Friday, July 19, 2024
Homeविविध विषयअन्य'खेल से पहले भारतीय खिलाड़ियों का बल्ला न चेक करें': वसीम अकरम की Pak...

‘खेल से पहले भारतीय खिलाड़ियों का बल्ला न चेक करें’: वसीम अकरम की Pak टीम को सलाह, टॉस हारी भारतीय टीम

खेल के बाद आप जाकर उनकी गोदी में बैठ सकते हैं, वो आपकी गोदी में बैठ सकते हैं। लेकिन, खेल से पहले दूरी बनाए रखिए।"

T20 विश्व कप में भारत का पहला ही मुकाबला रविवार (24 अक्टूबर, 2021) को पाकिस्तान से है। पाकिस्तान की टीम ने टॉस जीत कर गेंदबाजी का निर्णय लिया है। यानी, भारतीय टीम पहले बल्लेबाजी करेगी।

पाकिस्तान के पूर्व दिग्गज गेंदबाज वसीम अकरम ने अपनी टीम के खिलाड़ियों को एक महत्वपूर्ण सलाह दी है। उन्होंने अपनी टीम से कहा है कि वो भारत से मैच से पहले जाकर उनके बल्ले न चेक करें। उन्होंने कहा कि भारतीय टीम के खिलाड़ी वरिष्ठ हैं और बड़े क्राउड के सामने खेलते हैं। उन्होंने याद दिलाया कि हाल ही में भारतीय टीम के खिलाड़ी IPL खेल कर लौटे हैं, तो इससे भी बड़ा फर्क पड़ता है।

उन्होंने अपनी टीम के बारे में कहा, “मेरी पाकिस्तान की टीम से सलाह है कि खेल से पहले आप विपक्षी खिलाड़ियों से हाथ-वाथ मिलाओ, हाय-हैलो करो, लेकिन उनका बल्ले चेक करने के लिए मत पहुँच जाओ कि यार तेरा बल्ला बहुत अच्छा है, दो बल्ले दे दे। उनकी धाक में मत रहो। खेल के बाद आप जाकर उनकी गोदी में बैठ सकते हैं, वो आपकी गोदी में बैठ सकते हैं। लेकिन, खेल से पहले दूरी बनाए रखिए।”

वसीम अकरम ने अपनी टीम को सलाह दी है कि वो खेल से पहले भारतीय खिलाड़ियों को हैलो करें, उन्हें सलाम करें, लेकिन अपने खेल पर ध्यान केंद्रित करो और अपनी टीम के साथ रहो। पाकिस्तान की एक टीवी चैनल पर T20 विश्व कप में भारत-पाकिस्तान मुकाबले से पहले एक चर्चा के दौरान उन्होंने ये बातें कही। चर्चा चल रही थी कि आखिर भारत से मैचों में पाकिस्तानी टीम पर इतना दबाव क्यों होता है।

बता दें कि ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा ने बताया था कि वह फाइनल राउंड की शुरुआत में अपने भाले को खोज रहे थे और उन्हें वह मिल नहीं रहा था। तभी, उन्होंने पाकिस्तानी एथलीट अरशद नदीम को अपने जैवलीन के साथ घूमते देखा। चोपड़ा ने नदीम से फौरन उनका भाला लौटाने को कहा। नदीम ने उन्हें उस भाले को दिया और फिर चोपड़ा ने खेल में पार्टिसिपेट किया। चोपड़ा कहते हैं कि इसी वाकये की वजह से वह पहली थ्रो के समय थोड़ा हड़बड़ाहट में थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ सब हैं भोले के भक्त, बोल बम की सेवा जहाँ सबका धर्म… वहाँ अस्पृश्यता की राजनीति मत ठूँसिए नकवी साब!

मुख्तार अब्बास नकवी ने लिखा कि आस्था का सम्मान होना ही चाहिए,पर अस्पृश्यता का संरक्षण नहीं होना चाहिए।

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -