Tuesday, September 28, 2021
Homeविविध विषयअन्यभारत की GDP में अप्रैल-जून में हुई 20% से अधिक की दर से बढ़ोतरी:...

भारत की GDP में अप्रैल-जून में हुई 20% से अधिक की दर से बढ़ोतरी: ग्रोथ रेट ने तोड़े अब तक के सभी पुराने रिकॉर्ड

सरकार ने मंगलवार (31 अगस्त) को जीडीपी के ताजा आँकड़े जारी किए गए हैं। वित्त वर्ष 2022 की पहली तिमाही यानी अप्रैल 2021 से जून 2021 में भारत की जीडीपी की ग्रोथ में 20.1 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है।

अप्रैल से जून 2021 के दौरान यानी मौजूदा वित्त वर्ष की पहली तिमाही में देश की जीडीपी ग्रोथ रेट में 20 फीसदी से ज्यादा का उछाल देखने को मिला है। पिछले साल कोरोना म​हामारी के कारण देश की जीडीपी में गिरावट दर्ज की गई थी, लेकिन अब इसमें सुधार दिखने लगा है।

सरकार ने मंगलवार (31 अगस्त) को जीडीपी के ताजा आँकड़े जारी किए गए हैं। वित्त वर्ष 2022 की पहली तिमाही यानी अप्रैल 2021 से जून 2021 में भारत की जीडीपी की ग्रोथ में 20.1 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है।

आँकड़ों के अनुसार 2021-22 की पहली तिमाही में जीडीपी 32.38 लाख करोड़ रुपए रही है, जो 2020-21 की पहली तिमाही में 26.95 लाख करोड़ रुपए थी। यानी साल दर साल के आधार पर जीडीपी में 20.1 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई है। पिछले साल अप्रैल-जून के दौरान देश की जीडीपी में 24.4 फीसदी की भारी गिरावट दर्ज की गई थी।

अर्थशास्त्रियों द्वारा पहले की गई भविष्यवाणियों के अनुसार, चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में देश की जीडीपी में 20.1 प्रतिशत की वृद्धि हुई, जबकि एक साल पहले इसी समय अवधि में कोरोनो महामारी की पहली लहर के दौरान लॉकडाउन के परिणामस्वरूप 24.4 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई थी। सकल घरेलू उत्पाद (GDP) के अलावा, सकल मूल्य वर्धित (Gross Value Added) भी पहली तिमाही में 18.8 प्रतिशत की दर से बढ़ा है।

बता दें कि 1990 के दशक के मध्य से आधिकारिक जीडीपी ग्रोथ रेट के आँकड़ों पर नजर डाले तो जीडीपी की इतनी शानदार ग्रोथ रेट कभी नहीं रही है। यानी पहली तिमाही में 20.1 प्रतिशत की जीडीपी वृद्धि सबसे अधिक तिमाही विस्तार है। यह वित्त वर्ष 2021 की चौथी तिमाही में दर्ज 1.6 प्रतिशत जीडीपी वृद्धि का लगभग 13 गुना है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरि के मौत के दिन बंद थे कमरे के सामने लगे 15 CCTV कैमरे, सुबूत मिटाने की आशंका: रिपोर्ट्स

पूरा मठ सीसीटीवी की निगरानी में है। यहाँ 43 कैमरे लगाए गए हैं। इनमें से 15 सीसीटीवी कैमरे पहली मंजिल पर महंत नरेंद्र गिरि के कमरे के सामने लगाए गए हैं।

अवैध कब्जे हटाने के लिए नैतिक बल जुटाना सरकारों और उनके नेतृत्व के लिए चुनौती: CM योगी और हिमंता ने पेश की मिसाल

तुष्टिकरण का परिणाम यह है कि देश के बहुत बड़े हिस्से पर अवैध कब्जा हो गया है और उसे हटाना केवल सरकारों के लिए कानून व्यवस्था की चुनौती नहीं बल्कि राष्ट्रीय सभ्यता के लिए भी चुनौती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,823FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe