Thursday, July 18, 2024
Homeविविध विषयअन्यएशियन गेम्स में पाकिस्तान को भारत ने चटाई धूल, स्क्वैश टीम ने अपने नाम...

एशियन गेम्स में पाकिस्तान को भारत ने चटाई धूल, स्क्वैश टीम ने अपने नाम किया स्वर्ण पदक: टेनिस में भी गोल्ड, 36 मेडल के साथ तालिका में चौथे स्थान पर भारत

चीन के हांगझोउ में खेले जा रहे 19वें एशियन गेम्स के 7वें दिन यानी 30 सितंबर को भी भारतीय खिलाड़ियों का शानदार प्रदर्शन जारी है।


एशियन गेम्स 2023 (Asian Games) में भारत की स्क्वैश टीम ने पाकिस्तान को मात देते हुए गोल्ड मेडल अपने नाम किया है। भारत ने फाइनल में 0-1 से पिछड़ने के बाद, 2-1 से जीत दर्ज की। इससे पहले रोहन बोपन्ना और रुतुजा भोसले की जोड़ी ने ताइवान के लो हाओ और सुओ को हराते हुए टेनिस में गोल्ड मेडल जीता था। इस तरह से भारत के खाते में अब तक 10 गोल्ड, 13 सिल्वर और 13 ब्रॉन्ज मेडल आ चुके हैं।

चीन के हांगझोउ में खेले जा रहे 19वें एशियन गेम्स के 7वें दिन यानी 30 सितंबर को भी भारतीय खिलाड़ियों का शानदार प्रदर्शन जारी है। स्क्वैश टीम के लिए फाइनल की शुरुआत अच्छी नहीं रही। पहले सेट में महेश मनगाँवर को पाकिस्तानी खिलाड़ी नासिर इकबाल के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। इसके बाद दूसरे मैच में भारतीय स्क्वैश स्टार सौरव घोषाल ने शानदार खेल दिखाते हुए मोहम्मद आसिम खान को मात देते हुए भारत को मुकाबले में वापस ला दिया।

इसके बाद तीसरे सेट में अभय सिंह ने पाकिस्तानी नूर जमाँ को हराते हुए एशियन गेम्स 2023 का 10वाँ गोल्ड मेडल भारत झोली में डाल दिया। इससे पहले भारतीय टेनिस स्टार और ओलंपियन रोहन बोपन्ना और रुतुजा भोसले की जोड़ी ने भी गोल्ड मेडल अपने नाम किया। मिक्स्ड डबल्स के फाइनल में भारत का मुकाबला ताइवान की सुंग हाओ ऑड एन शुओ की जोड़ी से हुआ। जहाँ भारत ने ताइवान को सीधे सेटों में 2-6, 6-3 से मात देते हुए जीत दर्ज की।

एशियन गेम्स में भारत के नाम 10 गोल्ड


एशियन गेम्स 2023 में भारतीय खिलाड़ियों ने अब तक 36 मेडल जीते हैं। इसमें से 10 गोल्ड, 13 सिल्वर और 13 ब्रॉन्ज मेडल हैं। भारत को शूटिंग में सबसे अधिक 19 मेडल मिले हैं। इसमें 6 गोल्ड, 8 सिल्वर और 5 ब्रॉन्ज शामिल हैं। रैंकिंग की बात करें तो भारत चौथे नंबर है। वहीं, 107 गोल्ड के साथ चीन पहले, 28 गोल्ड के साथ जापान दूसरे और 27 गोल्ड के साथ कोरिया तीसरे नंबर पर है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

साथियों ने हाथ-पाँव पकड़ा, काज़िम अंसारी ने ताबतोड़ घोंपा चाकू… धराया VIP अध्यक्ष मुकेश सहनी के पिता का हत्यारा, रात के डेढ़ बजे घर...

घटना की रात काज़िम अंसारी ने 10-11 बजे के बीच रेकी भी की थी जो CCTV में कैद है। रात के करीब डेढ़ बजे ये लोग पीछे के दरवाजे से घर में घुसे।

प्राइवेट नौकरियों में 75% आरक्षण वाले बिल पर कॉन्ग्रेस सरकार का U-टर्न, वापस लिया फैसला: IT कंपनियों ने दी थी कर्नाटक छोड़ने की धमकी

सिद्धारमैया के फैसले का भारी विरोध भी हो रहा था, जिसकी वजह से कॉन्ग्रेसी सरकार बुरी तरह से घिर गई थी। यही नहीं, इस फैसले की जानकारी देने वाले ट्वीट को भी मुख्यमंत्री को डिलीट करना पड़ा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -