Sunday, July 14, 2024
Homeदेश-समाजमुरैना में 2 गोहत्यारों के घरों को बुलडोजर ने किया ध्वस्त: अब तक 6...

मुरैना में 2 गोहत्यारों के घरों को बुलडोजर ने किया ध्वस्त: अब तक 6 गिरफ्तार, 3 फरार… बोरी में मिला था मांस, बजरंग दल कार्यकर्ता पर किया था हमला

इन आरोपितों में से असगर और उसके ससुर रेतुआ पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) की भी धाराएँ लगाई गई हैं। प्रशासन की जाँच में असगर और जफ्फार के घर अवैध तौर पर बने पाए गए। गोकशी की इस घटना में फरार चल रहे 3 आरोपितों की तलाश जारी है।

मध्य प्रदेश के मुरैना जिले में प्रशासन ने बुधवार (26 जून 2024) को गो-हत्या के आरोपित जफ्फार खान और असगर खान के घरों पर बुलडोजर चला दिया है। इस मामले में कुल 9 आरोपित नामजद किए गए हैं, जिनमें से 6 को गिरफ्तार कर लिया गया है। फरार 3 गो-हत्यारों की तलाश जारी है। बजरंग दल ने कठोर कार्रवाई की माँग लेकर प्रदर्शन किया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह मामला मुरैना के थाना क्षेत्र नूराबाद का है। यहाँ 21 जून (शुक्रवार) को बजरंग दल ने बंगाली कॉलोनी स्थित एक घर में गोमांस होने की शिकायत की थी। तब गोकशी रोकने के प्रयास में दिलीप गुर्जर नाम के एक व्यक्ति पर आरोपितों ने हमला कर दिया था। इस घटना के विरोध में हिन्दू संगठनों ने पुलिस स्टेशन का घेराव करके नारेबाजी की थी।

सूचना मिलने पर पुलिस घटनास्थल पर पहुँची तो उसे एक बोरे में मांस भरा मिला। जाँच में यह मांस गाय का निकला। फ़ौरन ही शिकायत दर्ज करके कार्रवाई शुरू कर दी गई। इस घटना में पुलिस ने कुल 9 आरोपितों के खिलाफ नामजद FIR दर्ज की हैं। आरोपितों में जफ्फार खान, असगर खान, शम्मी, अफसर, रेतुआ, बिश्नोई, मौसम, इकरार और साहू शामिल हैं।

आरोपितों के खिलाफ IPC की विभिन्न धाराओं के साथ-साथ गोहत्या अधिनियम के तहत भी कार्रवाई की गई है। इनमें असगर और उसके ससुर रेतुआ पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) की भी धाराएँ लगाई गई हैं। प्रशासन की जाँच में असगर और जफ्फार के घर अवैध तौर पर बने पाए गए। गोकशी की इस घटना में फरार चल रहे 3 आरोपितों की तलाश जारी है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जगन्नाथ मंदिर के ‘रत्न भंडार’ और ‘भीतरा कक्ष’ में क्या-क्या: RBI-ASI के लोगों के साथ सँपेरे भी तैनात, चाबियाँ खो जाने पर PM मोदी...

कहा जाता है कि इसकी चाबियाँ खो गई हैं, जिस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी सवाल उठाया था। राज्य में भाजपा की पहली बार जीत हुई है, वर्षों से यहाँ BJD की सरकार थी।

मांस-मछली से मुक्त हुआ गुजरात का पालिताना, इस्लाम और ईसाइयत से भी पुराना है इस शहर का इतिहास: जैन मंदिर शहर के नाम से...

शत्रुंजय पहाड़ियों की यह पवित्रता और शीर्ष पर स्थित धार्मिक मंदिर, साथ ही जैन धर्म का मूल सिद्धांत अहिंसा है जो पालिताना में मांस की बिक्री और खपत पर प्रतिबंध लगाने की मांग का आधार बनता है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -