Friday, July 19, 2024
Homeविविध विषयअन्यपहले फिल्म देखेंगे, फिर देंगे फैसला: गुजरात हाई कोर्ट में 'महाराज' पर सुनवाई, आमिर...

पहले फिल्म देखेंगे, फिर देंगे फैसला: गुजरात हाई कोर्ट में ‘महाराज’ पर सुनवाई, आमिर खान के बेटे की डेब्यू फिल्म में हिंदू संतों को दिखाया गया है यौनाचारी

जुनैद खान की फिल्म 'महाराज' 14 जून को रिलीज होने वाली थी, लेकिन मामला अदालत जाने के बाद फिल्म पर अस्थायी रोक लगा दी गई। अब इसी मुद्दे पर गुजरात हाई कोर्ट में सुनवाई चल रही है। जज ने कहा है कि वो कोई भी फैसला फिल्म देखने के बाद ही करेंगी।

आमिर खान के बेटे जुनैद खान की आने वाली फिल्म ‘महाराज’ की रिलीज रोकने को लेकर उठ रही माँग पर गुजरात हाईकोर्ट में सुनवाई हुई। अदालत ने इस दौरान कहा कि वो पहले ये फिल्म देखेंगे उसके बाद निर्णय लेंगे कि फिल्म पर रोक लगाई जानी चाहिए या फिर नहीं।

बार एंड बेंच की रिपोर्ट के अनुसार संगीता विशेन की एकल पीठ ने इस मामले पर सुनवाई करने के बाद कहा कि उन्होंने कोई भी निर्णय लेने से पहले फिल्म देखनी होगी, ताकि पता चले कि फिल्म में कहीं कोई धार्मिक भावनाएँ आहत तो नहीं की गईं, जैसा कि याचिकाकर्ता ने अपनी याचिका में कहा है।

उल्लेखनीय है कि जुनैद खान की यह फिल्म ‘महाराज’ 14 जून को रिलीज होने वाली थी, लेकिन मामला अदालत जाने के बाद फिल्म पर अस्थायी रोक लगा दी गई। बाद में  यशराज फिल्म्स और नेटफ्लिक्स ने भी ‘महाराज’ की स्ट्रीमिंग रोकने के गुजरात उच्च न्यायालय के आदेश को चुनौती दी जहाँ सुनवाई के दौरान वरिष्ठ वकील शालीन मेहता और जल उनवल्ला ने जज को इस केस पर कोई फैसला देने से पहले फिल्म देखने को कहा था। वहीं अदालत ने पिछली सुनवाई में कहा था कि वे कि वे यशराज फिल्म्स और नेटफ्लिक्स के सुझावों के बाद फिल्म देखेंगे। आज न्यायाधीश ने इस सुझाव को स्वीकार कर लिया और कहा कि वह फिल्म देखकर ही निर्णय लेंगी।

बता दें कि ये फिल्म ‘महाराज लिबेल केस’ पर बन रही है। ये मामला धर्मगुरु जदुनाथजी बृजरतनजी महाराज से जुड़ा हुआ है, जिन्होंने सन् 1862 में गुजराती अख़बार ‘सत्यप्रकाश’ नामक अख़बार में करसंदास मूलजी द्वारा लिखे गए एक लेख को लेकर मानहानि का मामला दर्ज करवाया था। इस लेख में वैष्णव पंथ के ‘पुष्टिमार्ग’ (वल्लभ संप्रदाय) के साधुओं के खिलाफ गंभीर आरोप लगाए गए थे। आरोप लगाया गया था कि जदुनाथजी के कई महिलाओं से यौन संबंध हैं और लोगों को अपनी भक्ति साबित करने के लिए अपनी पत्नी साधुओं को सौंपनी पड़ती है।

जहाँ जुनैद खान इस फिल्म में उक्त पत्रकार का रोल करेंगे और हीरो होंगे, वहीं विलेन के रूप में एक हिन्दू साधु को दिखाया जाएगा जिसका रोल जयदीप अहलावत अदा करेंगे। फिल्म का पोस्टर रिलीज करते हुए बताया गया है कि आखिरकार 162 वर्षों बाद दिखाया जाएगा कि कैसे एक व्यक्ति ने अपने संकल्प की शक्ति से यथास्थिति को चुनौती दी। 1994 में जन्मे जुनैद खान आमिर खान और उनकी पहली पत्नी रीना दत्ता के बेटे हैं। आमिर खान अपने बेटे और साई पल्लवी को लेकर एक और फिल्म बना रहे हैं।

याचिकाकर्ताओं का इस विषय पर कहना है कि 1862 के मामले में, जिसका निर्णय बॉम्बे सुप्रीम कोर्ट के अंग्रेज न्यायाधीशों द्वारा किया गया था, हिंदू धर्म, भगवान कृष्ण और भक्ति गीतों और भजनों के बारे में गंभीर रूप से ईशनिंदा वाली टिप्पणियाँ की गई थीं। इसके अलावा याचिकाकर्ताओं ने ये भी कहा कि फिल्म को बिन किसी ट्रेलर या प्रमोशन कार्यक्रम के रिलीज किया जा रहा है ताकि इसकी कहानी लोगों से छिपी रहे। अगर फिल्म रिलीज हुई तो उनकी धार्मिक भावनाएँ आहत होंगी। फिल्म की रिलीज को रोकने के लिए सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से तत्काल अपील करने के बावजूद उन्हें कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -