेटमेंट में गिल्ड ने कहा, “पिछले कुछ महीनों से सभी मीडिया द्वारा भारतीय फिल्म उद्योग की प्रतिष्ठा पर लगातार हमला किया जा रहा है। एक होनहार युवा कलाकार की दुखद मृत्यु को कुछ लोग फिल्म उद्योग और उसके सदस्यों का नाम बदनाम करने के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं।”

बयान में कहा गया है कि एक युवा एक्टर के मौत को कुछ लोगों ने बॉलीवुड को किसी भयानक और अंधकार भरी जगह साबित करने का हथियार बना लिया है, जहाँ शोषण और अपराध ही होता है। ऐसा दिखाया जा रहा है कि बॉलीवुड में बाहर से आने वाले लोगों को समझौतों और शर्तों के बिना कहीं पहुँचने नहीं दिया जाता और उनसे भेदभाव किया जाता है। जाहिर है ऐसी धारणाओं को मीडिया संस्थाएँ अपनी रेटिंग्स बढ़ाने में इस्तेमाल करती हैं। लेकिन यह सब कुछ गलत है।

गिल्ड ने लिखा है, “इंडस्ट्री ने लाखों लोगों को रोजगार दिया है। टूरिज़्म को बढ़ावा दिया है। 100 सालों से ज्यादा से सबका मनोरंजन करती आ रही है और दुनिया भर की कलाओं का प्लेटफॉर्म देती आ रही है। जब भी जरूरत पड़ी है, इंडस्ट्री ने हमेशा मदद के लिए हाथ बढ़ाए हैं।”

गौरतलब है कि एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के बाद बॉलीवुड में नेपोटिज्म को लेकर बहस छिड़ी हुई है। पिछले दिनों सोशल मीडिया पर लोगों ने आरोप लगाया था कि ‘भाई-भतीजावाद’ की वजह से ही सोनम फिल्म इंडस्ट्री का हिस्सा हैं। इसके बाद सोनम कपूर ने फादर्स डे के मौके पर ट्विटर पर नेपोटिज्म का बचाव करते हुए कहा था कि अनिल कपूर की बेटी होने पर उन्हें गर्व है। उन्हें यह बात कहने में हिचक नहीं है कि अपने कर्म की वजह से वह उनके घर पैदा हुईं और इसका उन्हें फायदा हुआ।

हर मुद्दे पर अपनी राय काफी मुखर होकर रखने वाली अभिनत्री कंगना रनौत ने पिछले दिनों इंडस्ट्री के फिल्म-माफियाओं को लताड़ लगाते हुए कहा था कि इस काम में ऐसे गिरोह हैं जिनका लक्ष्य राजनीतिक एजेंडे को आगे बढ़ाना है। सुप्रीम कोर्ट द्वारा सुशांत सिंह राजपूत के मामले को सीबीआई को हस्तांतरित करने के बाद रिपब्लिक टीवी के प्रमुख अर्नब गोस्वामी से बात करते हुए, बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत ने कहा कि जावेद अख्तर, नसीरुद्दीन शाह जैसे लोगों को फिल्म उद्योग में भाई-भतीजावाद और पक्षपात की मानसिकता को स्थापित करने के लिए काम किया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद दोहराया इतिहास, टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुँची: अब पदक से एक कदम दूर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 41 साल बाद टीम सेमीफाइनल में पहुँची है।

पीवी सिंधु ने ओलम्पिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता: वेटलिफ्टिंग और बॉक्सिंग के बाद बैडमिंटन ने दिलाया देश को तीसरा मेडल

भारत की बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने टोक्यो ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता। चीनी खिलाड़ी को 21-13, 21-15 से हराया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,514FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe