Tuesday, July 16, 2024
Homeविविध विषयअन्यहैट्रिक छक्का मार कर 200 रन… शुभमन गिल ने तेंदुलकर-कोहली सबका रिकॉर्ड तोड़ डाला

हैट्रिक छक्का मार कर 200 रन… शुभमन गिल ने तेंदुलकर-कोहली सबका रिकॉर्ड तोड़ डाला

बड़ी बात ये रही कि शुभमन गिल जब 182 के स्कोर पर थे, तब उन्होंने हैट्रिक छक्के जमा कर अपना दोहरा शतक पूरा किया। अगले ओवर में आउट होने से पहले उन्होंने एक और छक्का जड़ डाला।

भारतीय सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल ने न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे मैच में दोहरा शतक जमा कर कर रिकॉर्ड्स ध्वस्त के दिए हैं। याद हो कि उन्होंने पिछले मैच में श्रीलंका के विरुद्ध भी शतक जड़ा था। लेकिन, इस बार ये स्पेशल है क्योंकि वो सोहरा शतक जमाने वाले पाँचवें बल्लेबाज बन गए हैं। उनसे पहले सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग, रोहित शर्मा (3 बार) और ईशान किशन ये कारनामा कर चुके हैं। शुभमन गिल ODI में सबसे तेज़ 1000 रन पूरे करने वाले बल्लेबाजों की सूची में भी शुमार हो गए हैं।

शुभमन गिल की 149 गेंदों पर 208 रनों की पारी की बदौलत भारत ने 8 विकेट पर 349 रनों का बड़ा स्कोर खड़ा किया। ये कितनी बड़ी पारी थी, इसे इसी से समझ लीजिए कि भारत की तरफ से दूसरे हाइएस्ट स्कोरर रोहित शर्मा रहे, जिन्होंने 34 रन बनाए। इस तरह शुभमन गिल और उनके स्कोर के बीच 174 रनों का फासला रहा। मात्र 23 साल 132 दिन की उम्र में शुभमन गिल ODI में दोहरा शतक जमाने वाले सबसे युवा बल्लेबाज बन गए हैं।

बड़ी बात ये रही कि शुभमन गिल जब 182 के स्कोर पर थे, तब उन्होंने हैट्रिक छक्के जमा कर अपना दोहरा शतक पूरा किया। अगले ओवर में आउट होने से पहले उन्होंने एक और छक्का जड़ डाला। उन्होंने अपनी पारी में 19 चौके और 9 छक्के लगाए। ये वनडे मैचों में न्यूजीलैंड के खिलाफ सबसे बड़ा व्यक्तिगत स्कोर है। शुभमन गिल ने सचिन तेंदुलकर के 186 नॉट आउट का रिकॉर्ड तोड़ा। वो मैच के अंतिम ओवर में आउट हुए।

ODI में सबसे तेज़ 1000 रन पूरा करने वाले बल्लेबाजों की बात करें तो इस सूची में शुभमन गिल तीसरे स्थान पर पहुँच गए हैं, जिन्होंने मात्र 19 मैचों में ये कारनामा किया। इस सूची में विराट कोहली 16वें नंबर पर, एमएस धोनी 55वें नंबर पर और सचिन तेंदुलकर 127वें नंबर पर हैं। शुभमन गिल काफी कम समय में ODI में 3 शतक जमा चुके हैं। टेस्ट मैचों में भी उनके नाम एक सेंचुरी दर्ज है। वनडे में उनका 68.88 का औसत है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी फैसले की प्रतीक्षा में कन्हैयालाल का परिवार, नूपुर शर्मा पर भी खतरा; पर ‘सर तन से जुदा’ की नारेबाजी वाले हो गए...

रिपोर्ट में यह भी कहा गया था कि गौहर चिश्ती 17 जून 2022 को उदयपुर भी गया था। वहाँ उसने 'सर कलम करने' के नारे लगवाए थे।

किसानों के प्रदर्शन से NHAI का ₹1000 करोड़ का नुकसान, टोल प्लाजा करने पड़े थे फ्री: हरियाणा-पंजाब में रोड हो गईं थी जाम

किसान प्रदर्शन के कारण NHAI को ₹1000 करोड़ से अधिक का नुकसान झेलना पड़ा। यह नुकसान राष्ट्रीय राजमार्ग 44 और 152 पर हुआ है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -