Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजअयोध्या: समीउल्लाह के घर में था बारूद का जखीरा, धमाके से मकान धराशायी; पुलिस...

अयोध्या: समीउल्लाह के घर में था बारूद का जखीरा, धमाके से मकान धराशायी; पुलिस ने 9 बोरे विस्फोटक बरामद भी किए

धमाके से आसपास के गाँव के लोग डर गए। विस्फोट कैसे हुआ इसको ले कर क्षेत्र में कई तरह की चर्चाएँ हैं। फिलहाल पुलिस विस्फोट के सही कारणों का पता लगा रही है।

उत्तर प्रदेश के अयोध्या में एक मकान में जोरदार विस्फोट हुआ। इसके कारण इमरान नाम का एक युवक घायल हो गया है। धमाके की आवाज काफी दूर तक सुनाई दी। मकान मालिक का नाम समीउल्लाह बताया जा रहा है। पुलिस ने घटनास्थल से पटाखे बनाने वाले विस्फोटक बरामद किए हैं। घटना गुरुवार (7 जुलाई 2022) की है।

घटना हैरिंग्टनगंज क्षेत्र की है। DSP मिल्कीपुर सत्येंद्र भूषण तिवारी ने बताया, “मामला थाना इनायतनगर के गाँव सेमरा का है। रात में लगभग 9:45 पर पुलिस को एक मकान में सिलेंडर में ब्लास्ट की सूचना मिली थी। पुलिस ने मौके पर पहुँच कर पड़ताल की तो पता चला कि वह सलीमुल्लाह का मकान है। उसके बेटे इमरान के चेहरे और कंधे पर चोटें आईं है। घायल को इलाज के लिए अस्पताल भेज दिया गया है।”

DSP ने आगे कहा, “मौके से पुलिस ने पटाखा और आतिशबाजी बनाने से जुड़ी चीजें बरामद की हैं। घटनास्थल पर फील्ड यूनिट, फायर यूनिट और स्थानीय पुलिस मौजूद थी। मामले में अन्य जरूरी कानूनी कार्रवाई की जा रही है।”

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक घटनास्थल पुलिस चौकी से लगभग आधे किलोमीटर दूर है। विस्फोट से एक मकान धराशायी हो गया। पुलिस ने मौके से 9 बोरी विस्फोटक बरामद किया है। दावा किया जा रहा है कि घायल इमरान का परिवार आतिशबाजी बनाने का काम करता है। उसके यहाँ से आतिशबाजी बनाने के औजार भी मिले हैं। इमरान को स्थानीय लोग कल्लू नाम से बुलाते हैं। उसके घर वालों का कहना है कि मिटटी के गड्ढे में पानी भरने के दौरान ये हादसा हुआ था।

एक अन्य रिपोर्ट के मुताबिक धमाके से आसपास के गाँव के लोग डर गए। धमाके के बाद घटनास्थल पर भारी भीड़ जुट गई। विस्फोट कैसे हुआ इसको ले कर क्षेत्र में कई तरह की चर्चाएँ हैं। फिलहाल पुलिस विस्फोट के सही कारणों का पता लगा रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अखलाक की मौत हर मीडिया के लिए बड़ी खबर… लेकिन मुहर्रम पर बवाल, फिर मस्जिद के भीतर तेजराम की हत्या पर चुप्पी: जानें कैसे...

बरेली में एक गाँव गौसगंज में तेजराम नाम के एक युवक की मुस्लिम भीड़ ने मॉब लिंचिंग कर दी। इलाज के दौरान तेजराम की मौत हो गई।

‘वन्दे मातरम’ न कहने वालों को सेना के जवान और डॉक्टर ने Whatsapp ग्रुप में कहा – पाकिस्तान जाओ: सिद्दीकी ने करवा दी थी...

शिकायतकर्ता शबाज़ सिद्दीकी का कहना है कि सेना के जवान और डॉक्टर ने मुस्लिमों की भावनाओ को ठेस पहुँचाई है, उनके भीतर दुर्भावना थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -