Thursday, July 29, 2021
Homeदेश-समाजमहिला आयोग पहुँची पीड़िता बोली- 'शौहर ने कहा- अब्बा जवान है, सहयोग करो, उन्हें...

महिला आयोग पहुँची पीड़िता बोली- ‘शौहर ने कहा- अब्बा जवान है, सहयोग करो, उन्हें खुश रखना तुम्हारा फर्ज’

पीड़िता ने इस बात की शिकायत अपने शौहर से की तो उसने पहले तो मोबाईल छीन लिया और कहा कि मेरा अब्बा जवान है उनका सहयोग करो, अब्बा को खुश रखना तुम्हारा फर्ज है। वरना तुमको तलाक दे देंगे।

बिहार राज्य महिला आयोग में पहुँची एक पीड़िता मुस्लिम महिला ने बताया कि उसका शौहर उसे ससुर का सहयोग करने के लिए कहता है। वह कहता है कि अब्बा जवान हैं, उनका सहयोग करो, नहीं तो तलाक दे देंगे। ऐसा नहीं करने पर वह मेरे साथ मारपीट करते हैं। इससे परेशान मुस्लिम महिला ने अपने शौहर और ससुर के ख़िलाफ महिला आयोग में शिकायत की है।

बुधवार को बिहार राज्य महिला आयोग पहुँची पटना सिटी की नौशाबा खातून ने अपने शौहर और ससुर के खिलाफ शिकायत की। आयोग की सदस्य प्रतिमा के सामने पटना सिटी की रहने वाली पीड़िता ने बताया कि उसका निकाह 2012 में मुजफ्फरपुर के निवासी मोहम्मद जाफर के साथ हुआ था, जो कि दरभंगा में ही फ्रीज बनाने का काम करता है। निकाह के बाद पीड़िता नौशाबा अपने शौहर के साथ दरभंगा में रहने लगी है, लेकिन सास के इंतकाल के बाद पति उसे ससुराल लेकर गया, जहाँ वो कुछ दिनों तक रह कर वापस आ गई है।

पीड़िता के मुताबिक, वापस आने के बाद शौहर के बर्ताव में काफी बदलाव आया और वो हमेशा उसे ससुराल जाकर रहने को कहने लगा। इतना ही नहीं मना करने पर मार-पीट भी करने लगा। इस दौरान बीते साल ईद के त्यौहार पर ससुराल गई, तो पति ने उसे वहीं छोड़ दिया। उस वक्त ससुर पीड़िता को अकेला देखकर कभी देर रात रूम पर आ जाते, तो कभी बाथरूम में कपड़े धोते वक्त पीछे खड़े रहते। इतना ही नहीं ससुर मुझे अपना जूठा खाना खाने को कहते औऱ बोलते थे कि मेरा जूठा खाओगी तो मुझसे मुहब्बत हो जाएगी।

पीड़िता ने इस बात की शिकायत अपने शौहर से की तो उसने पहले तो मोबाईल छीन लिया और कहा कि मेरा अब्बा जवान है उनका सहयोग करो, अब्बा को खुश रखना तुम्हारा फर्ज है। वरना तुमको तलाक दे देंगे। इसके बाद किसी तरह से पीड़िता अपने मायके और वहाँ से राज्य महिला आयोग को दोनों के खि़लाफ लिखित में शिकायत देकर न्याय की गुहार लगाई। पीड़िता ने यह भी बताया कि मेरे ससुर का दो निकाह हुआ था और उनकी दोनों पत्नियाँ ही अल्लाह को प्यारी हो गयी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

Tokyo Olympics: 3 में से 2 राउंड जीतकर भी हार गईं मैरीकॉम, क्या उनके साथ हुई बेईमानी? भड़के फैंस

मैरीकॉम का कहना है कि उन्हें पता ही नहीं था कि वह हार गई हैं। मैच होने के दो घंटे बाद जब उन्होंने सोशल मीडिया देखा तो पता चला कि वह हार गईं।

मीडिया पर फूटा शिल्पा शेट्टी का गुस्सा, फेसबुक-गूगल समेत 29 पर मानहानि केस: शर्लिन चोपड़ा को अग्रिम जमानत नहीं, माँ ने भी की शिकायत

शिल्पा शेट्टी ने छवि धूमिल करने का आरोप लगाते हुए 29 पत्रकारों और मीडिया संस्थानों के खिलाफ बॉम्बे हाईकोर्ट में मानहानि का केस किया है। सुनवाई शुक्रवार को।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,882FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe