Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजजैसे मर गया अब्बा अतीक अहमद, वैसे ही बेटों को भी मरने का डर......

जैसे मर गया अब्बा अतीक अहमद, वैसे ही बेटों को भी मरने का डर… कोर्ट से लगाई गुहार: जेल से अदालत के बीच माँगी ‘कड़ी सुरक्षा’

जेल में बंद माफिया अतीक अहमद के 2 बेटों उमर और अली अहमद को भी उनके अब्बा जैसा अंजाम होने की फ़िक्र सता रही है। उन्होंने आशंका जताई है कि उन पर भी ठीक वैसे ही हमला हो सकता है जैसे उनके अब्बा अतीक और चाचा अशरफ पर हुआ था।

जेल में बंद माफिया अतीक अहमद के 2 बेटों उमर और अली अहमद को भी उनके अब्बा जैसा अंजाम होने की फ़िक्र सता रही है। इन दोनों ने अदालत से गुहार लगाई है कि उनको पेशी के दौरान कड़ी सुरक्षा मुहैया करवाई जाए।

उमर अहमद लखनऊ और अली फिलहाल प्रयागराज की नैनी जेल में बंद है। उमेश पाल हत्याकांड में उमर और अली अहमद को भी पुलिस ने संलिप्त माना है। वहीं अतीक के 2 अन्य कथित नाबालिग बेटों की भी उमेश पाल की हत्या केस में भूमिका की जाँच करवाई जा रही है। इन सभी पर उमेश पाल हत्याकांड के अलावा भी कई अन्य मुकदमे विचाराधीन हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अतीक के लखनऊ जेल में बंद बेटे उमर और नैनी जेल में बंद अली अहमद का वॉरंट बी (जिस केस में अपराधी जेल में बंद हो, उससे अलग मामले का वॉरंट, ताकि जमानत मिलने पर भी आरोपित को जेल से छोड़ा न जाए) पुलिस ने दाखिल किया है। अब दोनों की SC/ST कोर्ट में पेशी होनी है। पेशी के बाद पुलिस उमेश पाल हत्याकांड में चार्जशीट दाखिल करेगी।

माना जा रहा है कि उमेश पाल हत्याकांड की इस चार्जशीट में अली और उमर अहमद को भी साजिश रचने वालों के तौर पर आरोपित किया जा सकता है। इसी पेशी से पहले अली और उमर अहमद ने अदालत में प्रार्थना पत्र देकर अपनी सुरक्षा की गुहार लगाई है। उन्होंने आशंका जताई है कि उन पर भी ठीक वैसा ही हमला हो सकता है, जैसा उनके अब्बा अतीक और चाचा अशरफ पर हुआ था।

अतीक के 2 अन्य नाबालिग बेटे अपनी बुआ के घर रह रहे हैं। उमेश पाल हत्याकांड में इन दोनों की भी मिलीभगत है या नहीं, पुलिस इसकी जाँच में जुटी है। दोषी पाए जाने पर इन दोनों का भी नाम आरोपपत्र में शामिल किया जा सकता है।

अतीक का 5वाँ बेटा असद पुलिस मुठभेड़ में मारा जा चुका है। वहीं अस्पताल में एक हमले के दौरान मारे गए अतीक अहमद की बीवी शाइस्ता व अशरफ की बेगम जैनब फिलहाल फरार चल रही हैं। पुलिस को इन दोनों की उमेश पाल हत्याकांड में तलाश है। अतीक अहमद के तमाम रिश्तेदारों को मिला कर अब तक उमेशपाल हत्याकांड में कुल 26 लोगों को आरोपित किया जा चुका है।

इन 26 साजिशकर्ताओं में 12 फ़िलहाल जेल में हैं। जेल काट रहे आरोपितों के नाम अखलाख अहमद, सौलत हनीफ खान, विजय मिश्र, राकेश, कैश अहमद, सदाकत खान, उमर अहमद, अली अहमद, इक़बाल अहमद, नियाज अहमद, शाहरुख़ और मोहम्मद अरशद हैं। इसके अलावा इसी केस में 7 आरोपित फरार चल रहे हैं। इनके नाम गुड्डू मुस्लिम, शाइस्ता परवीन, साबिर, जैनब फातिमा, खालिद जफर, आयशा नूरी और अरमान हैं।

इन सभी के अलावा उमेश पाल हत्याकांड में शामिल 7 अन्य आरोपित मुठभेड़ व अन्य हमलों में मारे जा चुके हैं। इनके नाम असद अहमद, अतीक अहमद, अशरफ, उस्मान उर्फ़ विजय चौधरी, नफीस बिरयानी, गुलाम और अरबाज़ हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -