Tuesday, July 16, 2024
Homeदेश-समाजAMU प्रोफेसर असद पर तीन तलाक का केस दर्ज: M.Tech कराने का वादा कर...

AMU प्रोफेसर असद पर तीन तलाक का केस दर्ज: M.Tech कराने का वादा कर किया निकाह, बाद में माँगने लगा ₹10 लाख दहेज, मारपीट भी की

महिला का आरोप है कि उसके ससुरालियों ने निकाह से पहले उसे एमटेक कराने का वादा किया था, लेकिन निकाह के बाद उसे उच्च शिक्षा दिलाना तो दूर वे उसे दहेज के लिए प्रताड़ित करने लगे।

उत्तर प्रदेश की अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) के एक असिस्टेंट प्रोफेसर (AMU Assistant Professor Aligarh) के खिलाफ (Triple Talaq case) क्वार्सी थाने में दहेज उत्पीड़न और बीवी को तीन तलाक देने का मुकदमा दर्ज हुआ है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, महिला का आरोप है कि उसके ससुरालियों ने निकाह से पहले उसे एमटेक कराने का वादा किया था, लेकिन निकाह के बाद उसे उच्च शिक्षा दिलाना तो दूर वे उसे दहेज (Dowry Case) के लिए प्रताड़ित करने लगे। जब यह मामला जब कोर्ट में पहुँचा तो, आरोपित शौहर उसे सड़क पर ही तीन बार तलाक बोल कर चला गया। बताया जा रहा है कि पुलिस ने फरहीन इजहार के ससुरालियों के खिलाफ केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

इकरा कॉलोनी पूल हाउस में रहने वाली फरहीन इजहार ने पुलिस को अपनी शिकायत में बताया कि उसका 9 नवंबर 2021 को अलीगढ़ मुस्लिम विश्विद्यालय (Aligarh Muslim University) के कंप्यूटर इंजीनियर संकाय के असिस्टेंट प्रोफेसर असद मोहम्मद से उसका निकाह हुआ था। निकाह से पूर्व ससुरालियों ने उसे एमटेक कराने का वादा किया था, लेकिन निकाह के बाद वे अपने वादे से मुकर गए और दहेज की माँग करने लगे। महिला ने यह भी बताया कि वे लोग उससे दहेज में दस लाख रुपए, जमीन और फ्लैट माँगने लगे। तरह-तरह के आरोप लगाकर उसे तंग किया जाने लगा और 14 फरवरी को दहेज की माँग पूरी न होने पर शौहर उसे मायके छोड़ गया।

मजबूरी में महिला ने अदालत का दरवाजा खटखटाया और ससुराल वालों पर घरेलू हिंसा, दहेज के लिए प्रताड़ित करने का मामला दर्ज करवाया। जब इसका नोटिस ससुराल में पहुँचा, तो ससुराली और बिफर गए। इसके बाद छह मई की सुबह जब वह निजामी पुलिया के पास से अपनी बहन-बहनोई के साथ कहीं जा रही थी, तभी उसका शौहर उसे सरेराह तीन तलाक बोलकर चला गया। इस मामले में शौहर के अलावा जेठ आलम, ननदोई अनस, सास-ससुर पर भी मुकदमा दर्ज कराया गया है। उन पर आरोप है कि उन्होंने पीड़िता को फोन पर धमकाया। इंस्पेक्टर क्वार्सी ने बताया कि दहेज उत्पीड़न व मुस्लिम विवाह अधिनियम की धाराओं तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जम्मू-कश्मीर के डोडा में 4 जवान बलिदान, जंगल में छिपे थे इस्लामी आतंकवादी: हिन्दू तीर्थयात्रियों पर हमला करने वाले आतंकी समूह ने ली जिम्मेदारी

जम्मू कश्मीर के डोडा में हुए आतंकी हमले में एक अफसर समेत 4 जवान वीरगति को प्राप्त हुए हैं। इस हमले की जिम्मेदारी कश्मीर टाइगर्स ने ली है।

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -